टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल की संभावित प्लेइंग-11:न्यूजीलैंड के खिलाफ 3 पेसर्स के साथ उतर सकती है टीम इंडिया, ओपनिंग में रोहित के साथ 3 प्लेयर दावेदार

साउथैम्प्टन7 महीने पहले

ICC टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल के लिए अब करीब डेढ़ महीने का ही वक्त बचा है। यह मुकाबला इंडिया और न्यूजीलैंड के बीच इंग्लैंड में साउथैम्प्टन के रोज बाउल स्टेडियम में खेला जाएगा। फाइनल के लिए 20 सदस्यीय टीम इंडिया का ऐलान कर दिया गया है। 4 खिलाड़ी स्टैंडबाय भी रखे हैं। आइए जानते हैं फाइनल में टीम इंडिया की संभावित प्लेइंग-11 क्या हो सकती है।

विराट कोहली की कप्तानी में प्लेइंग-11 लगभग तैयार ही है। टीम 6 बैट्समैन, 2 स्पिन ऑलराउंडर और 3 तेज गेंदबाजों के साथ मैदान में उतर सकती है। विकेटकीपर बल्लेबाज के तौर पर ऋषभ पंत को मौका दिया जा सकता है।

कप्तान के लिए मुश्किल काम सिर्फ ओपनिंग जोड़ी चुनना रहेगी। इसमें रोहित शर्मा के साथ शुभमन गिल, मयंक अग्रवाल और लोकेश राहुल में से किसी एक को मौका मिल सकता है। हालांकि, राहुल को अभी अपना फिटनेस टेस्ट पास करना बाकी है। परफॉर्मेंस के आधार पर तुलना...

  • मयंक ने पिछले 5 टेस्ट में 180 रन बनाए हैं। पिछला मैच उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ब्रिस्बेन में इसी साल 15 जनवरी को खेला था। इसमें उन्होंने मिडिल ऑर्डर में बल्लेबाजी करते हुए 38 और 9 रन बनाए थे। हालांकि, IPL के पिछले मैच में वे 99 रन की नाबाद पारी खेल चुके हैं।
  • शुभमन ने सिर्फ 7 टेस्ट खेले, जिसमें 378 रन बनाए हैं। उन्होंने कोई शतक नहीं लगाया, लेकिन 3 फिफ्टी जड़ी हैं। पिछले टेस्ट में इंग्लैंड के खिलाफ शुभमन खाता भी नहीं खोल सके थे। यह मैच इसी साल 4 मार्च को अहमदाबाद में खेला गया था। शुभमन IPL में भी फ्लॉप रहे। पिछले 5 मैच में सिर्फ 84 रन ही बना सके।
  • राहुल ने पिछले 5 टेस्ट में सिर्फ 158 रन बनाए। उन्होंने अपना पिछला टेस्ट अगस्त 2019 में वेस्टइंडीज के खिलाफ किंग्स्टन में खेला था। इस मैच में उन्होंने 13 और 6 रन ही बनाए थे। हालांकि, IPL के पिछले 5 मैच में वे 3 फिफ्टी लगा चुके हैं।

कोहली, रहाणे, पुजारा और पंत पर मिडिल ऑर्डर का दारोमदार
टीम इंडिया का मिडिल ऑर्डर कप्तान विराट कोहली, उपकप्तान अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा के साथ विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत संभालते दिख सकते हैं। रोज बाउल की पिच पर कोहली, रहाणे और पुजारा को 2-2 टेस्ट खेलने का अनुभव भी है। पुजारा यहां शतक भी जमा चुके हैं। यह तीनों ही साउथैम्प्टन के मैदान पर सबसे ज्यादा रन बनाने वाले टॉप-3 बल्लेबाज भी हैं।

वहीं, पंत ने साउथैम्प्टन में सिर्फ एक मैच खेला, जिसमें 18 रन बनाए थे। उन्होंने यह मैच इंग्लैंड के खिलाफ ही अगस्त 2018 में खेला था। पंत शानदार फॉर्म में हैं। उन्होंने अपने पिछले 4 टेस्ट इसी साल इंग्लैंड के खिलाफ ही खेले हैं। इस घरेलू सीरीज में पंत ने 270 रन बनाए थे। सीरीज के आखिरी टेस्ट में उन्होंने 101 रन की पारी खेलते हुए टीम को जीत भी दिलाई थी।

जडेजा और अश्विन का खेलना लगभग तय
कोहली साउथैम्प्टन की पिच पर प्लेइंग-11 में स्पिन ऑलराउंडर रविंद्र जडेजा और रविचंद्रन अश्विन को जरूर खिला सकते हैं। रोज बाउल के मैदान पर अब तक कुल 6 टेस्ट हुए और यहां टॉप-10 विकेट टेकर में सिर्फ 2 ही स्पिनर शामिल हैं। यह इंग्लैंड के मोइन अली और जडेजा हैं। जडेजा ने यहां सिर्फ एक मैच खेला, जिसमें 5 विकेट झटके हैं। अश्विन ने भी यहां 1 टेस्ट में 3 विकेट लिए। साथ ही यह दोनों अच्छी बैटिंग भी कर लेते हैं।

जडेजा ने 51 टेस्ट में 1954 रन बनाए और 220 विकेट झटके हैं। वे एक शतक और 15 अर्धशतक भी जमा चुके हैं। वहीं, अश्विन ने 78 टेस्ट में 2656 रन बनाए और 409 विकेट लिए हैं। वे 5 शतक और 11 फिफ्टी भी लगा चुके हैं।

तीन पेसर्स के साथ उतर सकती है टीम इंडिया
फाइनल में टीम इंडिया 3 फास्ट बॉलर मोहम्मद शमी, ईशांत शर्मा और जसप्रीत बुमराह के साथ उतर सकती है। ये इस बार टीम को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभा सकते हैं। शमी यहां 2 टेस्ट में सबसे ज्यादा 7 विकेट लेने वाले भारतीय हैं। ईशांत और बुमराह ने 4-4 विकेट लिए हैं। दोनों ने यहां 1-1 मैच ही खेला है।

साउथैम्प्टन की पिच पर सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले टॉप-10 गेंदबाजों में 3 भारतीय भी शामिल हैं। यह तीनों शमी, जडेजा और बुमराह 20 सदस्यीय टीम में भी शामिल हैं। अब तक रोज बाउल मैदान पर सिर्फ 3 बॉलर ही 10 या उससे ज्यादा विकेट ले सके हैं। तीनों ही इंग्लिश बॉलर हैं। इनमें दो फास्ट बॉलर जेम्स एंडरसन और स्टुअर्ट ब्रॉड हैं। एक स्पिनर मोइन अली हैं।

पिच रिपोर्ट

साउथैम्प्टन के रोज बाउल में अब तक 6 टेस्ट खेले गए। इसमें 3 मैच में नतीजा निकला, जबकि 3 ड्रॉ रहे हैं। 2 मैच में पहले बल्लेबाजी करने वाली टीम जीती, जबकि एक बार बाद में बैटिंग करने वाली टीम को कामयाबी मिली।

पिच से तेज गेंदबाजों के अलावा बल्लेबाजों को भी मदद मिल सकती है। यदि बल्लेबाज संभलकर शुरुआत करे तो क्रीज पर जमने के बाद बड़ा स्कोर भी बना सकता है। यहां अब तक इंग्लैंड के जैक क्राउली ने 3 टेस्ट में सबसे ज्यादा 406 रन बनाए हैं। जबकि इयान बेल ने सबसे ज्यादा 2 शतक जमाए हैं। भारतीयों में कप्तान विराट कोहली ने यहां 2 टेस्ट में सबसे ज्यादा 171 रन बनाए हैं।

20 सदस्यीय टीम इंडिया

  • बल्लेबाज: विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे (उपकप्तान), रोहित शर्मा, शुभमन गिल, मयंक अग्रवाल, चेतेश्वर पुजारा
  • विकेटकीपर: ऋषभ पंत, लोकेश राहुल और ऋद्धिमान साहा (राहुल-साहा को फिटनेस टेस्ट क्लियर करना होगा)
  • स्पिन ऑलराउंडर: हनुमा विहारी, रविचंद्रन अश्विन, रविंद्र जडेजा, अक्षर पटेल, वॉशिंगटन सुंदर
  • तेज गेंदबाज: जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, ईशांत शर्मा, मोहम्मद सिराज, शार्दूल ठाकुर और उमेश यादव

स्टैंडबाय प्लेयर्स:

  • बल्लेबाज : अभिमन्यू ईश्वरन
  • तेज गेंदबाज : प्रसिद्ध कृष्णा, आवेश खान, अर्जन नागवासवाला
खबरें और भी हैं...