क्रिकेट / 4 रन पर ऑलआउट हो गई अंडर-19 गर्ल्स की टीम, कोई भी बल्लेबाज खाता नहीं खोल पाई

X

  • मल्लापुरम के पेरिनथलमन्ना स्टेडियम पर कसारागोड और वायनाड के बीच हुआ यह मुकाबला
  • वायनाड की टीम ने पहले ओवर में बिना विकेट खोए 5 रन बनाकर मैच जीत लिया

May 16, 2019, 12:05 PM IST

कोच्चि. मल्लापुरम के पेरिनथलमन्ना स्टेडियम पर खेले गए लड़कियों के अंडर-19 के मैच में गुरुवार को कसारागोड की पूरी टीम महज 4 रन पर पवेलियन लौट गई। वायनाड के खिलाफ इस मुकाबले में कसारागोड की टीम की कोई भी बल्लेबाज खाता नहीं खोल पाई। यही नहीं, आउट होने वाली सभी बल्लेबाज क्लीन बोल्ड हुईं।

 

सभी बल्लेबाज बोल्ड हुईं

क्रिकेट के इतिहास में एक मैच की किसी पारी में सभी बल्लेबाजों के एक ही तरीके से आउट होने का शायद यह पहला मामला है। टीम के खाते में 4 रन विपक्षी टीम की गेंदबाजों के एक्स्ट्रा रन देने के कारण बने। वायनाड ने एक ओवर में जरूरी 5 रन बनाकर 10 विकेट से मैच जीत लिया।

 

कसारागोड का 2 ओवर तक एक भी विकेट नहीं गिरा था

इस मैच में कसारागोड की कप्तान एस अक्षता ने टॉस जीता और बल्लेबाजी का फैसला किया। हालांकि, उनका यह फैसला गलत साबित हुआ। टीम की ओपनर विक्षिता और एस चित्रा ने 2 ओवर तक बल्लेबाजी की, लेकिन दोनों ही अपना खाता नहीं खोल पाईं। तीसरे ओवर में वायनाड की कप्तान नित्या ने दोनों ओपनर्स के अलावा कसारागोड की के रजिता को भी पवेलियन भेज दिया। अगले दो ओवर में कसारागोड ने अपने 3 विकेट और गंवा दिए। इसके बाद आईं अन्य बल्लेबाज भी बिना खाता खोले पवेलियन लौटीं।

 

2 साल पहले नगालैंड की टीम 2 रन पर ऑलआउट हो गई थी

फरवरी 2017 में केरल के खिलाफ खेले गए मैच में नगालैंड की लड़कियों की अंडर-19 टीम महज 2 रन पर ऑलआउट हो गई थी। तब नगालैंड की ओपनर मेनका सिर्फ एक रन बना पाई थीं, जबकि एक रन वाइड से टीम के खाते में जुड़ा था। टीम की अन्य नौ बल्लेबाज शून्य पर पवेलियन लौटी थीं। केरल ने 50 ओवर के उस मैच में 299 गेंद शेष रहते मैच जीत लिया था। केरल की पारी की पहली गेंद वाइड रही थी। अगली गेंद पर केरल की ओपनर अंशू एस राजू ने चौका जड़कर अपनी टीम को 10 विकेट से जीत दिला दी थी।

 

23 मई को देखिए सबसे तेज चुनाव नतीजे भास्कर APP पर

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना