BCCI ने घरेलू खिलाड़ियों की मैच फीस बढ़ाई:अंडर-23 और अंडर-19 के क्रिकेटर्स सैलरी में हुआ इजाफा, रद्द हुए सीजन की भी 50% सैलरी मिलेगी

2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

BCCI ने भारतीय घरेलू खिलाड़ियों की सैलरी में इजाफा करने का ऐलान किया है। BCCI के अनुसार, सीनियर घरेलू खिलाड़ियों की सैलरी प्रति मैच 60 हजार रुपये कर दी है। जो खिलाड़ी 40 या उससे ज्यादा मैच खेले हैं उन्हें हर मुकाबले के लिए 60 हजार रुपये मिलेंगे। वहीं, अंडर-23 और अंडर-19 खिलाड़ियों की भी सैलरी बढ़ाई गई है। अंडर-23 के खिलाड़ियों को 25 हजार और अंडर-19 खिलाड़ियों को 20 हजार सैलरी मिलेंगी।

जय शाह ने ट्वीट कर दी जानकारी
बोर्ड के सचिव जय शाह ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी। उन्होंने लिखा- मुझे घरेलू क्रिकेटरों के लिए मैच फीस में इजाफा की घोषणा करते हुए खुशी हो रही है। सीनियर्स – INR 60,000 (40 मैचों से ऊपर), अंडर 23- INR 25,000, अंडर 19- INR 20,000।

खिलाड़ियों को हुआ फायदा
ट्वीट में उन्होंने आगे लिखा- जिन क्रिकेटरों ने 2019-20 के घरेलू क्रिकेट सत्र में हिस्सा लिया था उन्हें 2020-21 सत्र के लिए मुआवजे के तौर पर 50 प्रतिशत अतिरिक्त मैच फीस दी जाएगी।

हाल ही में जारी की थी एडवाइजरी
BCCI ने हाल ही में मैच फीस को लेकर एडवाइजरी जारी की थी। इसके मुताबिक- 20 खिलाड़ी मैच फीस के लिए पात्र होंगे। प्लेइंग इलेवन में चुने गए खिलाड़ियों को 100 प्रतिशत, जबकि बाकी 9 खिलाड़ियों को 50 प्रतिशत फीस मिलेगी। अगर बोर्ड द्वारा भारतीय टीम के किसी क्रिकेटर को घरेलू क्रिकेट में हिस्सा लेने के लिए चुना जाता है तो वह मैचों में प्लेइंग इलेवन और नॉन प्लेइंग इलेवन की स्थिति के आधार पर 20 खिलाड़ियों से अधिक मैच फीस के लिए पात्र होगा।

2000 खिलाड़ियों को मिलेगा फायदा
बोर्ड के इस फैसले से अंडर-16 से सीनियर लेवल तक भाग लेने वाले लगभग 2000 खिलाड़ियों को फायदा मिलेगा। BCCI ने साथ ही महिला खिलाड़ियों की सैलरी में भी बढ़ोतरी की है। अब सीनियर क्रिकेटर्स को प्रति मैच फीस 12,500 की बजाए 20,000 रुपये मिलेंगे।

खबरें और भी हैं...