आईपीएल / 12 मई को चेन्नई की जगह हैदराबाद के राजीव गांधी स्टेडियम पर फाइनल होगा

Dainik Bhaskar

Apr 22, 2019, 06:36 PM IST



राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम। राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम।
X
राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम।राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम।

  • स्टेडियम के आई, जे, के स्टैंड्स के लिए सरकार से एनओसी नहीं ले पाया तमिलनाडु क्रिकेट संघ
  • 7 मई को चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम पर क्वालिफायर-1 खेला जाएगा
  • जयपुर में 6 से 10 मई के बीच खेले जाएंगे थ्री-टीम वुमन्स आईपीएल के मुकाबले

नई दिल्ली. इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें सीजन का फाइनल मुकाबला 12 मई को चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम की जगह हैदराबाद के राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम पर खेला जाएगा। चिदंबरम स्टेडियम के 3 स्टैंड्स बंद थे। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने तमिलनाडु क्रिकेट एसोसिएशन (टीएनसीए) को इन स्टैंड्स को खुलवाने के लिए सरकार से मंजूरी लेने के लिए कहा था, लेकिन राज्य क्रिकेट संघ इसमें नाकाम रहा।


हालांकि, चेन्नई सुपरकिंग्स यदि अंक तालिका में शीर्ष-2 में जगह बनाने में सफल रहती है तो उसके पास घरेलू मैदान पर क्वालिफायर-1 खेलने का मौका रहेगा। क्वालिफायर-1 का मैच 7 मई को चेन्नई में खेला जाएगा। वहीं, 8 मई को होने वाले एलिमिनेटर और 10 मई को होने वाले क्वालिफायर-2 के मुकाबले विशाखापट्टनम के डॉ. वाईएस राजशेखर रेड्डी स्टेडियम पर खेले जाएंगे।

 

तमिलनाडु एसोसिएशन ने अपनी असमर्थता जाहिर की : विनोद राय

बीसीसीआई की प्रशासकों की समिति (सीओए) के प्रमुख विनोद राय ने सोमवार को बताया, ‘टीएनसीए ने हमें बताया है कि वे तीन स्टैंड आई, जे और के खोलने के लिए अपेक्षित मंजूरी नहीं ले पाए हैं। इसके बाद हमने मुकाबलों को चेन्नई से हैदराबाद शिफ्ट किया।’ उन्होंने कहा, ‘चूकिं नॉकआउट मुकाबलों में टिकटों की बिक्री से होने वाली कमाई पर बीसीसीआई का विशेषाधिकार है, हम यह जिम्मेदारी लेंगे। हम विजाग (विशाखापट्टनम) में दो नॉकआउट मुकाबले कराएंगे।’

 

चेन्नई में फाइनल होने पर बीसीसीआई को होता करोड़ों का नुकसान

इन तीन स्टैंड्स के खुलने पर करीब 12 हजार अतिरिक्त टिकटों की बिक्री होती। चूंकि ऐसा नहीं हो पाया है, ऐसे में बीसीसीआई को वहां मैच कराने पर कुछ करोड़ रुपए का नुकसान होगा। ये स्टैंड्स दिसंबर 2012 से बंद हैं। दिसंबर 2012 में भारत और पाकिस्तान के बीच यहां मैच खेला गया था।

 

डिफेंडिंग चैम्पियन होने के कारण एक नॉकआउट मैच चेन्नई में होना जरूरी 

यह पूछने पर कि जब सभी नॉकआउट मुकाबलों की टिकट बिक्री पर बीसीसीआई का विशेषाधिकार है, तो फिर क्वालिफायर-1 चेन्नई में क्यों कराने का फैसला किया गया। इस पर राय ने कारण बताया, ‘चेन्नई सुपरकिंग्स के डिफेंडिंग चैम्पियन होने के कारण क्वालिफायर-1 या फाइनल मैच उनके घरेलू मैदान पर ही कराया जाना था। अब यदि वे लीग मैच के बाद टॉप-2 में जगह बनाने में सफल रहते हैं तो आप उनके सभी मुकाबले दूसरे मैदान पर नहीं करा सकते हैं। वे कम से कम एक नॉकआउट मैच घरेलू मैदान पर खेलने के हकदार हैं।’

 

हैदराबाद में नहीं हो सकते एलिमिनेटर या क्वालिफायर मैच

हैदराबाद में फाइनल इसलिए कराने का फैसला किया गया, क्योंकि वहां चुनाव के कारण एलिमिनेटर या क्वालिफायर मैच नहीं हो सकते हैं। हैदराबाद में 6, 8 और 10 मई को लोकसभा चुनाव होने हैं।

 

जयपुर में थ्री-टीम मिनी वुमन्स आईपीएल

विनोद राय ने बताया कि थ्री-टीम मिनी वुमन्स आईपीएल के मुकाबले 6 से 10 मई तक जयपुर में कराए जाएंगे। पिछले साल आईपीएल के दौरान महिलाओं का एक टी-20 मैच हुआ था। इसमें सुपरनोवा और ट्रेलब्लेजर्स की टीमें उतरी थीं। इस बार इन दोनों टीमों के अलावा नई टीम वेलोसिटी होगी।

COMMENT