• Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • T20 World Cup 2022 Semi Final Qualification Scenario Australia New Zealand | Afghanistan Point Table

सेमीफाइनल में भारत पहुंचा तो किससे होगी भिड़ंत:जानिए ग्रुप-1 का पूरा समीकरण, टॉप-4 टीमों के 3-3 अंक

स्पोर्ट्स डेस्क3 महीने पहले

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच शुक्रवार को सुपर-12 के ग्रुप-1 का मुकाबला बारिश की भेंट चढ़ गया। ये मैच सेमीफाइनल में पहुंचने के लिहाज से दोनों टीमों के लिए काफी अहम था।

इसके अलावा शुक्रवार को एक और मैच अफगानिस्तान और आयरलैंड के बीच खेला जाना था। यह मैच भी बारिश के कारण रद्द हो गया। अब इस ग्रुप की 6 में से 4 टीमें न्यूजीलैंड, ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और आयरलैंड 3-3 पॉइंट पर अटकी हुई हैं। इससे ग्रुप में कॉम्पिटिशन बहुत बढ़ गया है। भारतीय टीम अगर टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंचती है तो इन्हीं में से किसी एक के साथ भिड़ंत हो सकती है।

हम इस स्टोरी में जानेंगे कि ग्रुप-1 में टॉप-2 पोजीशन पर रहने के लिए टीमों को आगे क्या करना होगा। इससे पहले हमारे इस पोल में अपनी राय दे दीजिए...

पहले इस ग्रुप का पॉइंट टेबल देख लेते हैं

सबसे पहले श्रीलंका की बात
श्रीलंका के खाते में 2 मैचों से 2 अंक हैं। श्रीलंका का नेट रन रेट +0.45 है। दासुन शनाका की कप्तानी वाली टीम को अभी तीन मुकाबले और खेलने हैं। टूर्नामेंट की टॉप-4 टीमों में जगह बनाने के लिए उसे इंग्लैंड, न्यूजीलैंड और अफगानिस्तान को हराना होगा। अगर ये तीनों मैच टीम जीत जाती है तो वह 8 पॉइंट्स के साथ आसानी से टॉप-4 में पहुंच जाएगी। दो मैच जीतने की स्थिति में टीम को अन्य टीमों के नतीजे पर निर्भर रहना होगा।

इंग्लैंड-ऑस्ट्रेलिया भी अभी रेस में हैं
अगर शुक्रवार को ऑस्ट्रेलिया Vs न्यूजीलैंड मैच हो जाता तो इसमें हारने वाली टीम के लिए अंतिम चार में पहुंचना लगभग असंभव हो जाता। बारिश के कारण मैच रद्द होने से अब दोनों ही टीमें रेस में कायम हैं। इनमें से जो भी टीम अपने आखिरी दोनों मुकाबले जीत लेगी सेमीफाइनल में पहुंचने की उसकी उम्मीद ज्यादा होगी।

अभी इंग्लैंड की टीम तीन मैचों में तीन अंक के साथ दूसरे स्थान पर गई है। वहीं, ऑस्ट्रेलिया के अब तीन मैचों में तीन अंक है और उसका नेट रन रेट -1.555 है जो इंग्लैंड के +0.239 नेट रन रेट से काफी खराब है।

ऑस्ट्रेलिया सुपर-12 में अगले दो मुकाबले आयरलैंड और अफगानिस्तान से खेलने वाली है। ऑस्ट्रेलिया अगर इन टीमों से बड़े अंतर से जीतती है तो उसका नेट रन बेहतर हो जाएगा।

वहीं, दूसरी तरफ इंग्लैंड को न्यूजीलैंड और श्रीलंका की टीमों का सामना करना है। न्यूजीलैंड ने पहले ही मैच में मेजबान ऑस्ट्रेलिया को हराया था। ऐसे में इंग्लैंड के लिए कीवी टीम को हराना आसान नहीं होगा।

अगर इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया अपने-अपने बाकी बचे मैच जीत जाती है तो इनके 7-7 अंक होंगे।

न्यूजीलैंड टॉप पर
न्यूजीलैंड 3 अंकों के साथ ग्रुप-1 में टॉप पर है। अभी उसको 3 और मैच श्रीलंका, इंग्लैंड और आयरलैंड के खिलाफ खेलने हैं। इन तीनों मुकाबले को अगर न्यूजीलैंड की टीम जीत लेती है तो उसके 9 अंक हो जाएंगे और टीम आसानी से सेमीफाइनल में पहुंच जाएगी।

हालांकि ये इतना आसान नहीं होगा। अगर न्यूजीलैंड की टीम श्रीलंका और इंग्लैंड से हार जाती है और आयरलैंड से जीत जाती है तो उसके सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीद न के बराबर रह जाएगी।

आयरलैंड और अफगानिस्तान का सेमीफाइनल में पहुंचना मुश्किल
आयरलैंड को ग्रुप-1 में दो बड़े मैच खेलने हैं। ये दोनों टीमें ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड हैं, दोनों टीमों ने पिछले वर्ल्ड कप में फाइनल का सफर तय किया था। अभी आयरलैंड के तीन पॉइंट हैं और उसे सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए 2 मुकाबले हर हाल में जीतने होंगे। अगर वह एक भी मैच हारती है तो सेमीफाइनल के रेस से बाहर हो जाएगी।

अफगानिस्तान सेमीफाइनल की रेस से लगभग बाहर है। उसने अभी तक सुपर-12 में तीन मुकाबले खेले हैं। इंग्लैंड के खिलाफ उसे हार मिली। वहीं, आयरलैंड और न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच बारिश के कारण धुल गया था। ऐसे में उसके अभी 2 पॉइंट हैं।

अफगानिस्तान को इस ग्रुप में 2 और मैच श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलने हैं, जो उसके लिए काफी मुश्किल मुकाबले होंगे। अगर एक भी मुकाबला अफगानिस्तान हारती है तो वह सेमीफाइनल से बाहर हो जाएगी।

भारत का किससे हो सकता है सामना

अगर भारतीय टीम ग्रुप-2 में टॉप पर रहती है तो सेमीफाइनल में उसकी भिड़ंत ग्रुप-1 में दूसरे नंबर पर रहने वाली टीम से होगी। वहीं, भारत अगर दूसरे नंबर पर रहता है तो उसका मुकाबला ग्रुप-1 के टेबल टॉपर से होगा। अभी तक की स्थिति में न्यूजीलैंड के टेबल टॉपर बनने के आसार ज्यादा नजर आ रहे हैं। वहीं, दूसरे स्थान के लिए ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड में होड़ रहने की उम्मीद है। हालांकि, लगातार बारिश और एक के बाद एक उलटफेर के कारण अभी कुछ भी प्रिडिक्ट कर पाना काफी मुश्किल है।

टी-20 वर्ल्ड कप से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ें...

एशिया कप से किंग कोहली का पुनर्जन्म:12 मैच में 78.28 की औसत से 548 रन बनाए, सूर्या की चमक भी फीकी

विराट कोहली आउट ऑफ फॉर्म हैं...उन्हें टीम से ड्रॉप कर दिया जाना चाहिए...भारतीय टीम में उनकी जगह नहीं बनती ...। ये कुछ ऐसे स्टेटमेंट हैं जो दो महीने पहले तक सुर्खियों में बने हुए थे। इनके पीछे ठोस वजह भी थी। विराट करीब तीन साल कोई शतक नहीं जमा पाए थे। उनके शॉट बेजान साबित हो रहे थे और औसत-स्ट्राइक रेट में लगातार गिरावट आ रही थी। तभी शुरू होता है एशिया कप। यहां से विराट की किस्मत ने पलटी मारी। पूरी खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें

अवॉर्ड के लिए उतावले सूर्या:ट्रॉफी मिलने वाली थी, पहले ही कहा- लाओ यहां दे दो

टी-20 वर्ल्ड कप में गुरुवार को भारत ने नीदरलैंड के खिलाफ शानदार जीत हासिल की। सूर्या ने 207 के स्ट्राइक रेट से 25 गेंद में 51 रन की धमाकेदार पारी खेली। उन्हें प्लेयर ऑफ द मैच का अवॉर्ड मिला। अवॉर्ड लेने से पहले सूर्या उतावले दिखे। दरअसल, जब इसका ऐलान हुआ तो मजाक में ही सही सूर्या ने प्रेजेंटर से कहा- लाओ भैया दे दो। इसका वीडियो वायरल हो रहा है। पूरी खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें

2019-वर्ल्ड कप के लिए क्वालिफाई भी नहीं हुआ था जिम्बाब्वे:अब पाकिस्तान को हरा दुनिया को चौंकाया; जानिए, पूर्व भारतीय कोच ने कैसे बदली किस्मत

आज की स्टोरी में हम जानेंगे कि एक जमाने में दमदार टीम बनती जा रही जिम्बाब्वे अचानक रसातल में कैसे चली गई और एक भारतीय की मदद से यह फिर से पुराने रुतबे को कैसे हासिल करने में जुटी है। पाकिस्तान को एक रन से हराकर टी-20 वर्ल्ड कप का सबसे बड़ा उलटफेर करने वाली टीम जिम्बाब्वे की सक्सेस स्टोरी पढ़ने के लिए क्लिक करें