कर्नाटक प्रीमियर लीग / मैच फिक्सिंग मामले में सीएम गौतम और अबरार गिरफ्तार, अब तक 6 गिरफ्तारियां



सीएम गौतम। -फाइल फोटो सीएम गौतम। -फाइल फोटो
X
सीएम गौतम। -फाइल फोटोसीएम गौतम। -फाइल फोटो

  • केपीएल 2019 के फाइनल में धीमी बल्लेबाजी के लिए दोनों खिलाड़ियों को 20 लाख रुपए मिले थे
  • सीएस गौतम ने रणजी के अलावा रॉयल चैलेंजर बेंगलुरु, मुंबई इंडियंस और दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए आईपीएल खेल चुके
  • इससे पहले मामले में अली अशफाक, वीनू प्रसाद, विश्वनाथन और निशांत सिंह शेखावत को गिरफ्तार किया गया

Dainik Bhaskar

Nov 07, 2019, 01:21 PM IST

खेल डेस्क. कर्नाटक प्रीमियर लीग (केपीएल) मैच फिक्सिंग मामले में क्राइम ब्रांच ने गुरुवार को दो घरेलू खिलाड़ियों को गिरफ्तार किया। इनमें बेल्लारी टस्कर्स टीम के कप्तान सीएम गौतम और उनके साथ विकेटकीपर अबरार काजी हैं। फिक्सिंग मामले में अब तक केपीएल के छह खिलाड़ियों को गिरफ्तार किया गया।

 

अगले रणजी सीजन के लिए गौतम गोवा और अबरार मिजोरम टीम में शामिल थे। कर्नाटक और गोवा के लिए रणजी खेलने के अलावा गौतम ने रॉयल चैलेंजर बेंगलुरु, मुंबई इंडियंस और दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए आईपीएल खेल चुके।

 

‘एक और मैच फिक्स कर रखा था’
एडीशनल कमिश्नर ऑफ पुलिस (एसीपी) संदीप पाटिल ने कहा, ‘‘केपीएल 2019 के फाइनल में धीमी बल्लेबाजी और अन्य कुछ शर्तों के लिए दोनों खिलाड़ियों को 20 लाख रुपए मिले थे। इन्होंने बेंगलुरु के खिलाफ एक और मैच फिक्स कर रखा था।’’

 

सितंबर में हुई थी पहली गिरफ्तारी

सबसे पहले मैच फिक्सिंग का यह मामला सितंबर में सामने आया था, जब बेलगावी टीम के मालिक अली अशफाक थारा की गिरफ्तारी हुई थी। इसके बाद 26 अक्टूबर को बेंगलुरु ब्लास्टर्स के बॉलिंग कोच वीनू प्रसाद और एक बल्लेबाज विश्वनाथन को गिरफ्तार किया गया था। मामले में क्राइम ब्रांच ने पिछले हफ्ते बेंगलुरु टीम के खिलाड़ी निशांत सिंह शेखावत को गिरफ्तार किया था।

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना