स्टुअर्ट बिन्नी ने लिया संन्यास:बांग्लादेश के खिलाफ झटके थे 4 रन देकर 6 विकेट, भारत के लिए यह वनडे में बेस्ट बॉलिंग का रिकॉर्ड

3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भारतीय ऑलराउंडर स्टुअर्ट बिन्नी क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास का ऐलान कर दिया है। 2015 के बाद से उन्होंने एक भी अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं खेला था और पिछले छह साल से राष्ट्रीय टीम से भी बाहर चल रहे थे। स्टुअर्ट बिन्नी पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज रोजर बिन्नी के बेटे हैं। बिन्नी ने टीम इंडिया के लिए 6 टेस्ट, 14 एकदिवसीय और 3 टी-20 आई मैच खेले।

वनडे में सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी का रिकॉर्ड
साल 2014 में बांग्लादेश के खिलाफ स्टुअर्ट बिन्नी ने मात्र 4 रन देकर 6 विकेट हासिल किए थे और भारत के लिए वनडे में सबसे बढ़िया गेंदबाजी का वर्ल्ड रिकॉर्ड भी कायम किया था, जो आज तक उनके ही नाम पर दर्ज है।

2014 के इंग्लैंड दौरे पर बिन्नी को टेस्ट डेब्यू करने का मौका मिला था और उन्होंने दूसरी पारी में आठवें क्रम पर बल्लेबाजी करते हुए 114 गेंदों पर 78 रनों की शानदार पारी खेली थी और मुकाबला ड्रॉ कराने में एक अहम किरदार निभाया था।

आगे भी इस खेल में देता रहूंगा योगदान
स्टुअर्ट बिन्नी ने एक प्रेस स्टेटमेंट जारी करते हुए कहा- अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देश को प्रतिनिधित्व करके मुझे बहुत अच्छा महसूस हुआ। मैं बीसीसीआई और कर्नाटका क्रिकेट संघ को धन्यवाद देना चाहता हूं, जिनके समर्थन के बिना मैं कभी इतना आगे नहीं बढ़ सकता था। कर्नाटका की कप्तानी करना और रणजी ट्रॉफी जीतना एक अलग ही अनुभव और गौरव का क्षण था। क्रिकेट मेरी खून में बहता है और मैं आगे भी इस खेल के लिए अपना योगदान देता रहूंगा।

ऐसा रहा इंटरनेशनल करियर
37 वर्षीय ऑलराउंडर ने 2014 में न्यूजीलैंड के खिलाफ अपने अंतरराष्ट्रीय करियर का आगाज किया था। भारत के लिए बिन्नी ने 6 टेस्ट मैचों में 194 रन बनाए और तीन विकेट लेने में सफल रहे। वहीं, 14 वनडे मैचों में उनके बल्ले से 230 रन निकले और वह 20 विकेट हासिल कर सके। 3 टी-20 आई मैचों में बिन्नी ने 35 रन बनाए और एक ही विकेट चटका सके।

2 सालों से नहीं मिला था IPL कॉन्ट्रैक्ट
दो साल से स्टुअर्ट बिन्नी को आईपीएल की किसी भी टीम से कोई कॉन्ट्रैक्ट तक नहीं मिला था। उन्होंने 2019 में राजस्थान रॉयल्स के लिए अपना आखिरी आईपीएल मैच खेला था। आईपीएल में उन्होंने राजस्थान रॉयल्स, मुंबई इंडियंस और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए कुल 95 मैच खेले और 128.85 के स्ट्राइक रेट के साथ 880 रन बनाने में सफल हुए, जबकि 34.45 की औसत के साथ उनके खाते में 22 विकेट आए।

खबरें और भी हैं...