• Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • NZ Vs IND Bhaskar Cricket Podcast New Zealand Team Looked Helpless Without Kane Williamson Ashwin Again Bowled Amazingly

भास्कर क्रिकेट पॉडकास्ट:केन विलियम्सन के बिना बेसहारा नजर आई न्यूजीलैंड की टीम, अश्विन ने फिर कमाल की गेंदबाजी की

नई दिल्ली2 महीने पहले

टीम इंडिया न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन जीत के बेहद करीब पहुंच गई है। भारत ने अपनी दूसरी पारी 276/7 के स्कोर पर समाप्त घोषित करने के बाद स्टंप्स तक कीवी टीम की दूसरी पारी में 140 रन पर पांच विकेट निकाल लिए हैं। टेस्ट में दो दिन का खेल बचा है और न्यूजीलैंड को जीत के लिए 400 रनों की और दरकार है। वहीं, भारतीय टीम जीत से सिर्फ 5 विकेट दूर है।

दिग्गज कमेंटेटर सुशील दोषी ने अपने पॉडकास्ट में कहा कि स्पिन के सामने कीवी बल्लेबाजों की लाचारगी फिर जगजाहिर हो गई। रविचंद्रन अश्विन की अगुवाई में भारतीय स्पिनर्स के बेहतरीन प्रदर्शन के आगे न्यूजीलैंड के बल्लेबाज असहाय नजर आ रहे हैं।

चौथे दिन खत्म हो सकता है टेस्ट मैच
दोषी ने कहा कि न्यूजीलैंड के लिए अब इस टेस्ट मैच को पांचवें दिन ले जा पाना काफी मुश्किल होगा। भारत चौथे दिन ही विशाल अंतर से जीत हासिल कर सकता है। दोषी ने कहा- नियमित कप्तान केन विलिय्म्सन की गैरहाजिरी में न्यूजीलैंड की स्पिन के सामने कमजोरी उजागर हुई।

उनके बल्लेबाज अपने घर में या कुछ अन्य देशों की पिचों पर स्पिन ठीक खेल लेते हैं, लेकिन भारतीय जमीन पर भारतीय स्पिनर्स का सामना करना उनके बस की बात नजर नहीं आती है। विलियम्सन के न होने से ओपनर टॉम लाथम और मिडिल ऑर्डर के दिग्गज बल्लेबाज रॉस टेलर पर काफी जिम्मेदारी थी। लेकिन, इन दोनों ने निराश किया।

अश्विन दुनिया के सर्वश्रेष्ठ ऑफ स्पिनर
दोषी ने कहा- रविचंद्रन अश्विन ने फिर साबित किया कि उन्हें दुनिया का सर्वश्रेष्ठ ऑफ स्पिनर क्यों कहे जाते हैं। वे एक ओवर की 6 गेंद 6 अलग-अलग तरीके से डालने में सक्षम हैं। वे क्रीज का भी बेहतरीन इस्तेमाल करते हैं। इस वजह से उनका सामना करना मुश्किल होता है। इस मैच में भी यही दिखा।

एजाज पटेल के लिए याद किया जाएगी यह टेस्ट मैच
दोषी ने एक बार फिर न्यूजीलैंड के लेफ्ट आर्म स्पिनर एजाज पटेल की जमकर तारीफ की। पटेल ने भारत की दूसरी पारी में भी चार विकेट लिए। पहली पारी में उन्होंने सभी 10 विकेट लिए थे। दोषी ने कहा- पटेल इकलौते ऐसे कीवी गेंदबाज रहे जिन्होंने यहां की पिच को ठीक से समझा और उसके अनुकूल गेंदबाजी की। यही कारण रहा कि वे भारतीय बल्लेबाजों को मुश्किल में डाल सके।

खबरें और भी हैं...