• Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Virat Kohli Captaincy Future | Former India Batsman Suresh Raina On Kohli's Over ICC IPL Trophy

सुरेश रैना का कोहली पर तंज:पूर्व क्रिकेटर बोले- लोग विराट से ICC ट्रॉफी जीतने की उम्मीद करते हैं, जबकि उन्होंने तो अब तक IPL ट्रॉफी भी नहीं जीती

मुंबई3 महीने पहले

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (WTC) फाइनल में हार के बाद से विराट कोहली की कप्तानी पर सवाल उठ रहे हैं। कुछ फैंस को लगता है कि विराट को तीनों फॉर्मेट में कप्तानी नहीं करनी चाहिए और स्प्लिट कैंप्टेंसी को बढ़ावा दिया जाना चाहिए। पर पूर्व भारतीय क्रिकेटर सुरेश रैना चाहते हैं कि विराट को थोड़ा समय दिया जाए।

रैना ने विराट की चुटकी भी ली। उन्होंने कहा कि विराट से लोग ICC ट्रॉफी की उम्मीद कर रहे हैं, लेकिन वे तो अब तक IPL ट्रॉफी भी नहीं जीत सके हैं। उन्हें तो अभी शुरुआत करने की जरूरत है।

विराट समय के साथ और निखरते जाएंगे

रैना ने न्यूज 24 स्पोर्ट्स को दिए इंटरव्यू में कहा कि विराट को समय मिलेगा तो वे और निखरेंगे। वे नंबर-1 कप्तान हैं। विराट का रिकॉर्ड बताता है कि उन्होंने अपने करियर में काफी कुछ अचीव किया है। वे नंबर-1 बैट्समैन भी हैं। उन्हें शुरू से शुरुआत करने दिया जाए। विराट कोहली और सुरेश रैना 2011 में वनडे वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम इंडिया का हिस्सा थे।

विराट कोहली और सुरेश रैना 2011 में वनडे वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम इंडिया का हिस्सा थे।
विराट कोहली और सुरेश रैना 2011 में वनडे वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम इंडिया का हिस्सा थे।

WTC फाइनल बैटिंग की वजह से हारी टीम इंडिया

रैना ने कहा कि अगले कुछ सालों में 2-3 वर्ल्ड कप होने हैं। इसमें 2 टी-20 वर्ल्ड कप और एक वनडे वर्ल्ड कप शामिल है। फाइनल तक पहुंचना आसान नहीं है। कभी-कभी फाइनल में पहुंचकर आप कुछ चीजें मिस कर जाते हैं। रैना ने कहा कि WTC फाइनल में टीम इंडिया वेदर कंडीशन की वजह से नहीं बल्कि खराब बल्लेबाजी की वजह से हारी।

सीनियर बैट्समैन को जिम्मेदारी लेनी पड़ेगी

रैना ने कहा कि टीम में शामिल सीनियर बैट्समैन को जिम्मेदारी लेनी पड़ेगी। फैंस के टीम पर नाराज होने को लेकर उन्होंने कहा कि हम चोकर्स नहीं हैं। हमने 1983, 2007 और 2011 वर्ल्ड कप में खुद को प्रूव किया है। हमारे खिलाड़ी कड़ी मेहनत कर रहे हैं।

अगले 12-16 महीनों में भारत के पास ICC ट्रॉफी होगी

रैना ने कहा कि विराट गेम बदलने की काबिलियत रखते हैं। हमें टीम के नए स्टाइल का सम्मान करना चाहिए। मुझे लगता है कि अगले 12 से 16 महीने में हमारे पास ICC ट्रॉफी होगी। इसलिए टीम को थोड़ा समय दीजिए। विराट ट्रॉफी लाने में कामयाब जरूर होंगे।

विराट ने टेस्ट में पूर्व कप्तान धोनी को पीछे छोड़ा

विराट ने WTC फाइनल में पूर्व कप्तान एमएस धोनी को पीछ छोड़ दिया था। विराट अब सबसे ज्यादा टेस्ट मैचों में भारत की अगुआई करने वाले कप्तान बन गए हैं। उन्होंने अब तक 61 टेस्ट में टीम इंडिया की कप्तानी की है। धोनी ने 60 मैचों में भारत की कप्तानी की थी। टीम इंडिया को सबसे ज्यादा टेस्ट में जीत दिलाने के मामले में विराट कोहली पहले ही सबसे सफल कप्तान हैं।

विराट ने अब तक भारत को 36 टेस्ट मैचों में जीत दिलाई है। 15 में हार का सामना किया और 10 टेस्ट ड्रॉ रहे। सबसे ज्यादा जीत का रिकॉर्ड भी विराट से पहले धोनी के ही नाम था। धोनी ने 60 टेस्ट में से 27 में टीम इंडिया को जीत दिलाई थी।

बतौर कप्तान सबसे ज्यादा रन के मामले में चौथे नंबर पर

विराट कोहली बतौर कप्तान सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में दुनिया में चौथे स्थान पर हैं। उन्होंने बतौर कप्तान 61 टेस्ट मैचों में 5,449 रन बनाए हैं। इस मामले में साउथ अफ्रीका के ग्रीम स्मिथ पहले स्थान पर हैं। उन्होंने 109 मैचों में 8,659 रन बनाए हैं। ऑस्ट्रेलिया के एलेन बॉर्डर 93 मैचों में 6623 रन के साथ दूसरे स्थान पर हैं। रिकी पोंटिंग (77 टेस्ट में 6,542 रन) तीसरे स्थान पर हैं।

विराट की कप्तानी में टीम 3 ICC टूर्नामेंट के नॉकआउट से बाहर

2016 में धोनी के क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से कप्तानी से हटने के बाद टीम इंडिया ने 3 ICC टूर्नामेंट खेले हैं। यह सभी विराट की कप्तानी में खेले गए। पर टीम सभी में चोकर साबित हुई और नॉकआउट राउंड में जाकर बाहर हो गई। 2017 चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में पाकिस्तान ने भारत को हराया। वहीं, 2019 वनडे वर्ल्ड कप में टीम इंडिया को सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड ने हराया था। 2021 WTC फाइनल में एक बार फिर न्यूजीलैंड ने ही शिकस्त दी।

विराट की कप्तानी में टेस्ट में टीम इंडिया की परफॉर्मेंस शानदार

हालांकि, विराट की कप्तानी में टीम इंडिया ने टेस्ट में जरूर अच्छा प्रदर्शन किया है। 2014 से लेकर अब तक कुल 45 महीने टीम इंडिया नंबर-1 रैंक पर रह चुकी है। धोनी के कप्तानी से हटने के बाद टीम इंडिया ने जनवरी से फरवरी 2016 और अगस्त 2016 में 1-1 महीन के लिए यह रैंक हासिल की थी।

इसके बाद टीम अक्टूबर 2016 से अप्रैल 2020 तक नंबर-1 पोजिशन पर रही। मार्च 2021 में एक बार फिर विराट एंड कंपनी ने टेस्ट में यह रैंक हासिल की है। हालांकि इस महीने न्यूजीलैंड ने टीम इंडिया को हटाकर नंबर-1 पोजिशन अपने नाम की।

IPL में सफल कप्तानों की लिस्ट में विराट चौथे नंबर पर

विराट IPL फ्रेंचाइजी रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के कप्तान हैं। जीत के मामले में वे चेन्नई सुपर किंग्स के धोनी, मुंबई इंडियंस के रोहित शर्मा और कोलकाता नाइट राइडर्स के गौतम गंभीर के बाद चौथे नंबर पर हैं। हालांकि उनके नाम एक भी IPL ट्रॉफी नहीं है। धोनी ने 195 मैचों में कप्तानी की है। इसमें से टीम 115 मैचों में जीती।

गौतम गंभीर ने 129 मैचों में कप्तानी की और 71 मैचों में जीत दिलाई। रोहित ने 123 मैचों में कप्तानी की और 74 मैचों में टीम जीती। जबकि विराट ने 132 मैचों में कप्तानी की है और बेंगलुरु इसमें से सिर्फ 60 मैच जीत सकी। विराट 2011 से RCB के कप्तान हैं।

खबरें और भी हैं...