भारतीय क्रिकेट में एक्सपेरिमेंट / इरफान पठान ने कहा- मुझे नंबर-3 पर बल्लेबाजी के लिए प्रमोट करने का आइडिया सचिन का था, चैपल का नहीं

इरफान ने 29 टेस्ट में 100 और 120 वनडे में 173 विकेट लिए हैं। इन मैचों उन्होंने 1105 और 1544 रन बनाए हैं। -फाइल फोटो
X

  • इरफान पठान ने पहली बार तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए 2005 में श्रीलंका के खिलाफ 70 बॉल पर 83 रन बनाए थे
  • इस मैच में भारत ने श्रीलंका को 152 रन से हराया था, पठान ने कहा- मेरा करियर खत्म होने में ग्रेग चैपल का हाथ नहीं था

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 11:00 PM IST

भारत के पूर्व ऑलराउंडर इरफान पठान ने कहा कि उनसे तीन नंबर पर बल्लेबाजी का आइडिया सचिन तेंदुलकर ने दिया था। इसमें कोच ग्रेग चैपल का कोई हाथ नहीं था। पठान को पहली बार 2005 में श्रीलंका के खिलाफ वनडे में तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए भेजा गया था। इसमें उन्होंने 70 बॉल पर 83 रन बनाए थे। भारत यह मैच 152 रन से जीता था।

इसके बाद इरफान ने कई मैचों में टॉप आर्डर पर बल्लेबाजी की थी। वे भारतीय टीम में बतौर तेज गेंदबाज शामिल हुए थे। कई दिग्गजों का मानना है कि पहली पारी में अच्छा प्रदर्शन करने के बाद मैनेजमेंट ने उन्हें ऑलराउंडर के तौर पर तैयार करने का प्लान बनाया था। यही कारण है कि इरफान का करियर ज्यादा लंबा नहीं चल सका।

करियर खत्म करने में चैपल का हाथ नहीं

इरफान ने रौनक कपूर के साथ इंस्टाग्राम पर कहा, ‘‘मैंने संन्यास के बाद भी कई बार कहा कि मेरा करियर खत्म होने में ग्रेग चैपल का कोई हाथ नहीं है। जहां तक मुझे 3 नंबर पर बल्लेबाजी के लिए प्रमोट करने की बात थी, तो वह आइडिया चैपल का नहीं सचिन पाजी का था।’’

सिक्स मारने की काबिलियत के चलते प्रमोट हुए थे इरफान
उन्होंने कहा, ‘‘सचिन पाजी ने राहुल द्रविड़ (कप्तान) को मुझे 3 नंबर पर भेजने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि वह (इरफान) सिक्स मारने की ताकत रखते हैं, नई गेंद से तेजी से रन बना सकते हैं और तेज गेंदबाजों को भी अच्छी तरह से खेल सकते हैं, इसलिए उन्हें बल्लेबाजी में प्रमोट करना चाहिए।’’

चैपल भारतीय नहीं, इसलिए उन्हें टारगेट करना आसान
इरफान ने कहा, ‘‘जब मुथैया मुरलीधरन अपनी शानदार फॉर्म में थे, तब उन्हें बल्लेबाजी में पहली बार प्रमोट किया गया था। दिलहारा फर्नांडो भी स्पिलिट फिंगर के साथ स्लोअर बॉल कर रहे थे, जिससे बल्लेबाजों को काफी परेशानी हो रही थी। तब मुझे मुरलीधरन और फर्नांडो के खिलाफ आक्रामक बल्लेबाजी के लिए भेजा जाता था। ताकी टीम को फायदा हो सके। इसलिए यह कहना सही नहीं है कि चैपल ने मेरा करियर खराब किया। वे भारतीय नहीं थे, इसलिए उन्हें टारगेट करना आसान है।’’

पूर्व ऑलराउंडर इरफान ने 29 टेस्ट में 100 और 120 वनडे में 173 विकेट लिए हैं। इन मैचों उन्होंने 1105 और 1544 रन बनाए हैं। उनके नाम 24 टी-20 में 28 विकेट और 172 रन हैं। इरफान ने आईपीएल के 103 मैच में 80 विकेट लिए और 1139 रन बनाए हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना