• Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • India Vs West Indies: Sourav Ganguly on omission of Ajinkya Rahane, Shubman Gill in Team India ODI Squad for WI Series

आलोचना / गांगुली ने कहा- वनडे टीम में रहाणे और गिल को शामिल नहीं करने से हैरान हूं



सौरव गांगुली। सौरव गांगुली।
X
सौरव गांगुली।सौरव गांगुली।

  • वेस्टइंडीज के खिलाफ 2 टेस्ट, 3 वनडे और 3 टी-20 के लिए भारतीय टीम में शुभमन गिल को जगह नहीं दी गई
  • अजिंक्य रहाणे टेस्ट के उपकप्तान, लेकिन फरवरी 2018 के बाद एक भी वनडे नहीं खेले

Dainik Bhaskar

Jul 24, 2019, 03:59 PM IST

खेल डेस्क. भारतीय टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने वेस्टइंडीज दौरे के लिए चुनी गई टीम को लेकर चयन समिति की आलोचना की। गांगुली ने वनडे टीम में अजिंक्य रहाणे और शुभमन गिल के नहीं होने पर हैरानी जताई। उन्होंने बुधवार को ट्वीट कर कहा कि टीम में कुछ ऐसे खिलाड़ी हैं जो सभी फॉर्मेट में खेल सकते हैं। वेस्टइंडीज दौरे के लिए चुनी गई टीम में गिल को स्थान नहीं मिला। रहाणे को सिर्फ टेस्ट टीम में शामिल किया गया। उन्होंने पिछला वनडे फरवरी 2018 में खेला था। रहाणे ने 90 वनडे में 35.26 की औसत से 2962 रन बनाए।

 

गांगुली ने बुधवार को ट्वीट किया, ‘समय आ गया है कि भारतीय चयनकर्ता लय और आत्मविश्वास के लिए सभी फॉर्मेट में समान खिलाड़ी को चुने। कुछ खिलाड़ी सभी फॉर्मेट में खेलते हैं। दुनिया की बेहतरीन टीमों में लगातार प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ी हैं। यह सभी को खुश करने के लिए नहीं है, लेकिन देश के लिए सबसे अच्छे खिलाड़ियों को चुनना है। टीम में कई ऐसे खिलाड़ी हैं जो सभी फॉर्मेट में खेल सकते हैं। शुभमन गिल और रहाणे को वनडे टीम में नहीं देखकर हैरानी हुई।’

 

 

 

चयन नहीं होने पर शुभमन ने निराशा जताई थी
शुभमन ने वेस्टइंडीज ए के खिलाफ पांच मैच में 218 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने तीन अर्धशतक लगाया। इंडिया ए के लिए उन्होंने 38 मैच में 1545 रन बनाए। आईपीएल के पिछले सीजन में उन्हें इमर्जिंग प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट का अवॉर्ड मिला था। पिछले सीजन में शुभमन ने 5 रणजी मुकाबलों में 700 रन बनाए। शुभमन ने कहा था, ‘मैं रविवार को भारतीय टीम के चयन का इंतजार कर रहा था। मुझे उम्मीद थी कि किसी एक टीम में जरूर चुना जाऊंगा। चयन नहीं होना निराशाजनक है, लेकिन मैं इस पर और नहीं सोचने वाला हूं। मैं लगातार रन बनाता रहूंगा। चयनकर्ताओं को को प्रभावित करने की अपनी क्षमता के अनुसार बेहतर प्रदर्शन करता रहूंगा।’

 

रहाणे तकनीकी रूप से मजबूत
टेस्ट टीम के उपकप्तान रहाणे 17 महीने से वनडे टीम से बाहर हैं। उन्हें वर्ल्ड कप टीम में शामिल नहीं करने पर भी पूर्व खिलाड़ियों ने चयनकर्ताओं की आलोचना की थी। इस वर्ल्ड कप में चौथे नंबर पर खिलाड़ी भी भारतीय बल्लेबाजों ने अर्धशतक नहीं लगाया था। रहाणे के तकनीकी रूप से मजबूत हैं। गांगुली इसलिए उन्हें टीम में देखना चाहते हैं। रहाणे ने मध्यक्रम (नंबर 4 से 7) में बल्लेबाजी करते हुए 31 मैच खेले। इस दौरान 32.65 की औसत से 849 रन बनाए।

 

5 खिलाड़ी सभी फॉर्मेट की टीम में
कप्तान कोहली के अलावा चार खिलाड़ी ऐसे हैं, जो सभी फॉर्मेट के लिए टीम में शामिल किए गए। इनमें रोहित शर्मा, लोकेश राहुल, रवींद्र जडेजा और ऋषभ पंत शामिल हैं। पंत को इस वर्ल्ड कप में भी खेलने का मौका मिला था। उन्हें शिखर धवन के चोटिल होने के बाद इंग्लैंड भेजा गया था। वहां पंत का प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा। उन्होंने 4 मैच में 116 रन बनाए थे। इस दौरान एक भी अर्धशतक नहीं लगाया था।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना