इंग्लैंड की T-20 ब्लास्ट लीग में खेलेंगे कीरोन पोलार्ड:IPL खत्म होते ही एक टीम में खेलते नजर आएंगे पोलार्ड और सुनील नरेन

लंदन3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

T-20 के धमाकेदार ऑल-राउंडर के रूप में मशहूर वेस्ट इंडीज के पूर्व कप्तान कीरोन पोलार्ड एक दशक से ज्यादा के बाद काउंटी क्रिकेट खेलते नजर आएंगे। वे इस महीने के अंत में आईपीएल के बाद T-20 ब्लास्ट के लिए इंग्लिश काउंटी टीम सरे से जुड़ेंगे। वेस्ट इंडीज के ही सुनील नरेन भी इस टीम का हिस्सा हैं।

हाल ही में इंटरनेशनल क्रिकेट से सन्यास लेने वाले कीरोन पोलार्ड को रिपोर्ट्स के मुताबिक कई इंग्लिश काउंटी टीमों से T-20 ब्लास्ट में खेलने का ऑफर मिला था। हालांकि, सरे की टीम ने इसमें बाजी मार ली। ऑस्ट्रेलिया के सीन एबॉट के टीम से बाहर होने के बाद सरे की टीम एक विदेशी ऑल-राउंडर तलाश रही थी।

31 मई को कर सकते हैं डेब्यू

शुक्रवार को जारी प्रेस रिलीज में सरे ने कीरोन पोलार्ड के टीम से जुड़ने की घोषणा की। पोलार्ड 31 मई को किआ ओवल स्टेडियम में सरे और ग्लोसेस्टरशायर के बीच खेले जाने वाले मुकाबले में अपना डेब्यू कर सकते हैं। ये एक दशक से ज्यादा के बाद पोलार्ड का काउंटी क्रिकेट में पहला मुकाबला होगा। इससे पहले पोलार्ड 2011 में समरसेट के लिए काउंटी क्रिकेट खेले थे। 2020 में उनके नोर्थेम्पटनशायर से जुडने की खबर आई थी पर कोविड के चलते वो डील रद्द हो गई थी।

सरे की ओर से जारी प्रेस रिलीज में पोलार्ड ने कहा- मुझे काउंटी क्रिकेट खेले काफी समय हो गया है और T-20 ब्लास्ट के लिए सरे के साथ जुड़ने को लेकर मैं काफी उत्साहित हूं। दर्शकों से खचाखच भरे किआ ओवल स्टेडियम में खेलना काफी स्पेशल होगा।

इंग्लैंड में T-20 ब्लास्ट की शुरुआत 25 मई से होगी। इसमें इंग्लैंड समेत दुनिया के कई नामी खिलाड़ी खेलते नजर आएंगे।
इंग्लैंड में T-20 ब्लास्ट की शुरुआत 25 मई से होगी। इसमें इंग्लैंड समेत दुनिया के कई नामी खिलाड़ी खेलते नजर आएंगे।

पोलार्ड के साथ सुनील नरेन भी होंगे टीम में

पोलार्ड के अलावा सुनील नरेन भी सरे की टीम का हिस्सा हैं। सुनील नरेन और पोलार्ड एक दूसरे के साथ लंबे समय तक खेलते रहे हैं। वेस्ट इंडीज टीम के अलावा चैंपियंस लीग में त्रिनिदाद एंड टोबैगो, बांग्लादेश प्रीमियर लीग में ढाका डायनामाइट्स और CPL में ये दोनों खिलाड़ी ट्रिनबागो नाइट राइडर्स के लिए साथ खेल चुके हैं। ऐसे में इन दोनों की जुगलबंदी सरे के लिए काफी काम आ सकती है।

19 साल से ट्रॉफी नहीं जीत पाई है सरे की टीम

सरे की टीम 2003 में टूर्नामेंट का पहला एडिशन जीतने के बाद से दुबारा कभी T-20 ब्लास्ट का खिताब नहीं जीत पाई है। पिछले साल ये टीम टूर्नामेंट के नॉक-आउट दौर के लिए क्वालीफाई भी नहीं कर पाई थी। इस बार नरेन और पोलार्ड के आने से टीम को मजबूती तो मिलेगी पर उसकी राह इतनी आसान नहीं होगी। इसका कारण है कि सरे के प्रमुख खिलाड़ी- सैम करन, टॉम करन, ओली पॉप, बेन फॉक्स, जेसन रॉय और रीस टॉपले चोट या नेशनल टीम के साथ व्यस्त होने की वजह से टीम के साथ नहीं जुड़ पाएंगे।

IPL में शांत रहा था पोलार्ड का बल्ला

विश्व के खतरनाक टी-20 ऑलराउंडर कीरोन पोलार्ड IPL-15 में खास कमाल नहीं कर पाए। टूर्नामेंट की 11 पारियों में उनके बल्ले से 107 की स्ट्राइक रेट से सिर्फ 144 रन निकले। इसी दौरान उन्होंने वेस्ट इंडीज टीम की कप्तानी छोड़ने और इंटरनेशनल क्रिकेट से रिटायर होने की घोषणा भी कर दी थी।