पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Virat Kohli Rohit Sharma Clash Madan Lal Said That Desired Level Of Communication Not Happening In Indian Team

विराट को मदन लाल का साथ:पूर्व क्रिकेटर ने कहा- टीम में कम्युनिकेशन की कमी, रोहित बताएं कि अगर वे फिट नहीं थे, तो IPL क्यों खेले

नई दिल्ली10 महीने पहले
क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी के सदस्य मदन लाल ने कहा कि कप्तान और कोच को खिलाड़ी के बारे में जानने का पूरा हक है। - Dainik Bhaskar
क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी के सदस्य मदन लाल ने कहा कि कप्तान और कोच को खिलाड़ी के बारे में जानने का पूरा हक है।

पूर्व क्रिकेटर और क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी (CAC) के मेंबर मदन लाल ने रोहित शर्मा मामले में कप्तान विराट कोहली का समर्थन किया। उन्होंने मंगलवार को कहा कि टीम में खिलाड़ियों और स्टाफ के बीच जिस तरह का कम्युनिकेशन होना चाहिए, टीम इंडिया में इन दिनों उसकी कमी है।

उन्होंने कहा कि रोहित शर्मा को यह बताना चाहिए कि अगर वे फिट नहीं थे, तो फिर वे IPL में अपनी फ्रेंचाइजी के लिए क्यों खेले? पूर्व क्रिकेटर ने यह बात कप्तान विराट कोहली के उस बयान के बाद कही, जिसमें उन्होंने कहा था कि उन्हें नहीं पता कि रोहित शर्मा टीम के साथ ऑस्ट्रेलिया क्यों नहीं आए।

क्या कहा था कोहली ने
कोहली ने कहा था कि रोहित की चोट के बारे में कुछ भी स्पष्ट नहीं है। इसकी वजह से उनकी उपलब्धता को लेकर मैनेजमेंट को इंतजार का खेल खेलना पड़ रहा है। यह अच्छा नहीं है। उन्होंने कहा कि ऋद्धिमान साहा ऑस्ट्रेलिया में रिहैब कर रहे हैं। ऐसा रोहित और ईशांत के केस में भी हो सकता था।

कोच ने कहा था कि टेस्ट खेलना होगा मुश्किल
इससे पहले टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री ने भी कहा था कि अगर अगले 4-5 दिन में रोहित और ईशांत शर्मा ऑस्ट्रेलिया की फ्लाइट में नहीं बैठते हैं, तो उनका टेस्ट में खेलना मुश्किल होगा। उन्होंने कहा था कि हम किसी खिलाड़ी का लंबे समय तक रेस्ट कराना अफोर्ड नहीं कर सकते।

कोहली की बात पूरी तरह सही : मदन लाल
पूर्व क्रिकेटर ने कहा कि विराट ने रोहित मामले में जो कुछ भी कहा, वह पूरी तरह सही है। कप्तान को हर चीज के बारे में स्पष्ट रूप से पता होना चाहिए क्योंकि वह ही टीम को चलाता है। कप्तान और कोच को पूरी जानकारी होनी चाहिए कि उनके खिलाड़ियों के साथ क्या हो रहा है।

उन्होंने कहा कि सिर्फ रोहित या उनकी फ्रेंचाइजी ही बता सकती है कि अगर रोहित 70% फिट थे, तो फिर वे मुंबई इंडियंस के लिए क्यों खेले। मुझे लगता है कि टीम में कम्युनिकेशन लेवल अच्छा होना चाहिए।

इंज्युरी खेल का हिस्सा
उन्होंने कहा कि इंज्युरी खेल का हिस्सा है। एक तरफ आप बेंच स्ट्रेंथ की बात करते हैं और दूसरी तरफ इंज्युरी की। अगर दो खिलाड़ी चोटिल होते हैं, तो आपको लगता है कि टीम ही नहीं है। ऐसा नहीं होता है। उन्होंने कहा कि अगर खिलाड़ी प्रॉपर रिहैब के मुताबिक नहीं चलेंगे, तो चोटिल होने के चांसेज बढ़ जाते हैं। प्लेयर्स के चोटिल होने की स्थिति में हमारे पास और भी खिलाड़ी हैं, जो मौके का इंतजार करते हैं।

भारत वनडे सीरीज हार चुका
ऑस्ट्रेलिया दौरे पर गई टीम इंडिया वनडे सीरीज हार चुकी है। 3 मैचों की वनडे सीरीज में भारत को शुरुआती दोनों मुकाबलों में ऑस्ट्रेलिया के हाथों हार का सामना करना पड़ा था। दोनों ही मैच में टीम को ओपनर बल्लेबाज रोहित शर्मा की कमी खली थी।

NCA में रिहैब कर रहे रोहित
फिलहाल रोहित नेशनल क्रिकेट एकेडमी (NCA), बेंगलुरु में रिहैब से गुजर रहे हैं। उन्हें IPL 2020 के दौरान चोट लग गई थी। इसी वजह से रोहित को टीम इंडिया के वन-डे और टी-20 टीम में शामिल नहीं किया गया। वहीं, रोहित को टेस्ट टीम में शामिल किया गया था। अभी भी वे फिटनेस से 3 हफ्ते दूर हैं। इसके बाद अगर वे ऑस्ट्रेलिया रवाना होते हैं, तो उन्हें 14 दिन के लिए क्वारैंटाइन रहना होगा। जिससे उनके पहले 2 टेस्ट खेलने पर संशय बना हुआ है।