श्रीलंका द. अफ्रीका में सीरीज जीतने वाली पहली एशियाई टीम बनीं, मेजबान को 8 विकेट से हराया

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • इससे पहले दक्षिण अफ्रीका में ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड ही टेस्ट सीरीज जीत पाए
  • श्रीलंका ने दक्षिण अफ्रीका में पहली टेस्ट सीरीज 1998 में खेली थी
  • भारत ने दक्षिण अफ्रीका में 7 और पाकिस्तान ने 6 टेस्ट सीरीज खेलीं

खेल डेस्क. श्रीलंका ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दो टेस्ट की सीरीज का आखिरी मैच आठ विकेट से जीत लिया। इसके साथ ही उसने 2-0 से सीरीज अपने नाम की। श्रीलंका दक्षिण अफ्रीका में टेस्ट सीरीज जीतने वाली पहली एशियाई और दुनिया की तीसरी टीम है। इससे पहले दक्षिण अफ्रीका में ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड ही टेस्ट सीरीज जीत पाए हैं। इंग्लैंड ने मार्च 1889 से लेकर जनवरी 2016 तक अफ्रीका में 11 टेस्ट सीरीज जीती हैं। वहीं, ऑस्ट्रेलिया ने नवंबर 1902 से मार्च 2014 तक अफ्रीका में 10 टेस्ट सीरीज अपने नाम की हैं।

 

1) श्रीलंका ने 21 साल बाद अफ्रीका में जीती टेस्ट सीरीज

श्रीलंका ने दक्षिण अफ्रीका में पहली टेस्ट सीरीज 1998 में खेली थी। तब से अब तक वह 6 टेस्ट सीरीज खेल चुका है। इसमें से उसने एक सीरीज जीती और 5 हारी हैं। अब से पहले भारत ने अफ्रीका में कुल 7 टेस्ट सीरीज खेली हैं। इनमें से उसने 6 सीरीज हारीं, जबकि एक ड्रॉ रही। पाकिस्तान ने अफ्रीका के खिलाफ उसी के घर में 6 टेस्ट सीरीज खेली हैं। इनमें से उसे 5 में हार का सामना करना पड़ा और एक सीरीज ड्रॉ रही। बांग्लादेश ने तीन टेस्ट सीरीज खेलीं और तीनों में ही उसे हार मिली है।

श्रीलंका ने दक्षिण अफ्रीका को डरबन के मैदान पर खेले गए सीरीज के पहले मुकाबले में एक विकेट से हराया था। मैच में श्रीलंकन कुसल परेरा ने नाबाद 153 रन की पारी खेली। मैच में अफ्रीका ने 304 रन का लक्ष्य दिया था। इसका पीछा करते हुए श्रीलंकाई टीम एक समय 226 रन पर अपने 9 विकेट गंवा चुकी थी। इसके बाद परेरा ने विश्वा फर्नांडो (नाबाद 6) रन के साथ 10वें विकेट के लिए 95 गेंद में 78 रन की साझेदारी की। दोनों की नाबाद साझेदारी की बदौलत श्रीलंका डरबन में सात साल बाद टेस्ट जीत पाया।

टीमटेस्ट सीरीजजीतीहारी

ड्रॉ

श्रीलंका6150
भारत7061
पाकिस्तान6051
बांग्लादेश3030

श्रीलंका ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरा टेस्ट के तीसरे ही दिन शनिवार को आठ विकेट से जीत लिया। मैच में लंका की ओर से ओशादा फर्नांडो ने नाबाद 75 और कुशल मेंडिस नाबाद 84 रन की पारी खेली। दोनों के बीच तीसरे विकेट के लिए 163 रन की विनिंग पार्टनरशिप हुई। कुशल मेंडिस को मैन ऑफ द मैच और कुशल परेरा को मैन ऑफ द सीरीज चुना गया।

दक्षिण अफ्रीका ने पहली पारी में 222 रन बनाए थे, जबकि श्रीलंका की टीम 154 रन पर सिमट गई थी। दक्षिण अफ्रीका ने दूसरी पारी में 128 रन बनाते हुए श्रीलंका को 197 रन का लक्ष्य दिया। दूसरी पारी में सुरंगा लकमल ने 39 रन पर चार विकेट और धनंजय डिसिल्वा ने 36 रन पर तीन विकेट लिए। श्रीलंका ने 45.4 ओवर में दो विकेट पर 197 रन बनाकर ऐतिहासिक जीत हासिल की। फर्नांडो ने नाबाद 75 और मेंडिस ने नाबाद 84 रन बनाए। अपनी पारी में फर्नांडो ने 10 चौके और दो छक्के लगाए।

दक्षिण अफ्रीका पहली पारी: क्विंटन डी कॉक 86 रन, विश्वा फर्नांडे 62/3 और कसुन रजीथा 67/3।
श्रीलंका पहली पारी: निरोशन डिकवेला 42 रन, कगिसो रबाडा 38/4।
दक्षिण अफ्रीका दूसरी पारी: फाफ डु प्लेसिस नाबाद 50 रन, सुरंगा लकमल 39/4।
श्रीलंका दूसरी पारी: कुशल मेंडिस नाबाद 84 रन, कगिसो रबाडा 53/1।