• Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Prithvi Shaw Ban: Team India opener Prithvi Shaw Ban To Expire Soon, Likley to Play Syed Mushtaq Ali Trophy match

क्रिकेट / पृथ्वी शॉ का बैन 16 नवंबर को खत्म होगा; मुंबई टीम में मुश्ताक अली ट्रॉफी के लिए चयन संभव



पृथ्वी शॉ पर 15 मार्च को डोपिंग मामले में 8 महीने का बैन लगा था। ये 16 नवंबर को खत्म हो जाएगा। (फाइल) पृथ्वी शॉ पर 15 मार्च को डोपिंग मामले में 8 महीने का बैन लगा था। ये 16 नवंबर को खत्म हो जाएगा। (फाइल)
X
पृथ्वी शॉ पर 15 मार्च को डोपिंग मामले में 8 महीने का बैन लगा था। ये 16 नवंबर को खत्म हो जाएगा। (फाइल)पृथ्वी शॉ पर 15 मार्च को डोपिंग मामले में 8 महीने का बैन लगा था। ये 16 नवंबर को खत्म हो जाएगा। (फाइल)

  • डोपिंग टेस्ट में पॉजिटिव पाने के बाद इस युवा बल्लेबाज पर 15 मार्च को 8 महीने का बैन लगाया गया था
  • पृथ्वी ने स्वीकार किया था- जुखाम के दौरान कफ सीरप लिया था, उन्हें इसमें ड्रग होने की जानकारी नहीं थी

Dainik Bhaskar

Nov 08, 2019, 03:41 PM IST

खेल डेस्क. 9 नवंबर को 20वां जन्मदिन मनाने जा रहे टीम इंडिया के टेस्ट ओपनर पृथ्वी शॉ के लिए अच्छी खबर है। डोपिंग की वजह से 8 महीने का बैन झेल रहे शॉ का चयन मुंबई टीम में हो सकता है। यह बैन 16 नवंबर को समाप्त हो रहा है। इसी दौरान सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी खेली जाएगी। इसके लिए मुंबई टीम की घोषणा फिलहाल नहीं हुई है। मुंबई की एडहॉक चयन समिति के अध्यक्ष मिलिंग रेगे के मुताबिक, पृथ्वी के चयन पर विचार जरूर किया जाएगा। शॉ को 15 मार्च को 8 महीने के लिए बैन किया गया था। उनके यूरिन सैम्पल में प्रतिबंधित पदार्थ ‘टर्बुटेलाइन’ पाया गया था। 

 

पहले 6 मैचों में नहीं खेल पाएंगे पृथ्वी
शुरुआत में तीन मैचों के लिए टीम घोषित की जाएगी, क्योंकि श्रेयस अय्यर, शार्दुल ठाकुर और शिवम दुबे इस वक्त टीम इंडिया के साथ बांग्लादेश के खिलाफ टी20 सीरीज खेल रहे हैं। मुंबई को ग्रुप स्टेज में कुल 7 मैच खेलने हैं। इनमें से 6 मैच पृथ्वी नहीं खेल पाएंगे क्योंकि तब तक उनका बैन खत्म नहीं होगा। आखिरी मैच के लिए उनका चयन संभव है। मिलिंग ने कहा, “16 नवंबर को वो बैन से फ्री हो जाएगा। हम निश्चित तौर पर उसके चयन के बारे में विचार करेंगे। हालांकि, मैं ये वादा नहीं कर सकता कि उसकी वापसी हो ही जाएगी।”

 

अनजाने में हुई थी गलती
22 फरवरी 2019 को इंदौर में हुए एक मैच के बाद शॉ का यूरिन सैम्पल लिया गया था। इसमें प्रतिबंधित दवा ‘टर्बुटेलाइन’ पाई गई। आमतौर पर खांसी और सर्दी की दवाओं में यह ड्रग पाया जाता है। पृथ्वी ने स्वीकार किया था कि उन्होंने जुखाम के दौरान कफ सीरप लिया था, हालांकि उन्हें इस ड्रग के बारे में जानकारी नहीं थी। बीसीसीआई शॉ के जवाब से संतुष्ट थी। उसने माना था कि इस युवा बल्लेबाज का इरादा गलत नहीं था। पृथ्वी के अलावा विदर्भ के अक्षय दुलारवर और राजस्थान के दिव्य गजराज पर भी डोपिंग बैन लगा था। पृथ्वी ने पिछले साल वेस्ट इंडीज के खिलाफ टेस्ट डेब्यू किया था। उन्होंने पहले ही टेस्ट में शतक भी लगाया। कुल दो टेस्ट में वो 237 रन बना चुके हैं। इनमें एक अर्धशतक भी शामिल है।

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना