चेन्नई की टीम से नहीं खेलेंगे ब्रावो और क्रिस जॉर्डन:मयंक अग्रवाल को पंजाब ने रिलीज किया, SRH ने विलियमसन को छोड़ा

14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

चेन्नई सुपर किंग्स ड्वेन ब्रावो, अंबाती रायडू और क्रिस जॉर्डन को रिलीज कर सकती है। वहीं केन विलयमसन को सनराइजर्स हैदराबाद ने रिलीज कर दिया है। चेन्नई सुपर किंग्स ने वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान ड्वेन ब्रावो को IPL 2022 के मेगा ऑक्सन में 4.40 करोड़ रुपये में खरीदा था। ब्रावो डेथ ओवर के स्पेलिस्ट के साथ ही लोअर ऑर्डर के बल्लेबाज रहे हैं। पिछले IPL में उनका प्रदर्शन उम्मीद के मुताबिक नहीं रहा है। उन्होंने 10 मैचों के 6 इनिंग में 23 रन ही बनाए। वहीं उन्होंने 16 विकेट लिए थे। चेन्नई सुपर किंग्स पिछले IPLमें नौवें स्थान पर रही थी।

ब्रावो ने IPLके पिछले सीजन में 23 रन बनाने के साथ 16 विकेट लिए थे।
ब्रावो ने IPLके पिछले सीजन में 23 रन बनाने के साथ 16 विकेट लिए थे।

क्रिस जॉर्डन को 3.60 करोड़ में CSK ने खरीदा था

वहीं क्रिस जॉर्डन को CSK ने मेगा ऑक्सन में 3.60 करोड़ में खरीदा था। उनका प्रदर्शन भी उम्मीद के मुताबिक नहीं रहा। 4 मैचों में वह केवल 2 विकेट लेने में ही सफल हुए थे।

अंबाती रायडू ने पिछले सीजन में 25 की औसत से बनाए थे रन
अंबाती रायडू को CSK ने मेगा ऑक्सन में 6.75 करोड़ की बोली लगाकर अपने साथ जोड़ा था। पर अंबाती रायडू टीम की उम्मीदों पर खरा नहीं उतरे। वे 13 मैचों में लगभग 25 की औसत से 274 रन ही बनाए थे।

साथ छोड़ सकते हैं केन विलियमसन
न्यूजीलैंड के कैप्टन केन विलियमसन सनराइजर्स हैदराबाद का साथ छोड़ सकते हैं। मंगलवार को रिटेन खिलाड़ियों की लिस्ट सौंपने का आखिरी दिन है। उससे पहले विलियमसन ने एक क्रिकेट की वेबसाइट से बातचीत में कहा कि उन्होंने फ्रेंचाइजी को अवगत करा दिया है कि वह कंटीन्यू नहीं करना चाहते हैं। विलियमसन को 14 करोड़ में पिछले सीजन में रिटेन किया था। पिछले सीजन में 13 मैचों में उन्होंने 216 रन बनाए थे।

विलियमसन को 14 करोड़ में SRH ने पिछले सीजन में रिटेन किया था
विलियमसन को 14 करोड़ में SRH ने पिछले सीजन में रिटेन किया था

मयंक अग्रवाल को पंजाब किंग्स इलेवन ने रिलीज किया
पंजाब किंग्स ने मयंक अग्रवाल को रिलीज कर दिया है। साल 2022 में हुए आईपीएल के 15वें सीजन में मयंक अग्रवाल पंजाब किंग्स के कप्तान थे. हालांकि उनके कप्तानी में पंजाब किंग्स अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाई थी और टीम छठे नंबर पर रही थी.