• Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • New Zealand's Color Also Changed As Soon As The Color Of The Ball Changed, Too Much Change In The Team Is Costing India

भास्कर क्रिकेट पॉडकास्ट:गेंद का रंग बदलते ही न्यूजीलैंड का रंग भी बदल गया, टीम में बहुत ज्यादा बदलाव भारत को महंगा पड़ रहा

नई दिल्ली2 महीने पहले

कानपुर में चल रहे पहले टेस्ट मैच का दूसरा दिन पूरी तरह न्यूजीलैंड के नाम रहा। टिम साउदी (69/5) की शानदार गेंदबाजी की बदौलत कीवी टीम ने भारत की पहली पारी को 345 रन पर समेट दिया। श्रेयस अय्यर (105 रन) के डेब्यू मैच में जमाए गए शतक के बावजूद टीम इंडिया 400 रनों का आंकड़ा नहीं छू सकी। इसके बाद न्यूजीलैंड के ओपनर्स ने उम्मीद के विपरीत स्पिन ट्रैक पर दमखम दिखाते हुए स्टंप्स तक बिना विकेट खोए 129 रन बना लिए हैं।

क्रिकेट एक्सपर्ट और दिग्गज कमेंटेटर सुशील दोषी ने अपने पॉडकास्ट में कहा कि गेंद का रंग बदलते ही न्यूजीलैंड की टीम रंगत में आ गई है। टी-20 सीरीज में कीवियों को 0-3 से हार झेलनी पड़ी थी, लेकिन इस टेस्ट मैच में वे कड़ी चुनौती पेश कर रहे हैं।

साउदी ने दिखाई मास्टर क्लास
दोषी ने कहा कि न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज टिम साउदी ने साबित किया है कि अनुभव का कोई मुकाबला नहीं है। वे महज 125-130 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से गेंदबाजी करते हैं, लेकिन बुद्धि का प्रयोग कर जिस तरह वे गेंदों में वैरिएशन लाते हैं, उससे भारतीय बल्लेबाज चकमा खा गए।

भारत ने बहुत ज्यादा बदलाव कर लिए
दोषी ने कहा कि इस मैच के लिए कई खिलाड़ियों को आराम देना भारत के लिए मुश्किलें पैदा कर रहा है। विराट, रोहित, पंत, बुमराह और शमी को आराम दिया गया है। वहीं, केएल राहुल चोटिल होने के कारण नहीं खेल रहे हैं। इनकी गैरहाजिरी में भारतीय टीम की बल्लेबाजी ने स्ट्रगल किया है।

पिच से खास मदद नहीं मिली
दिग्गज कमेंटेटर ने कहा कि कानपुर में पहले दो दिन के खेल में पिच से स्पिनर्स को खास मदद नहीं मिली है। ऐसी परिस्थितियों में जहां पिच से टर्न न मिले, सिर्फ अश्विन ही विकेट लेने में सक्षम दिखते हैं। अक्षर पटेल और रवींद्र जडेजा में अभी इस तरह की काबिलियत डेवलप नहीं हुई है।

अय्यर ने की खड़ूस अंदाज में बल्लेबाजी
दोषी ने कहा कि श्रेयस अय्यर ने अच्छी पारी खेलकर भारत को सम्मानजनक स्थिति में पहुंचाया। उन्होंने मुंबई की परंपरागत शैली में खड़ूस अंदाज में बल्लेबाजी की। मुंबई में क्रिकेट खेलने वाले बल्लेबाज शुरुआत में संभलकर खेलते हैं, लेकिन बाद में गेंदबाजी आक्रमण को तहस-नहस कर देते हैं।

अभी भी वापसी कर सकती है टीम इंडिया
दोषी को उम्मीद है कि भारतीय टीम मुकाबले में अभी भी वापसी कर सकती है। उन्होंने कहा कि भारत के खिलाड़ियों को धैर्य रखना होगा। इस पिच पर चौथे और पांचवें दिन गेंद काफी टर्न होती है। अगर भारतीय टीम तीसरे दिन अनुशासन और संयम बनाए रखे तो मैच में जोरदार वापसी की जा सकती है।