टीम इंडिया की बढ़ी परेशानी:तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी अब तक फिट नहीं, शरीर में तेज दर्द बरकरार, कोरोना टेस्ट टला

8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

ऑस्ट्रेलिया से मोहाली में टी-20 मैच गंवा चुकी टीम इंडिया की परेशानी खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। कोरोना की वजह से ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 3 मैचों की सीरीज से बाहर हुए मोहम्मद शमी अभी तक फिट नहीं हुए हैं। उनके शरीर में अभी तेज दर्द है। जिसकी वजह से गुरुवार को होने वाला कोरोना टेस्ट सोमवार तक के लिए टाल दिया गया है। अगर शमी फिट नहीं होते हैं, तो उनका साउथ अफ्रीका के खिलाफ टी-20 मैचों की सीरीज में भी खेलना भी मुश्किल हो सकता है।

शमी का 20 सितंबर को मोहाली में खेले जाने वाले मैच से एक दिन पहले कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आया था। जिसके बाद उनकी जगह तीन साल से टी-20 से बाहर चल रहे उमेश यादव को टीम में शामिल किया गया है। हालांकि पहले मैच में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 208 रन का विशाल स्कोर बनाने के बावजूद भारतीय टीम को 4 विकेट से हार का सामना करना पड़ा।

भारतीय क्रिकेट बोर्ड के सूत्रों ने दैनिक भास्कर को बताया कि मोहम्मद शमी की हालत में सुधार है, पर उनके शरीर में अब भी तेज दर्द बरकरार है। जिसकी वजह से गुरुवार को होने वाला कोरोना टेस्ट को तीन दिन के लिए टाल दिया गया है।

शमी को भुवनेश्वर की जगह टीम में शामिल किए जाने की हो रही है मांग
ऑस्ट्रेलिया में अगले महीने वाले टी-20 वर्ल्ड कप के लिए मोहम्मद शमी को शामिल किए जाने की मांग की जा रही है। कई दिग्गजों ने शमी को टी-20 वर्ल्ड कप के लिए 15 स्कॉयड में शामिल नहीं किए जाने पर सवाल उठाए हैं। हालांकि शमी को रिजर्व खिलाड़ी के तौर पर वर्ल्ड कप के लिए टीम में रखा गया है।

दरअसल ऑस्ट्रेलिया की पिच तेज और सीम वाली होती है। शमी जिस तरह के गेंदबाज हैं, वह वहां पर अपनी बाउंस और सीम बॉलिंग से बल्लेबाजों को परेशान कर सकते हैं। साथ ही शमी के पास स्पीड भी है। इससे उन्हें ऑस्ट्रेलिया में काफी मदद मिलने की संभावना है। वहीं, अभी जिन तेज गेंदबाजों का भारतीय टीम में चयन हुआ है उनमें जसप्रीत बुमराह को छोड़ दें तो कोई ऐसा गेंदबाज नहीं है जो 140 से ज्यादा की स्पीड से गेंदबाजी कर सके। ऐसे में मोहम्मद शमी जैसे गेंदबाज को मौका दिया जाना तय माना जा रहा है।

IPL 2022 में शमी का प्रदर्शन शानदार रहा था
इस IPL सीजन में मोहम्मद शमी गुजरात की टीम का हिस्सा थे और उन्होंने अपनी शानदार गेंदबाजी से टीम को चैंपियन भी बनाया था। उन्होंने 16 मैचों में 20 विकेट झटके थे। इस दौरान उनका औसत 24.40 का था। वहीं, उनकी इकोनॉमी 8 की रही।

बुमराह भी नहीं हुए हैं अभी तक पूरी तरह से फिट

एशिया कप से बाहर चल रहे जसप्रीत बुमराह अभी पूरी तरह से फिट नहीं है। मोहाली में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए पहले टी-20 मैच में वह प्लेइंग इलेवन में शामिल नहीं थे। हालांकि नागपुर में शुक्रवार को होने वाले दूसरे टी-20 मैच के लिए उनके प्लेइंग इलेवन में शामिल होने को लेकर संशय बरकरार है।

खबरें और भी हैं...