• Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Kamran Akmal; Pakistan Kamran Akmal Hits Out at Pakistani Selectors and former coach Mickey Arthur Over His Performances

क्रिकेट / अकमल ने टीम में न चुने जाने पर पूर्व कोच और सिलेक्टर्स को कोसा, कहा- क्या मुझे प्रधानमंत्री के पास जाना होगा

अकमल ने कहा- कोच मिस्बाह उल हक खिलाड़ियों का दर्द समझें। (फाइल) अकमल ने कहा- कोच मिस्बाह उल हक खिलाड़ियों का दर्द समझें। (फाइल)
X
अकमल ने कहा- कोच मिस्बाह उल हक खिलाड़ियों का दर्द समझें। (फाइल)अकमल ने कहा- कोच मिस्बाह उल हक खिलाड़ियों का दर्द समझें। (फाइल)

  • अकमल ने सिलेक्टर्स पर अच्छा प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को नजरअंदाज करने का आरोप लगाया
  • अकमल ने कहा- मैंने उम्मीद नहीं छोड़ी, लेकिन नजरअंदाज होने की भी सीमा होती है
  • उन्होंने पिछला वनडे और टी-20 दो साल पहले वेस्टइंडीज के खिलाफ खेला था

Dainik Bhaskar

Jan 22, 2020, 07:43 AM IST

खेल डेस्क. पाकिस्तान के विकेटकीपर कामरान अकमल बांग्लादेश के खिलाफ टी-20 टीम में न चुने जाने के बाद से ही नाराज चल रहे हैं। पाकिस्तान के न्यूज चैनल से मंगलवार को हुई बातचीत में वे पूर्व कोच मिकी आर्थर पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा,‘‘आर्थर के कोच रहते फिटनेस पर जरूरत से ज्यादा जोर दिया गया, जबकि युवा खिलाड़ी मौके का इंतजार करते रह गए। मैं 5 साल से घरेलू क्रिकेट में प्रदर्शन कर रहा हूं। मैं कितना बर्दाश्त करूं। क्या मुझे प्रधानमंत्री के पास जाना चाहिए और यह कहना चाहिए कि यह मेरा 5 साल का प्रदर्शन है?’’

उन्होंने सिलेक्टर्स पर घरेलू क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को नजरअंदाज करने का आरोप लगाया। इस बल्लेबाज ने कहा, ‘‘मैंने उम्मीद नहीं छोड़ी है, लेकिन नजरअंदाज होने की भी एक सीमा होती है। मैंने उनसे कहा, जरूरत हो तो मुझे एक विकेटकीपर के रूप में खिलाएं। कम से कम टी-20 टीम में तो एक स्थान ऐसा है, जहां मैं खेल सकता हूं। लेकिन आप जबरदस्ती किसी और को खिला रहे हैं। यह पाकिस्तान की टीम है, आप सिर्फ देश के बारे में सोचें। मेरे जैसे कई खिलाड़ी हैं, जो टीम में चुने जाने के लिए योग्य हैं।’’ जैसे फवाद आलम, उनके आंकड़े देखिए। मुझे लगता है कि वह भी काफी बर्दाश्त कर चुका है। 

अकमल ने कहा- मुझे वही मिलना चाहिए, जिसका मैं हकदार हूं

अकमल ने आगे कहा, ‘‘इस साल के आखिर में टी-20 वर्ल़्ड कप है। मैंने पीएसएल और घरेलू क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन किया। कम से कम कोच मिस्बाह उल हक को तो यह देखना चाहिए। मिकी आर्थर ने पाकिस्तान के क्रिकेट के साथ क्या किया, यह सभी जानते हैं। मिस्बाह जानते हैं कि वे खुद संघर्ष के बाद इस मुकाम तक पहुंचे। मुझे लगता है कि मुझे भी वही मिलना चाहिए, जिसका मैं हकदार हूं।’’ हालांकि, अब सिलेक्टर्स काबिलियत और घरेलू क्रिकेट के प्रदर्शन को नहीं देखते। जब से पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) शुरू हुआ, तब से इक्का-दुक्का पारियों के दम पर ही खिलाड़ी टीम में चुने जा रहे हैं। आसिफ अली, हुसैन तलत, अहसान अली जैसे खिलाड़ी 30-40 रन की पारी खेलकर टीम में आ रहे।

अकमल ने 53 टेस्ट और 157 वनडे खेले हैं

अकमल ने दो साल पहले वेस्टइंडीज के खिलाफ अपना आखिरी वनडे और टी-20 खेला था। वे अब तक 53 टेस्ट, 157 वनडे और 58 टी-20 खेल चुके हैं। इसमें उन्होंने 6 हजार से ज्यादा रन बनाए हैं। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना