पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

मलिंगा और मैथ्यूज समेत 10 श्रीलंकाई खिलाड़ियों ने पाक दौरे से नाम वापस लिया

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
श्रीलंका क्रिकेट टीम। -फाइल फोटो
  • 2009 में श्रीलंका टीम की बस पर लाहौर में आतंकी हमला हुआ था, तब 8 नागरिक मारे गए थे
  • श्रीलंका को पाक दौरे पर 27 सितंबर से 9 अक्टूबर तक तीन वनडे और तीन टी-20 खेलने हैं

खेल डेस्क. पाकिस्तान में आतंकी गतिविधियों और सुरक्षा कारणों को लेकर श्रीलंका क्रिकेट टीम के 10 खिलाड़ियों ने सोमवार को पाक दौरे से नाम वापस ले लिया। श्रीलंका क्रिकेट (एसएलसी) के मुताबिक, वनडे टीम के कप्तान दिमुथ करुणारत्ने, टी-20 कप्तान लसिथ मलिंगा, पूर्व कप्तान एंजेलो मैथ्यूज, निरोशन डिकवेला, कुसल परेरा, धनंजय डिसिल्वा, अकिला धनंजय, सुरंगा लकमल, थिसारा परेरा और दिनेश चंडीमल ने नाम वापस लिया। श्रीलंका को पाक दौरे पर 27 सितंबर से 9 अक्टूबर तक तीन वनडे और तीन टी-20 खेलने हैं।
 
श्रीलंका क्रिकेट ने कहा कि सभी खिलाड़ियों को पाक में किए गए सुरक्षा इंतजाम के बारे में बताया गया था। सभी ने सोच-विचार के बाद दौरे से अपना नाम वापस लिया है। श्रीलंका के खेल मंत्री हेरिन फनार्डो के मुताबिक, अधिकतर खिलाड़ियों के परिवार ने भी सुरक्षा को लेकर चिंता जताई है।
 

श्रीलंका भी दिसंबर में पाक की मेजबानी करेगी
पाकिस्तान और श्रीलंका को कराची के नेशनल स्टेडियम में 27 सितंबर, 29 सितंबर और दो अक्टूबर को तीन मैचों की वनडे सीरीज खेलनी है। इसके बाद दोनों टीमें लाहौर के गद्याफी स्टेडियम में पांच, सात और नौ अक्टूबर को तीन मैचों की टी-20 सीरीज खेलेगी। श्रीलंका भी दिसंबर में दो मैचों की वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के लिए पाकिस्तान की मेजबानी करेगी।
 

2009 में हुए हमले में 7 खिलाड़ी जख्मी हुए थे
2009 में श्रीलंका क्रिकेट टीम 3 टेस्ट और 3 वनडे मैचों की सीरीज के लिए पाक दौरे पर गई थी। 1 मार्च से सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच शुरू हुआ था। 3 मार्च को लाहौर के लिबर्टी चौक पर श्रीलंका टीम की बस पर आतंकियों ने हमला कर दिया था। इसमें आठ आम नागरिक मारे गए थे, जबकि श्रीलंका टीम के स्टाफ समेत सात खिलाड़ी जख्मी हुए थे। इस घटना के बाद से सभी टीमों ने पाक दौरे से बॉयकॉट कर लिया था।
 

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय पूर्णतः आपके पक्ष में है। वर्तमान में की गई मेहनत का पूरा फल मिलेगा। साथ ही आप अपने अंदर अद्भुत आत्मविश्वास और आत्म बल महसूस करेंगे। शांति की चाह में किसी धार्मिक स्थल में भी समय व्यतीत ह...

और पढ़ें