• Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • India Vs South Africa: Harbhajan Singh About Virat Kohli Ahead Of Third Test, I Hope His Century Drought Breaks In This Match

केपटाउन में आएगा विराट का 71वां शतक:हरभजन सिंह बोले- मुझे पूरी उम्मीद तीसरे टेस्ट में कोहली के शतक का सूखा खत्म होगा

नई दिल्ली16 दिन पहले

भारत और साउथ अफ्रीका के बीच तीसरा टेस्ट मैच आज से केपटाउन में खेला जाएगा। दूसरे टेस्ट में चोट के कारण बाहर रहे विराट कोहली तीसरे टेस्ट में वापसी कर रहे हैं। कोहली को लेकर टीम इंडिया के पूर्व दिग्गज स्पिनर हरभजन सिंह ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि विराट केपटाउन टेस्ट मैच में अपना 71वां शतक लगा सकते हैं।

बता दें कि विराट कोहली के बल्ले से पिछले दो साल में एक भी शतक नहीं निकला है। उन्होंने अब तक इंटरनेशनल क्रिकेट में 70 शतक लगाए हैं और सभी को उनके 71वें शतक का इंतजार है।

हरभजन ने कहा, 'विराट कोहली केपटाउन टेस्ट में वापसी करेंगे और मुझे उम्मीद है कि इस मैच में उनका शतक का सूखा खत्म होगा। एक लंबा समय हो गया है, जब हमने उनके बल्ले से शतक बनते देखा है। उम्मीद है कि उनके साथ पुजारा, रहाणे और अन्य सीनियर खिलाड़ी एक बार फिर अपना कमाल दिखाएंगे। रहाणे औरपुजारा ने पिछले मुकाबले में अर्धशतक जड़े लेकिन मैं उनसे इसे शतकों में बदलने की उम्मीद करूंगा।'

केपटाउन में दो स्पिनर हो टीम का हिस्सा
हरभजन का मानना है कि तीसरे टेस्ट मैच में टीम इंडिया दो स्पिनर के साथ उतरे। उन्होंने आगे कहा, 'जब हम 350-400 रन बना लेते हैं और अगर हमारे पास 2 स्पिनर हैं जो मैं मान रहा हूं क्योंकि उन्हें चाहिए तो भारत पूरी तरह से हावी हो सकता है। केएल राहुल अच्छी फॉर्म में हैं, मयंक अच्छी शुरुआत कर रहे हैं लेकिन उसे बड़ी पारी में नहीं बदल पा रहे हैं। मुझे उम्मीद है कि तीसरे टेस्ट में भारत अच्छा खेल दिखाएगा।'

अपनी बल्लेबाजी को लेकर विराट ने क्या कहा?
तीसरे टेस्ट से पहले हुए प्रेस कॉन्फ्रेंस में जब कोहली से उनके बल्लेबाजी को लेकर सवाल किया गया तो विराट ने कहा- यह पहली बार नहीं है कि मेरी बैटिंग पर सवाल उठे हैं। 2014 में इंग्लैंड दौरे के समय भी ऐसा हुआ था।

मुझे पता है कि मैं टीम के काफी अहम मोमेंट्स का हिस्सा रहा हूं। पिछले एक साल में भी मैं टीम के लिए कई महत्वपूर्ण पार्टनरशिप का हिस्सा रहा। मैं इस बात में यकीन रखता हूं कि मुझे किसी को कुछ साबित करने की जरूरत नहीं है। मेरे लिए यह महत्वपूर्ण नहीं है कि बाहर के लोग क्या कहते हैं।

खबरें और भी हैं...