आईसीसी / सैनी ने निकोलस पूरन को पवेलियन जाने का इशारा किया था, सजा के तौर पर 1 डिमेरिट अंक मिले

नवदीप सैनी। नवदीप सैनी।
X
नवदीप सैनी।नवदीप सैनी।

  • सैनी को आईसीसी की अनुशासन समिति के नियम 2.5 के उल्लंघन का दोषी पाया गया
  • आईसीसी के मुताबिक नवदीप सैनी ने अपनी गलती को स्वीकार कर ली

दैनिक भास्कर

Aug 05, 2019, 06:27 PM IST

खेल डेस्क. भारतीय तेज गेंदबाज नवदीप सैनी को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद के अनुशासनात्मक नियम का उल्लंघन करने के आरोप में एक डिमेरिट अंक दिया गया है। सैनी को वेस्टइंडीज के खिलाफ फ्लोरिडा में खेले गए पहले टी-20 के दौरान आईसीसी की अनुशासन समिति के नियम 2.5 के उल्लंघन का दोषी पाया गया। यह नियम खिलाड़ियों के व्यवहार से संबंधित है। आईसीसी ने सोमवार को बताया कि पहले टी-20 के दौरान निकोलस पूरन को आउट करने के बाद सैनी ने उन्हें पवेलियन जाने का इशारा किया था।

 

आईसीसी के मुताबिक सैनी ने अपनी गलती को स्वीकार कर ली है। मैदानी अंपायर नाइजेल डुगिड और ग्रेगरी ब्रेथवेट, थर्ड अंपायर लेस्ली रीफर और चौथे अंपायर पैट्रिक गस्टर्ड ने सैनी को आरोपी ठहराया था। मैच रेफरी ने जैफ क्रो ने कहा कि सैनी के खिलाफ आधिकारिक सुनवाई की जरूरत नहीं है।

 

नवदीप सैनी ने डेब्यू मैच में 3 विकेट लिए
सैनी का ने उस मैच में 17 रन देकर 3 विकेट लिए थे। यह उनका डेब्यू मुकाबला था। उन्हें मैन ऑफ द मैच अवॉर्ड दिया गया। किसी भी खिलाड़ी के 24 महीने में चार डीमेरिट अंक होने पर यह अंक मैच निलंबन में तब्दील हो जाता है। इसके बाद खिलाड़ी को निलंबित किया जा सकता है। दो निलंबन अंकों से खिलाड़ी एक टेस्ट या दो वनडे या दो टी-20 मैचों से निलंबित हो जाता है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना