वर्ल्ड कप / टीम इंडिया भले ही न हो लेकिन फाइनल में ज्यादातर भारतीय दर्शक ही होंगे; री-सेल में नहीं बेचे टिकट



भारत और पाकिस्तान के मुकाबले में करीब 78 फीसदी दर्शक भारतीय टीम के समर्थक थे। (फाइल) भारत और पाकिस्तान के मुकाबले में करीब 78 फीसदी दर्शक भारतीय टीम के समर्थक थे। (फाइल)
X
भारत और पाकिस्तान के मुकाबले में करीब 78 फीसदी दर्शक भारतीय टीम के समर्थक थे। (फाइल)भारत और पाकिस्तान के मुकाबले में करीब 78 फीसदी दर्शक भारतीय टीम के समर्थक थे। (फाइल)

  • 14 जुलाई को क्रिकेट के मक्का कहे जाने वाले लॉर्ड्स में खेला जाएगा विश्व कप 2019 का फाइनल
  • भारत की सेमीफाइनल में हार के बावजूद उसके ज्यादातर फैन्स ने अपने टिकट नहीं बेचे

Dainik Bhaskar

Jul 11, 2019, 06:37 PM IST

खेल डेस्क. विश्व कप क्रिकेट 2019 में टीम इंडिया का सफर सेमीफाइनल में खत्म हो गया। उसके फैन्स और टीम मायूस हैं। फाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ इंग्लैंड होगी या ऑस्ट्रेलिया, इसका फैसला गुरुवार रात को हो जाएगा। बहरहाल, फाइनल में कोई भी हो लेकिन इतना तो तय है कि इस मैच में भी दर्शक दीर्घा आपको भारतीय लोगों से समर्थकों से लबरेज नजर आएंगी। फाइनल के सारे टिकट पहले ही बिक चुके हैं और माना जा रहा है कि इनमें से ज्यादातर टिकट भारतीय या भारतीय मूल के लोगों के पास ही हैं। 

 

एक महीने ही बना लिया था प्रोग्राम
न्यूज एजेंसी ने आईसीसी के हवाले से कहा है कि टीम इंडिया के 90 फीसदी प्रशंसकों ने एक महीने पहले ही अपना वर्ल्ड कप शेड्यूल तय कर लिया था। विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम भले ही फाइनल की दौड़ से बाहर हो गई हो लेकिन ये प्रशंसक फाइनल का लुत्फ लेने के लिए लॉर्ड्स जरूर पहुंचेंगे। भारतीय टीम के समर्थकों की दीवानगी का आलम ये है कि मेजबान इंग्लैंड के खिलाफ हुए मैच में भी 60 फीसदी दर्शक भारतीय थे। ब्रिटिश मीडिया ने इस पर सवाल भी उठाए थे। इसी तरह पाकिस्तान के खिलाफ मैच में भी टीम इंडिया के समर्थक ही ज्यादा थे। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया है कि इस मैच में करीब 78 फीसदी दर्शक टीम इंडिया के फैन्स थे। जबकि पाकिस्तान टीम के प्रशंसकों की तादाद महज 11 फीसदी ही थी। 

 

टिकट बेचने को तैयार नहीं
आईसीसी ने विश्व कप के टिकट बेचने के बाद इनकी री-सेल का विकल्प भी रखा था और कुछ वेबसाइट्स को इनके अधिकार दिए थे। माना ये जा रहा था कि टीम इंडिया के सेमीफाइनल में हारने के बाद उसके समर्थक इन टिकट्स को री-सेल वेबसाइट पर बेच देंगे। हैरानी की बात ये है कि अब तक ऐसा नहीं हुआ। अब ये माना जा रहा है कि फाइनल में भारतीय मूल के दर्शक ही ज्यादा होंगे। इनमें कई देशों से आए भारतीय शामिल हैं। अब भारतीय मूल के ज्यादातर भारतीय दर्शक इंग्लैंड का समर्थन कर सकते हैं। हालांकि, अभी दूसरी टीम का तय होना बाकी है। 

 

आईसीसी ने क्या कहा?
आईसीसी के एक प्रवक्ता ने कहा, हम ये मानकर चल रहे थे कि री-सेल प्लेटफॉर्म पर अब काफी रिस्पॉन्स आएगा और कई लोग अपने टिकट बेच देंगे। लेकिन, फिलहाल ये नजर आ रहा है कि टिकट बेचने वालों की संख्या काफी कम है। इसका मतलब ये हुआ कि लोगों में अब भी विश्व कप को लेकर काफी रुचि बाकी है। हमको ये याद रखना चाहिए कि टीम इंडिया के ज्यादातर फैन्स ब्रिटेन के नागरिक हैं और अगर इंग्लैंड फाइनल में पहुंचती है तो ये उसका समर्थन करेंगे। अमेरिका, कनाडा और ऑस्ट्रेलिया से भी कई प्रशंसक विश्व कप के लिए इंग्लैंड पहुंचे हैं। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना