पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

पिता का जिक्र होने पर कोहली भावुक हुए, अनुष्का ने हाथ चूमकर संभाला; वीडियो वायरल

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कोहली के हाथ को चूमतीं अनुष्का।
  • फिरोज शाह कोटला स्टेडियम का नाम पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के नाम पर रखा गया
  • इस कार्यक्रम में कोहली ने स्टेडियम से जुड़ा एक किस्सा भी सुनाया
  • डीडीसीए के अध्यक्ष रजत शर्मा ने बताया- जेटली ने कहा था कि कोहली एक दिन बड़ा नाम कमाएंगे

खेल डेस्क. दिल्ली के फिरोज शाह कोटला क्रिकेट स्टेडियम का नाम गुरुवार को बदल दिया गया। यह स्टेडियम अब पूर्व वित्त मंत्री और दिल्ली एंड जिला क्रिकेट एसोसिएशन (डीडीसीए) के अध्यक्ष अरुण जेटली के नाम पर जाना जाएगा। जेटली का निधन पिछले महीने हुआ था। दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में एक कार्यक्रम के दौरान स्टेडियम के नाम को बदलने के साथ-साथ नए पवेलियन स्टैंड का नाम भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली के नाम पर रखा गया। इस दौरान गृहमंत्री अमित शाह भी मौजूद थे।
 
सोशल मीडिया पर कार्यक्रम का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें भारतीय कप्तान पत्नी अनुष्का शर्मा के हाथों को पकड़कर बैठे हैं। इस दौरान अनुष्का उनके हाथ को चूम रहीं थी। दरअसल, डीडीसीए के अध्यक्ष रजत शर्मा ने वहां मौजूद लोगों के साथ एक किस्सा शेयर किया। उन्होंने कहा, ‘विराट के पिता के देहांत के बाद जेटली उनके घर गए थे। उस समय विराट अंडर-19 टीम में थे और उन्हें एक मैच खेलना था। पिता के देहांत के बाद उन्होंने उस मैच को पूरा किया। इस पर जेटली ने उनकी तारीफ में कहा था कि वे एक दिन बड़ा नाम कमाएंगे।
 
 
 

कोहली ने कहा- कभी नहीं सोचा था कि यहां मेरा सम्मान किया जाएगा
रजत शर्मा की बातों को सुनकर कोहली भावुक हो गए। अनुष्का ने इस दौरान उन्हें संभाला। कार्यक्रम के दौरान कोहली ने कहा, ‘2001 की बात है, फिरोजशाह कोटला पर जिम्बाब्वे और भारत का टेस्ट मैच चल रहा था। हम पवेलियन स्टैंड के सामने बैठे हुए थे। सहवाग, युवी पाजी, श्रीनाथ बाउंड्री पर खड़े थे। मैं उनकी ओर गया और उनसे ऑटोग्राफ मांगा। कभी नहीं सोचा था कि उसी स्टेडियम में मेरा सम्मान किया जाएगा।’
 

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- आर्थिक दृष्टि से आज का दिन आपके लिए उपलब्धियां ला रहा है। उन्हें सफल बनाने के लिए आपको दृढ़ निश्चयी होकर काम करना है। आज कुछ समय स्वयं के लिए भी व्यतीत करें। आत्म अवलोकन करने से आपको बहुत अधिक...

और पढ़ें