--Advertisement--

क्रिकेट / कोहली ने देश छोड़ने वाले बयान पर सफाई दी, कहा- सभी को अपनी पसंद की आजादी



virat kohli give clarification over his leave india remark
virat kohli give clarification over his leave india remark
virat kohli give clarification over his leave india remark
X
virat kohli give clarification over his leave india remark
virat kohli give clarification over his leave india remark
virat kohli give clarification over his leave india remark

  • विराट ने 30वें जन्मदिन पर अपना ऑफिशियल ऐप लॉंच किया था
  • इसी ऐप पर बातचीत के दौरान एक फैन ने विदेशी क्रिकेटर्स की तारीफ की थी

Dainik Bhaskar

Nov 09, 2018, 07:40 AM IST

नई दिल्ली. देश छोड़ने वाले बयान को लेकर प्रशंसकों के निशाने पर आने के बाद भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने अब मुद्दे को शांत करने का प्रयास किया है। उन्होंने कहा है कि सभी को अपनी पसंद की आजादी है। कोहली सोशल मीडिया पर उस समय प्रशंसकों के निशाने पर आ गए थे जब उन्होंने एक फैन से कहा था कि यदि वे भारतीय क्रिकेटर्स को खेलते देखना पसंद नहीं करते हैं तो उन्हें देश छोड़ देना चाहिए।

 

भारतीय कप्तान ने कहा- ट्रोल होने से मेरे ऊपर कोई फर्क नहीं पड़ता

  1. हालांकि, अब विवाद बढ़ता देख उन्होंने इस मामले पर अपनी सफाई दी है। कोहली ने गुरुवार को ट्वीट कर कहा, "मुझे लगता है कि ट्रोलिंग करना मेरे लिए नहीं है दोस्तों, मैं खुद ट्रोल होने से ही संतुष्ट हूं।"

  2. उन्होंने कहा, "मैंने सिर्फ ये बताने की कोशिश की थी कि कैसे 'इन भारतीयों' को उस कमेंट में लिखा गया था और कुछ नहीं। मैं भी पसंद की आजादी के पक्ष में हूं। दोस्तों त्योहार का आनंद लो और शांत रहें। सबको प्यार।" 

  3. कोहली ने सोमवार को अपने 30वें जन्मदिन पर 'विराट कोहली ऑफिशियल ऐप' लांच किया था। इस दौरान एक फैन ने उनसे बातचीत में भारतीय टीम के बजाय इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया टीम को महत्व दिया था। 

  4. फैन ने लिखा था, "वह (विराट) एक क्षमता से बढ़ाकर आंका गया बल्लेबाज (ओवर रेटेड बैट्समैन) हैं। मुझे उनकी बल्लेबाजी में कुछ भी खास नहीं दिखता। मैं इन भारतीयों की तुलना में इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को देखना पसंद करता हूं।" 

  5. इस पर कोहली ने कहा था कि वह आलोचनाओं से निजी तौर पर प्रभावित नहीं होते हैं। लेकिन भारत में रहते हुए यदि कोई भारतीय खिलाड़ियों को पसंद नहीं करता है तो उन्हें देश में नहीं रहना चाहिए। 

  6. उन्होंने कहा, "मुझे नहीं लगा कि तुम्हें भारत में रहना चाहिए। जाइए और कहीं जाकर रहिए। आप क्यों इस देश में रह रहे हैं और दूसरे देशों को पसंद कर रहे हैं? मुझे इस पर कोई ऐतराज नहीं है कि तुम्हें मेरा खेल पसंद नहीं है।

  7. उन्होंने आगे कहा था, "हालांकि, मुझे नहीं लगता कि तुम्हें इस देश में रहकर दूसरी चीजों को पसंद करना चाहिए। अपनी प्राथमिकताओं को सही करिए।"

  8. बता दें कि कोहली विंडीज के खिलाफ पांच वनडे की सीरीज में सचिन तेंडुलकर को पीछे छोड़ते हुए सबसे तेजी से 10 हजार रन बनाने वाले बल्लेबाज बने थे।

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..