• Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Rahul Dravid Advice Letter to Kevin Pietersen On How To Play Spin Against Bangladesh Shakib Al Hasan, Abdur Razzak

क्रिकेट / जब स्पिन बॉलर्स के सामने जूझ रहे थे केविन पीटरसन, द्रविड़ ने ईमेल लिखकर की थी मदद



केविन पीटरसन और राहुल द्रविड़ (दाएं)। केविन पीटरसन और राहुल द्रविड़ (दाएं)।
X
केविन पीटरसन और राहुल द्रविड़ (दाएं)।केविन पीटरसन और राहुल द्रविड़ (दाएं)।

  • पीटरसन को होती थी स्पिन खेलने में परेशानी
  • बांग्लादेश टूर के वक्त राहुल द्रविड़ की ली थी मदद
  • द्रविड़ ने ईमेल लिखकर दिए थे स्पिन खेलने के टिप्स

Dainik Bhaskar

Sep 18, 2019, 08:14 PM IST

खेल डेस्क. इंग्लैंड क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान केविन पीटरसन को अपने करियर में एकबार भारतीय क्रिकेटर राहुल द्रविड़ से मदद मांगनी पड़ गई थी, इस घटना का जिक्र उन्होंने अपनी ऑटोबायोग्राफी में किया है। ये किस्सा साल 2010 का है जब बांग्लादेश दौरे पर पीटरसन को बांग्लादेशी स्पिनर्स को खेलने में काफी परेशानी हो रही थी। जिसके बाद उन्होंने अपने दोस्त राहुल द्रविड़ से मदद करने के लिए कहा। राहुल तुरंत इसके लिए तैयार हो गए और एक ईमेल लिखकर उनकी मदद की। इसी मेल के बारे में पीटरसन ने अपनी बायोग्राफी में बताया है।

 

केविन पीटरसन की जीवनी का नाम 'केपी- द ऑटोबायोग्राफी' है। किताब के मुताबिक बांग्लादेश टूर के दौरान उन्हें स्पिन गेंदबाजों खासतौर पर शाकिब-अल-हसन और अब्दुर रज्जाक को खेलने में काफी परेशानी हो रही थी। जिसके बाद उन्होंने अपने दोस्त और IPL टीम 'रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु' के साथी राहुल द्रविड़ को फोन लगाया और स्पिन का सामना करने में उनकी मदद मांगी। तब द्रविड़ ने उनके लिए एक ईमेल लिखा, जिसमें उन्होंने स्पिन बॉलर्स से निपटने की तरकीबें बताईं।

 

द्रविड़ ने बिना पैड लगाए प्रैक्टिस की सलाह दी

 

द्रविड़ ने अपने उस मेल की शुरुआत मजाकिया लहजे में लिखे एक डिस्क्लेमर के साथ की थी, जिसमें उन्होंने लिखा, 'मैं इसकी शुरुआत इस बात से करना चाहूंगा कि मैंने उन दोनों स्पिन गेंदबाजों (शाकिब और रज्जाक) का सामना कभी नहीं किया है और ना ही अबतक इस सीरीज का कोई मैच देखा है। इसलिए अगर मैं जो बताऊं अगर वो काम ना आए या वो उनके सामने उपयुक्त ना निकले तो इसे इग्नोर कर देना।'
अपने मेल में आगे उन्होंने लिखा, 'आपको ग्रीम स्वान और मोंटी पनेसर जैसे स्पिनर्स के सामने बिना पैड्स पहने या सिर्फ नी पैड्स लगाकर अच्छे से बैटिंग प्रैक्टिस करना चाहिए (लेकिन खेल से एक दिन पहले नहीं)। अगर आप पैड्स नहीं पहनेंगे तो ये आपको अपना बल्ला पैड के आगे रखते हुए गेंद पर निगाह रखने के लिए मजबूर करेगा, कभी-कभी दर्द के साथ। साथ ही सुरक्षा नहीं होने की वजह से आपके पैर भी आगे बढ़ने के लिए कम ही उत्सुक रहेंगे। मेरे कोच होते तो कहते, स्पिन खेलने के लिए तुम्हें कभी पैड की जरूरत नहीं पड़ना चाहिए। गेंद को देखो और खुद पर भरोसा रखो। किसी को मत बताना कि तुम स्पिन नहीं खेल सकते, मैंने तुम्हें देखा है, और तुम कर सकते हो।'

 

कई मौकों पर की द्रविड़ की तारीफ

 

आईपीएल 2017 के दौरान दिए एक इंटरव्यू में पीटरसन ने कहा था, 'राहुल द्रविड़ ने मेरे करियर में मेरी मदद की है। इसका श्रेय मैं इंडियन प्रीमियर लीग को देता हूं, जिसकी वजह से मुझे उनके जैसे जीनियस खिलाड़ी से संपर्क करने की क्षमता मिली। उन्होंने ना केवल करियर के बुरे दौर में मेरी मदद की, बल्कि आगे बढ़ने में भी मेरी बहुत सहायता की।' पीटरसन ने कहा, 'वो दया, उदारता और उस ईमेल को लिखने के लिए जितना समय उन्होंने दिया और जितनी सरल भाषा में उन्होंने इसे लिखा, वो मेरे लिए बेहद फायदेमंद साबित हुआ। साथ ही ये इंग्लिश क्रिकेट के लिए भी बेहद फायदेमंद रहा, इससे मैं अपनी तकनीक की कमी को दूर करने में कामयाब रहा, जिससे इंग्लैंड को मदद मिली, क्योंकि इसने मुझे अपने देश के लिए बेहतर प्रदर्शन करने में मदद की।' पीटरसन ने अपने इंटरनेशनल करियर में 104 टेस्ट, 136 वनडे और 37 टी20 मैच खेले। टेस्ट में उनके नाम पर 8181 रन, वनडे में 4440 रन और टी20 फॉर्मेट में 1176 रन दर्ज हैं।

 

केविन पीटरसन की किताब का हिस्सा जिसमें द्रविड़ के मेल का जिक्र है...

 

 

पीटरसन की किताब का वो हिस्सा जिसमें द्रविड़ के मेल का जिक्र है।

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना