पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Sachin Tendulkar Rahul Dravid Stumped Against England, Rohit Sharma Rishabh Pant Stump India Vs England

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रोहित टेस्ट में तीसरी बार स्टंप:89 टेस्ट में एक बार भी स्टंप नहीं हुए कोहली; सचिन 200 और द्रविड़ 164 टेस्ट में 1-1 बार स्टंप हुए

चेन्नई3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

स्पिन फ्रेंडली पिचों पर बल्लेबाजी एक आर्ट है। इस आर्ट को किस बल्लेबाज ने कितना मास्टर किया है इसका सबूत एक छोटे से आंकड़े से सामने आ सकता है। आंकड़ा यह है कि कोई बैट्समैन अपने टेस्ट करियर में कितनी बार स्टंप आउट हुआ है। यह चर्चा अभी इसलिए कर रहे हैं क्योंकि इंग्लैंड के खिलाफ चेन्नई में चल रहे दूसरे टेस्ट में भारत की दूसरी पारी में रोहित शर्मा और ऋषभ पंत स्टंप आउट हुए हैं।

रोहित 36वें टेस्ट में तीसरी बार और पंत 18वें टेस्ट में पहली बार स्टंप हुए हैं। इसके उलट देश-दुनिया के कई ऐसे दिग्गज बल्लेबाज हुए हैं जो अपने करियर में इनसे कहीं ज्यादा टेस्ट खेलने के बावजूद कम मौकों पर स्टंप आउट हुए हैं। भारत के महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर 200 टेस्ट में और राहुल द्रविड़ 164 टेस्ट में सिर्फ एक बार स्टंप हुए।

89वें टेस्ट में पहली बार स्टंप हुए थे सचिन
सचिन तेंदुलकर अपने बेहतरीन टेस्ट करियर में पहली और इकलौती बार 2001 में अपने 89वें टेस्ट में स्टंप आउट हुए थे। वह टेस्ट मैच भी चेन्नई के चेपक स्टेडियम में ही खेला गया था। नासिर हुसैन की कप्तानी में इंग्लैंड ने सचिन के खिलाफ लेग थ्योरी अपनाई थी। लेफ्ट आर्म स्पिनर एश्ले जाइल्स लगातार सचिन को लेग स्टंप के बाहर गेंद कर रहे थे। सचिन आखिरकार 90 रन के निजी स्कोर पर जाइल्स की गेंद पर जेम्स फोस्टर के हाथों स्टंप कर दिए गए। इसके बाद सचिन अपने करियर में दोबारा स्टंप नहीं हुए।

जाइल्स की गेंद पर ही द्रविड़ भी हुए स्टंप
राहुल द्रविड़ भी अपने टेस्ट करियर में सिर्फ एक बार स्टंप आउट हुए। वे 2002 में इंग्लैंड के खिलाफ हेडिंग्ले टेस्ट में जाइल्स की गेंद पर एलेक स्टीवर्ट के हाथों स्टंप हुए थे। द्रविड़ ने उस पारी में 148 रन बनाए थे। द्रविड़ इसके बाद अपने टेस्ट करियर में दोबारा स्टंप आउट नहीं हुए।

डॉन ब्रैडमैन टेस्ट में कभी स्टंप नहीं हुए
ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज डॉन ब्रैडमैन को क्रिकेट इतिहास का सर्वश्रेष्ठ बैट्समैन कहा जाता है। उनकी सॉलिड बैटिंग टेक्नीक भी इसके पीछे एक बड़ी वजह है। ब्रैडमैन अपने 52 टेस्ट मैचों के अपने करियर में कभी स्टंप आउट नहीं हुए।

कोहली अब तक स्टंप नहीं हुए
टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली का यह 89वां टेस्ट मैच है। टेस्ट क्रिकेट में वे अब तक एक बार भी स्टंप आउट नहीं हुए हैं। यानी पहली बार स्टंप होने से पहले सबसे ज्यादा टेस्ट मैच खेलने के मामले में वे अब सचिन तेंदुलकर को पीछे छोड़ चुके हैं।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- वर्तमान परिस्थितियों को समझते हुए भविष्य संबंधी योजनाओं पर कुछ विचार विमर्श करेंगे। तथा परिवार में चल रही अव्यवस्था को भी दूर करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण नियम बनाएंगे और आप काफी हद तक इन कार्य...

और पढ़ें