क्रिकेट / पृथ्वी शॉ से प्रतिस्पर्धा पर गिल ने कहा- हमारे बीच कोई लड़ाई नहीं, सभी मौके का फायदा उठाना चाहते हैं

पृथ्वी शॉ की कप्तानी में अंडर-19 टीम ने 2018 में वर्ल्ड कप जीता था। शुभमन गिल टीम के सदस्य थे। पृथ्वी शॉ की कप्तानी में अंडर-19 टीम ने 2018 में वर्ल्ड कप जीता था। शुभमन गिल टीम के सदस्य थे।
X
पृथ्वी शॉ की कप्तानी में अंडर-19 टीम ने 2018 में वर्ल्ड कप जीता था। शुभमन गिल टीम के सदस्य थे।पृथ्वी शॉ की कप्तानी में अंडर-19 टीम ने 2018 में वर्ल्ड कप जीता था। शुभमन गिल टीम के सदस्य थे।

  • न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए युवा ओपनर पृथ्वी शॉ और शुभमन गिल टीम में शामिल
  • भारत-न्यूजीलैंड के बीच दो टेस्ट की सीरीज का पहला मैच 21 फरवरी से वेलिंगटन में खेला जाएगा

दैनिक भास्कर

Feb 13, 2020, 05:24 PM IST

खेल डेस्क. न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए युवा ओपनर पृथ्वी शॉ और शुभमन गिल को टीम में शामिल किया गया है। जबकि मयंक अग्रवाल का ओपनिंग करना पक्का है। ओपनिंग के लिए पृथ्वी के साथ प्रतिस्पर्धा के सवाल पर शुभमन गिल ने कहा कि हमारे बीच कोई लड़ाई नहीं है। हर युवा खिलाड़ी मौके का पूरा फायदा उठाना चाहता है। हमारा करियर साथ ही शुरू हुआ था, लेकिन हम दोनों में किसी तरह की प्रतिस्पर्धा नहीं है। हम दोनों ने अपने-अपने क्रम पर अच्छा किया है। यह टीम प्रबंधन पर है कि वे किसे मौका देते हैं।

पृथ्वी शॉ की कप्तानी में अंडर-19 भारतीय टीम ने 2018 में वर्ल्ड कप जीता था। तब शुभमन गिल टीम के सदस्य थे। भारत और न्यूजीलैंड के बीच दो टेस्ट की सीरीज का पहला मैच 21 फरवरी से वेलिंगटन में खेला जाएगा।

‘बदलते क्रम में तालमेल बैठाना ज्यादा मुश्किल नहीं’
पृथ्वी शॉ ने न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में भी ओपनिंग की थी। गिल को सिर्फ टेस्ट सीरीज के लिए चुना गया। पृथ्वी टीम के नियमित ओपनर हैं, जबकि गिल का क्रम बदलता रहता है। इस पर गिल ने कहा कि उनके लिए बदलते क्रम से तालमेल बैठाना ज्यादा मुश्किल नहीं है। मध्य क्रम में बल्लेबाजी को लेकर गिल ने कहा, ‘‘क्योंकि आप एक लय में खेल रहे होते है और गेंद ज्यादा स्विंग नहीं होती। जब फील्डिंग टीम दूसरी नई गेंद लेती है तो आपको पहले से थोड़ा सतर्क रहना होता है।’’

‘पारी की शुरुआत करना मेरे लिए नई बात नहीं’
शुभमन ने आगे कहा, ‘‘जब मुझसे पारी की शुरुआत करने को कहा गया तो यह मेरे लिए नई बात नहीं थी। जब आप नंबर-4 पर जाते हो तो आपके दो विकेट पहले से ही गिर गए होते हैं। तो यह अलग स्थिति होती है। अलग तरह का दबाव होता है। पारी की शुरुआत करते हुए आपको पूरी टीम के लिए मैच बनना होता है। आपको ऐसी नींव रखनी होती है, जो आने वाले बल्लेबाजों के लिए आसान हो। यह अलग चीज है।’’

टेस्ट टीम: विराट कोहली (कप्तान), मयंक अग्रवाल, पृथ्वी शॉ, शुभमन गिल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे (उपकप्तान), हनुमा विहारी, ऋद्धिमान साहा (विकेटकीपर), ऋषभ पंत (विकेटकीपर), रविचंद्रन अश्विन, रविंद्र जडेजा, जसप्रीत बुमराह, उमेश यादव, मोहम्मद शमी, नवदीप सैनी, इशांत शर्मा।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना