हम अच्छी फील्डिंग नहीं कर सकते, लेकिन बल्लेबाजी और गेंदबाजी से इसे पूरा कर सकते हैं : धोनी

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • चेन्नई सुपरकिंग्स ने मंगलवार रात फिरोजशाह कोटला पर दिल्ली कैपिटल्स को 6 विकेट से हराया
  • चेन्नई के शेन वाटसन मैन ऑफ द मैच चुने गए, उन्होंने 26 गेंद पर 44 रन की पारी खेली

नई दिल्ली. चेन्नई सुपरकिंग्स इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की सबसे उम्रदराज टीम है। टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी भी इस सच्चाई से अवगत हैं और जानते हैं कि वे बेहतरीन फील्डिंग टीम नहीं बन सकते, लेकिन बल्लेबाजी और गेंदबाजी से इस कमी की भरपाई कर सकते हैं। चेन्नई ने मंगलवार रात इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में दिल्ली कैपिटल्स को 6 विकेट से हरा दिया।

 

जीत के बाद उन्होंने कहा, ‘हम अन्य क्षेत्रों में अच्छी तरह से मजबूत हैं। हम कभी भी एक बेहतरीन क्षेत्ररक्षक टीम नहीं होंगे, लेकिन हम एक सुरक्षित फील्डिंग टीम हो सकते हैं। हम जिस वक्त हम अपने अनुभव का इस्तेमाल करेंगे, हम इसे अपनी बल्लेबाजी और गेंदबाजी से पूरा करेंगे।’

 

फील्डिंग का दबाव डालने पर खिलाड़ियों के चोटिल होने का खतरा : धोनी

उन्होंने कहा, आप 11 खिलाड़ियों पर फील्डिंग का अतिरिक्त दबाव नहीं डाल सकते, जिससे वे चोटिल हो जाएं। हमने इस पर बहुत काम नहीं किया, इसलिए दूसरे क्षेत्रों पर काम करना है। हालांकि, यह एक अच्छी जीत रही। धोनी ने दिल्ली कैपिटल्स को 150 रन के अंदर रोकने के लिए अपने गेंदबाजों की भी प्रशंसा की।

 

चेन्नई के 8 प्रमुख खिलाड़ी 30+ उम्र के

चेन्नई की टीम धोनी खुद 37 साल के हैं। शेन वाटसन की उम्र 35, जबकि ड्वेन ब्रावो 34 साल के हैं। उनके मुख्य खिलाड़ी जैसे इमरान ताहिर 39 साल, हरभजन सिंह 38 साल, फाफ डुप्लेसिस 34 साल, अंबाती रायडू और केदार 33-33 साल के हैं। सुरेश रैना भी 32 साल के हो चुके हैं।

खबरें और भी हैं...