धोनी के संन्यास पर शास्त्री का खुलासा:पूर्व कोच ने कहा- माही ड्रेसिंग रूम में आए रिटायरमेंट का ऐलान कर दिया, सब हैरान रह गए

मुंबईएक वर्ष पहले

टीम इंडिया के पूर्व कोच रवि शास्त्री ने टीम इंडिया के पूर्व कप्तान एम एस धोनी के टेस्ट रिटायरमेंट को लेकर खुलासा किया है। उन्होंने कहा कि धोनी के रिटायरमेंट को लेकर किसी को पहले से पता नहीं था। अचानक धोनी ने ड्रेसिंग रूम में बताया कि वह टेस्ट से रिटायरमेंट ले रहे हैं। दरअसल धोनी ने साल 2014 में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर सीरीज के आखिरी मैच (बॉक्सिंग डे टेस्ट) के बाद अचानक टेस्ट से रिटायरमेंट की घोषणा की थी। उस समय रवि शास्त्री टीम के डायरेक्टर थे।

शास्त्री ने रविवार को स्टार स्पोर्ट्स से बातचीत में कहा, 'धोनी के रिटायरमेंट के फैसले से सभी हैरान थे। धोनी मेरे पर आए और कहा कि मैं टीम से कुछ बातें करना चाहता हूं। मुझे लगा कि आखिरी दिन शानदार बल्लेबाजी कर मैच को ड्रॉ करने में टीम को सफलता मिली है, ऐसे में वह मैच से संबंधित ही कुछ कहेंगे, लेकिन उन्होंने अपने संन्यास लेने का ऐलान कर सबको चौंका दिया। उसके बाद ड्रेसिंग रूम में मौजूद सभी खिलाड़ियों का चेहरा उतर गया।'

धोनी रिटायरमेंट के लिए सही समय का इंतजार कर रहे थे
शास्त्री ने कहा कि धोनी टेस्ट से रिटायरमेंट का सही समय का इंतजार कर रहे थे। उन्हें पता था कि भारत का अगला टेस्ट कप्तान कौन होगा। उन्होंने बतौर लीडर विराट कोहली को आगे बढ़ते देखा था। वह अपने वाइट बॉल करियर को लंबा करना चाहते थे। उन्हें अपने शरीर के बारे में पता था। उसी हिसाब से उन्होंने फैसला लिया।

धोनी ने टेस्ट में 38.09 की औसत से रन बनाए हैं
धोनी ने टीम इंडिया के लिए 90 टेस्ट मुकाबलों में शिरकत की, जिनमें उन्होंने 38.09 की औसत से 4876 रन बनाए. इस दौरान उन्होंने 6 शतक भी जड़े, जिसमें 1 दोहरा शतक भी शामिल है।

कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया WTCफाइनल में पहुंची
विराट कोहली 2015 में सिडनी टेस्ट से पूर्णकालिक टेस्ट कप्तान बने। उनकी कप्तानी में टीम इंडिया नंबर-1 टेस्ट टीम बनने में कामयाब रही। वहीं उनकी कप्तानी में टीम इंडिया पहले वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंची।

खबरें और भी हैं...