पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Sanjay Manjrekar Says Ravichandran Ashwin Not A Great Bowler, Needs To Prove In SENA Countries | ICC World Test Championship Final

अश्विन को बेस्ट नहीं मानते मांजरेकर:पूर्व क्रिकेटर ने कहा- मेरी नजर में महान स्पिनर नहीं हैं रविचंद्रन अश्विन, SENA देशों में अब भी उन्हें खुद को प्रूव करना है

मुंबई7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

भारत के पूर्व क्रिकेटर संजय मांजरेकर का मानना है कि रविचंद्रन अश्विन दुनिया के महान स्पिनर्स में से एक नहीं हैं। मांजरेकर का बयान ठीक उस वक्त आया है, जब भारतीय टीम न्यूजीलैंड के खिलाफ वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल खेलने इंग्लैंड पहुंची है। मांजरेकर हमेशा अपने विवादित बयानों के लिए सुर्खियों में रहते हैं। इस बार उन्होंने कहा कि अश्विन ने साउथ अफ्रीका, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया में कुछ खास प्रदर्शन नहीं किया है। ऐसे में इन जगहों पर उन्हें अभी प्रूव करना है।

''अश्विन एक शानदार खिलाड़ी, पर महान नहीं''
मांजरेकर ने कहा- मुझे 409 विकेट ले चुके अश्विन को महान मानने में थोड़ी परेशानी है। पूरे सम्मान के साथ मैं यह कहना चाहता हूं कि वे एक शानदार खिलाड़ी हैं। पर जब लोग उन्हें ऑल टाइम ग्रेट में शामिल करने लगते हैं, तो मुझे सही नहीं लगता। अश्विन के साथ एक दिक्कत यह है कि SENA में उनका रिकॉर्ड अच्छा नहीं है।

''SENA देशों में अश्विन के नाम 5 विकेट हॉल नहीं''
मांजरेकर ने कहा- SENA देशों में अश्विन के नाम एक भी पारी में 5 विकेट का रिकॉर्ड नहीं है। इसके साथ ही यह भी कहा जाता है कि अगर पिच उनके फेवर में हो तो अश्विन कहर बरपा सकते हैं। लेकिन अगर आप पिछले 4 सालों पर नजर डालेंगे, तो रविंद्र जडेजा ने उनकी बराबर की बॉलिंग की है और बराबर विकेट भी लिए हैं। इसलिए अश्विन दूसरों से बेहतर नहीं हैं।

''इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में अक्षर ने बेहतर बॉलिंग की''
उन्होंने कहा- इस साल फरवरी-मार्च में इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में भी अक्षर पटेल ने अश्विन से अच्छी बॉलिंग की और ज्यादा विकेट लिया। इसलिए मुझे उन्हें ऑल टाइम ग्रेट मानने में दिक्कत है। अश्विन फिलहाल ICC टेस्ट रैंकिंग में नंबर-2 गेंदबाज हैं, वहीं ऑलराउंडर्स की रैंकिंग में वे चौथे नंबर पर हैं।

अश्विन सबसे तेज 400 विकेट लेने वाले दूसरे गेंदबाज
अश्विन ने हाल ही में एक रिकॉर्ड अपने नाम किया था। वे इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे तेज 400 विकेट पूरा करने वाले दूसरे गेंदबाज हैं। श्रीलंका के मुथैया मुरलीधरन ने 72 टेस्ट में 400 विकेट पूरे किए थे। वहीं, अश्विन ने 77 टेस्ट में ये मुकाम हासिल किया। वे 409 विकेट के साथ टेस्ट में भारत के चौथे सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज भी हैं। उनसे आगे सिर्फ हरभजन सिंह (417), कपिल देव (434) और अनिल कुंबले (619) ही हैं।

अश्विन ने विदेशी जमीन पर 123 विकेट लिए हैं
अश्विन ने टेस्ट में अब तक कुल 30 बार पारी में 5 विकेट और 7 बार मैच में 10 विकेट लिया है। हालांकि, इसमें से कोई भी रिकॉर्ड SENA देशों में नहीं है। अश्विन ने घरेलू जमीन पर 47 टेस्ट में 2280.4 ओवर बॉलिंग की है। इसमें उन्होंने 286 विकेट लिए हैं, जबकि विदेशी जमीन पर 31 टेस्ट में उनके नाम 123 विकेट हैं।

मुरलीधरन ने विदेशी धरती पर 307 विकेट लिए थे
वहीं, ऑल टाइम ग्रेट में शामिल मुथैया मुरलीधरन के टेस्ट रिकॉर्ड की बात की जाए, तो उन्होंने 67 बार पारी में 5 विकेट और 22 बार मैच में 10 विकेट लिए। इसमें से उन्होंने 5 बार इंग्लैंड में, 2 बार न्यूजीलैंड में और 3 बार साउथ अफ्रीका में पारी में 5 विकेट लिए। जबकि, 3 बार इंग्लैंड में, 1 बार न्यूजीलैंड में और 1 बार साउथ अफ्रीका में मैच में 10 विकेट अपने नाम किया। मुरलीधरन ने घरेलू जमीन पर 493 विकेट और विदेशी जमीन पर 307 विकेट लिए थे।

शेन वॉर्न ने घरेलू मैदान से ज्यादा विदेशों में विकेट लिए
ऑस्ट्रेलिया के शेन वॉर्न ने 37 बार पारी में 5 विकेट और 10 बार मैच में 10 विकेट लिए। इसमें से उन्होंने 15 बार ऑस्ट्रेलिया में, 8 बार इंग्लैंड में, 1 बार न्यूजीलैंड में और 2 बार साउथ अफ्रीका में पारी में 5 विकेट लिए, जबकि 4 बार ऑस्ट्रेलिया में और 3 बार इंग्लैंड में मैच में 10 विकेट अपने नाम किया। वॉर्न ने घरेलू जमीन पर 319 विकेट और विदेशी जमीन पर 389 विकेट लिए थे।

कुंबले का भी विदेशी जमीन पर शानदार प्रदर्शन रहा
भारत के ही महान स्पिनर्स में शामिल अनिल कुंबले ने 35 बार पारी में 5 विकेट और 8 बार मैच में 10 विकेट लिए। इसमें से उन्होंने 4 बार ऑस्ट्रेलिया में और 1 बार साउथ अफ्रीका में पारी में 5 विकेट लिए, जबकि 1 बार ऑस्ट्रेलिया में मैच में 10 विकेट अपने नाम किया। कुंबले ने घरेलू जमीन पर 63 टेस्ट में 350 विकेट और विदेशी जमीन पर 69 टेस्ट में 269 विकेट लिए थे।

खबरें और भी हैं...