झूलन के गले लगकर फूट-फूटकर रोईं हरमनप्रीत:फेयरवेल मैच में पूरी टीम हुई इमोशनल, 'चकदा एक्सप्रेस' को इंग्लैंड टीम ने दिया गार्ड ऑफ ऑनर

लंदन4 महीने पहले

इंडियन वुमन टीम की दिग्गज गेंदबाज झूलन गोस्वामी के फेयरवेल मैच से पहले टीम की कैप्टन हरमनप्रीत कौर भावुक हो गईं और मैदान पर ही झूलन को गले लगाकर फूट-फूटकर रोने लगी। मुकाबले से पहले 'चकदा एक्सप्रेस' को उनके शानदार करियर के लिए भारतीय टीम की ओर से स्मृति चिन्ह भेंट किया गया। झूलन की विदाई पर पूरी टीम इमोशनल हो गई। सोशल मीडिया पर इस भावुक पल का वीडियो खूब वायरल हो रहा है।

झूलन को गले लगाकर भारतीय टीम की कैप्टन हरमनप्रीत कौर फूट-फूटकर रोईं।
झूलन को गले लगाकर भारतीय टीम की कैप्टन हरमनप्रीत कौर फूट-फूटकर रोईं।

हरमनप्रीत ने झूलन की ही कप्तानी में किया था डेब्यू
हरमनप्रीत ने झूलन की कप्तानी के दौरान ही डेब्यू किया था। ऐसे में उनका झूलन के जाने पर इमोशनल होना लाजमी है। वहीं, हरमनप्रीत कई मौकों पर कहती नजर आई हैं कि झूलन से वो बहुत कुछ सीखती रही हैं।

झूलन के जाने का दुःख पूरी टीम के चेहरे पर साफ देखा जा सकता था। इस दौरान सभी खिलाड़ियों ने झूलन के साथ अपनी मीठी यादों को साझा किया और झूलन को भावुक विदाई दी।

इंग्लिश टीम ने भी दिया सम्मान
मैच के दौरान जब झूलन बल्लेबाजी के लिए आईं तो इंग्लैंड टीम की सभी खिलाड़ियों ने ताली बजाकर उनका स्वागत किया। इस मैच में जब भारत के 148 रनों पर 7 विकेट गिर चुके थे तब झूलन बैटिंग के लिए उतरीं, लेकिन पहली ही गेंद पर इंग्लैंड की युवा ऑलराउंडर फ्रेया केंप ने इन स्विंगर डाली और झूलन अपना विकेट गंवा बैठीं। इसके बाद उन्हें पवेलियन लौटना पड़ा।

झूलन को दुनिया की सबसे तेज गेंदबाज और सबसे ज्यादा विकेट लेने वाली गेंदबाज का रुतबा मिला हुआ है।
झूलन को दुनिया की सबसे तेज गेंदबाज और सबसे ज्यादा विकेट लेने वाली गेंदबाज का रुतबा मिला हुआ है।

भारत ने 23 साल बाद सीरीज किया है अपने नाम
18 सितम्बर से इंडिया-इंग्लैंड के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज खेली जा रही है। सीरीज के शुरूआती दो मैच जीत कर इंडिया ने ये सीरीज अपने नाम कर ली है। महिला टीम ने 23 साल बाद इंग्लैंड की टीम को उसकी ही जमीन पर हार का स्वाद चखाया है। सीरीज का आखिरी मैच लॉर्ड्स क्रिकेट ग्राउंड पर खेला जा रहा है। यह मैच झूलन के क्रिकेट करियर का आखिरी मैच है। उन्होंने कुछ समय पहले ही इस सीरीज के खत्म होने के बाद क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास लेने की घोषणा की थी।

हरमनप्रीत ने झूलन की कप्तानी के दौरान ही डेब्यू किया था।
हरमनप्रीत ने झूलन की कप्तानी के दौरान ही डेब्यू किया था।

वहीं, इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड के अंतरिम चीफ एग्जीक्यूटिव क्लेयर कॉनर और हेड कोच लीजा कैथली ने इस मौके पर झूलन को एक जर्सी गिफ्ट की। ये जर्सी इसलिए खास है क्योंकि इस पर इंग्लैंड की खिलाड़ियों की साइन है। गौरतलब है कि पूर्व कप्तान मिताली राज के संन्यास ले लेने के बाद इंडियन वुमन क्रिकेट टीम में पिछली जनरेशन से एकमात्र झूलन ही थीं।

एक नजर में झूलन का करियर

  • 6 जनवरी 2002 को इंटरनेशनल डेब्यू किया था। अपने 19 साल के करियर में झूलन ने 283 मुकाबले खेले हैं। उनके नाम 353 विकेट हैं।
  • वुमन वनडे वर्ल्ड कप में सबसे अधिक विकेट लेने वाली गेंदबाज हैं। उन्होंने 34 विश्व कप मैचों में 43 विकेट लिए हैं। वे विश्व कप में 2 बार 4 विकेट ले चुकी हैं।
  • अपने इंटरनेशनल करियर में झूलन गोस्वामी ने 1,924 रन बनाए हैं। इसमें 3 फिफ्टी भी शामिल हैं। 2 अर्धशतक टेस्ट, जबकि एक वनडे में आया है।
  • वे टी-20 और टेस्ट से पहले ही संन्यास ले चुकी हैं। उन्होंने भारत के लिए आखिरी टी20 मैच 2018 में और आखिरी टेस्ट अक्टूबर 2021 में खेला था।