• Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • 16 year old Shafali Verma became the youngest player ever (female or male) to play the World Cup finals across both 20 over and 50 over formats

उपलब्धि / शेफाली 16 साल 40 दिन में वर्ल्ड कप फाइनल खेलीं, दोनों फॉर्मेट में ऐसा करने वाली सबसे युवा खिलाड़ी

16-year-old Shafali Verma became the youngest player ever (female or male) to play the World Cup finals across both 20-over and 50-over formats
शेफाली वर्मा महिला टी-20 वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा रन बनाने वाली भारतीय हैं। (फाइल) शेफाली वर्मा महिला टी-20 वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा रन बनाने वाली भारतीय हैं। (फाइल)
X
16-year-old Shafali Verma became the youngest player ever (female or male) to play the World Cup finals across both 20-over and 50-over formats
शेफाली वर्मा महिला टी-20 वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा रन बनाने वाली भारतीय हैं। (फाइल)शेफाली वर्मा महिला टी-20 वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा रन बनाने वाली भारतीय हैं। (फाइल)

  • शेफाली वर्मा ने महिला-पुरुष दोनों में सबसे कम उम्र में वर्ल्ड कप फाइनल खेला 
  • इससे पहले, वेस्टइंडीज की महिला खिलाड़ी शकाना क्विनटाइन के नाम यह रिकॉर्ड था
  • उन्होंने 2013 के वनडे वर्ल्ड कप का फाइनल 17 साल 45 दिन की उम्र में खेला था

दैनिक भास्कर

Mar 08, 2020, 06:25 PM IST

खेल डेस्क. भारतीय महिला टीम की सदस्य शेफाली वर्मा किसी भी फॉर्मेट (टी-20 और वनडे) में वर्ल्ड कप फाइनल खेलने वाली सबसे युवा (महिला और पुरुष) खिलाड़ी बनीं। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ महिला टी-20 वर्ल्ड के फाइनल में उतरते ही उन्होंने यह उपलब्धि हासिल की। फाइनल खेल रही शेफाली की उम्र 16 साल 40 दिन है। इससे पहले, वेस्टइंडीज की महिला क्रिकेटर शकाना क्विनटाइन ऐसा करने वाली सबसे युवा खिलाड़ी थीं। उन्होंने 2013 में 17 साल 45 दिन की उम्र में वनडे वर्ल्ड कप का फाइनल में खेला था। 

शेफाली ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ फाइनल में बड़ी पारी नहीं खेल पाईं। वे भारतीय पारी की तीसरी गेंद पर सिर्फ 2 रन बनाकर आउट हुईं। उन्हें मेगन शूट ने विकेटकीपर एलिसा हिली के हाथों कैच आउट कराया। इससे पहले, इस भारतीय बल्लेबाज ने मौजूदा टी-20 वर्ल्ड कप के 4 मैच में 161 रन बनाए थे। इस दौरान उन्होंने उन्होंने दो मैच में 47 और 46 रन की पारी खेली थी। हालांकि, वे एक बार भी पचास का आंकड़ा नहीं पार कर पाईं। 

वर्ल्ड कप में शेफाली टी-20 रैंकिंग में नंबर-1 बल्लेबाज बनीं

इस प्रदर्शन का उन्हें टी-20 रैंकिंग में फायदा मिला और वे इस फॉर्मेट में दुनिया की नंबर-1 बल्लेबाज बनीं। उन्होंने सबसे कम 18 मैच में यह उपलब्धि हासिल की। इस भारतीय बल्लेबाज ने न्यूजीलैंड की सूजी बेट्स को एक पायदान नीचे खिसकाया था। उनकी इन पारियों की बदौलत ही भारतीय टीम वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंचीं। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना