• Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • New Zealand Vs India: Shikhar Dhawan, Hardik Pandya, Bhuvneshwar Kumar Work With Team India Trainer Yogesh Parmer

क्रिकेट / ट्रेनर योगेश परमार भारतीय टीम के साथ न्यूजीलैंड नहीं गए; पंड्या, भुवनेश्वर और धवन के साथ एनसीए में काम करेंगे

शिखर धवन को बेंगलुरु वनडे में कंधे में चोट लगी थी। शिखर धवन को बेंगलुरु वनडे में कंधे में चोट लगी थी।
X
शिखर धवन को बेंगलुरु वनडे में कंधे में चोट लगी थी।शिखर धवन को बेंगलुरु वनडे में कंधे में चोट लगी थी।

  • योगेश परमार अगले दो हफ्ते तक इन तीनों खिलाड़ियों के रिहैबिलिटेशन पर नजर रखेंगे
  • धवन कंधे की चोट के कारण न्यूजीलैंड के खिलाफ टी-20 सीरीज से बाहर
  • भुवनेश्वर कुमार की 11 जनवरी को लंदन में स्पोर्ट्स हार्निया की सर्जरी हुई थी

Dainik Bhaskar

Jan 21, 2020, 04:54 PM IST

खेल डेस्क. भारतीय टीम के असिस्टेंट ट्रेनर योगेश परमार चोटिल हार्दिक पंड्या, भुवनेश्वर कुमार और शिखर धवन के साथ नेशनल क्रिकेट एकेडमी में काम करेंगे। टीम मैनेजमेंट से जुड़े सूत्र ने न्यूज एजेंसी को यह जानकारी दी। पंड्या बैक सर्जरी के बाद एनसीए में अपना रिहैब पूरा करेंगे। वहीं भुवनेश्वर ने स्पोर्ट्स हार्निया की सर्जरी कराई है, जबकि धवन को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आखिरी वनडे में कंधे में चोट लग गई थी। इसी वजह से इस बाएं हाथ के बल्लेबाज को 24 जनवरी से न्यूजीलैंड के खिलाफ शुरू हो रही टी-20 सीरीज से बाहर होना पड़ा। 

न्यूज एजेंसी के मुताबिक, परमार पहले न्यूजीलैंड जाने वाले थे। लेकिन टीम मैनेजमेंट ने उन्हें भारत में ही रूककर धवन, पंड्या और भुवनेश्वर के साथ एनसीए में काम करने को कहा। ताकि यह तीनों जल्दी फिट हो जाएं। वे अगले दो हफ्ते तक इन तीनों के साथ काम करेंगे। सूत्र ने बताया कि परमार की मौजूदगी से खिलाड़ियों को फिट होने में काफी मदद मिलेगी। क्योंकि वे पंड्या और भुवनेश्वर की चोट के बारे में अच्छे से जानते हैं। परमार सर्जरी के दौरान भी दोनों के साथ लंदन में मौजूद थे। 

भुवनेश्वर दिसंबर में दोबारा चोटिल हो गए थे

भुवनेश्वर 9 जनवरी को ही लंदन गए थे। जहां 11 जनवरी को उनकी स्पोर्ट्स हार्निया की सर्जरी हुई। इसके बाद वे भारत लौटे और फिलहाल एनसीए में रिहैबिलिटेशन से गुजर रहे हैं। पिछले साल हुए वर्ल्ड कप के बाद से ही वे लगातार चोट से जूझ रहे हैं। भुवी पिछले साल अगस्त में चोटिल हुए थे, जिसके बाद उन्हें काफी वक्त तक टीम से बाहर रहना पड़ा। इस दौरान वे कई बार अपनी चोट के चक्कर में एनसीए गए। लेकिन एकेडमी के विशेषज्ञ उनकी हार्निया का पता ही नहीं लगा सके।

बीसीसीआई की जांच में भुवनेश्वर की स्पोर्ट्स हार्निया का पता चला

सिलेक्टर्स ने उन्हें फिट पाकर दिसंबर में वेस्टइंडीज के खिलाफ टी-20 और वनडे सीरीज के लिए चुना। लेकिन पिछले कैरेबियाई टीम के खिलाफ दो टी-20 खेलने के बाद उनकी ग्रोइन इंजरी फिर उबर आई। इसके बाद बीसीसीआई की मेडिकल टीम ने दोबारा उनकी जांच कि तो पता चला कि तेज गेंदबाज को स्पोर्ट्स हार्निया था। 

पंड्या की सर्जरी के वक्त परमार उनके साथ लंदन में ही थे

वहीं, पंड्या की लंदन में हुई बैक सर्जरी के वक्त परमार उनके साथ ही थे। वापस आने के बाद इस तेज गेंदबाज ने दिल्ली कैपिटल्स के ट्रेनर रजनीकांत शिवागननम के साथ ट्रेनिंग की। हालांकि, उस दौरान भी परमार उनके संपर्क में थे और उनके रिहैब पर नजर रखी थी। निजी ट्रेनर के साथ रिहैब करने के मुद्दे पर  खिलाड़ियों और एनसीए डायरेक्टर राहुल द्रविड़ के बीच विवाद हो गया था। इसके बाद बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने साफ किया कि सभी कॉन्ट्रैक्ट खिलाड़ियों को रिहैबिलिटेशन के लिए एनसीए जाना होगा। वहां से फिट घोषित होने के बाद ही कोई खिलाड़ी भारतीय टीम में शामिल होगा। इसलिए पंड्या, भुवनेश्वर और धवन यहां पहुंचे हैं। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना