क्रिकेट / सरफराज ने पीसीबी से कहा था- कप्तानी से इस्तीफा नहीं दूंगा, चाहो तो बर्खास्त कर दो



सरफराज अहमद (फाइल)। सरफराज अहमद (फाइल)।
X
सरफराज अहमद (फाइल)।सरफराज अहमद (फाइल)।

  • पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के सीईओ वसीम खान ने सरफराज को बातचीत के लिए बुलाया था
  • इस दौरान सरफराज ने खान से कहा- मैं अपनी मर्जी से कप्तानी छोड़ने का इच्छुक नहीं हूं

Dainik Bhaskar

Oct 19, 2019, 12:27 PM IST

कराची. पाकिस्तान क्रिकेट में एक बार फिर हाईवोल्टेज ड्रामा सामने आया है। तीर्नों फॉर्मेट में कप्तानी कर रहे सरफराज अहमद को हटा दिया गया। बाबर आजम को टी-20 और अजहर अली को टेस्ट की कप्तानी सौंपी गई। न्यूज एजेंसी के मुताबिक, सरफराज ने कप्तानी छोड़ने से इनकार कर दिया था। उन्होंने कहा था कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) चाहे तो उन्हें बर्खास्त कर सकता है। इसके बाद ही उनसे कप्तानी छीन ली गई। सरफराज के हेड कोच और चीफ सिलेक्टर मिस्बाह उल हक से भी संबंध तनावपूर्ण बताए गए हैं। 


मामले की शुरुआत शुक्रवार को हुई। बोर्ड के सीईओ वसीम खान लंदन से कराची पहुंचे। यहां उन्होंने पहले पीसीबी चेयरमैन एहसान मनी से बातचीत की। इसके बाद वसीम ने सरफराज को बुलाया। सरफराज से कहा गया कि वो तीनों फॉर्मेट में कप्तानी से इस्तीफे का ऐलान करें। इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने कप्तानी छोड़ने से इनकार कर दिया। न्यूज एजेंसी ने पीसीबी सूत्रों के हवाले से बताया- सरफराज ने वसीम से कहा कि वे खुद कप्तानी नहीं छोड़ेंगे। बोर्ड चाहे तो उन्हें बर्खास्त कर सकता है। वे दो साल से कप्तान हैं।

 

टीम का वापसी का भरोसा दिलाया
रिपोर्ट के मुताबिक, एहसान मनी ने सरफराज से कहा कि वो अगर फॉर्म हासिल कर लेते हैं तो उनकी टीम में वापसी हो सकती है। दूसरी तरफ, मिस्बाह चाहते हैं कि सरफराज विकेटकीपर और बल्लेबाज के तौर पर बिल्कुल फ्लॉप रहे हैं। उनकी जगह युवा विकेटकीपर बल्लेबाज मोहम्मद रिजवान को मौका दिया जाना चाहिए। एहसान ने एक बयान में कहा- सरफराज को हटाने का फैसला आसान नहीं था, लेकिन पाकिस्तान क्रिकेट के भविष्य को देखते हुए ये जरूरी था।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना