पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Wasn't Outbreak Of Covid, It Was Perception Of What Might Happen That Caused Says Tom Harrison

ECB का टीम इंडिया पर आरोप:CEO बोले- कई भारतीय खिलाड़ी पहले ही टेस्ट न खेलने का मन बना चुके थे, IPL से बाहर होने का था डर

15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

इंग्लैंड और भारत और इंग्लैंड के बीच मैनचेस्टर में खेला जाने वाला 5 टेस्ट मैच की सीरीज का आखिरी मुकाबला कोरोना के चलते रद्द कर दिया गया है। मैनचेस्टर टेस्ट के रद्द होने के बाद इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड के CEO टॉम हैरिसन का एक बड़ा बयान सामने आया है। हैरिसन का कहना है कि, मैच कोरोना वायरस के डर के कारण नहीं बल्कि इससे 'क्या हो सकता है' की धारणा के कारण रद्द करना पड़ा।

टीम इंडिया पर उठाए सवाल
टॉम हैरिसन का कहना है कि, भारतीय खिलाड़ियों को सहज महसूस कराने के लिए हर कोशिश की गई। मगर असिस्टेंट फिजियो योगेश परमार के कोविड पॉजिटिव होने से घबराए खिलाड़ियों ने मैदान पर उतरने से ही इनकार कर दिया।

उन्होंने कहा- यह वास्तव में दुखद दिन है, मुझे प्रशंसकों के लिए निराशा है। हम काफी दुखी है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इस खेल को बड़ी संख्या में दर्शक मिलते हैं। गुरुवार दोपहर में यह साफ हो गया कि भारतीय टीम में मानसिक तनाव का स्तर काफी ज्यादा है।

मैनचेस्टर टेस्ट के रद्द होने से पहले भारत सीरीज में 2-1 से आगे चल रहा था।
मैनचेस्टर टेस्ट के रद्द होने से पहले भारत सीरीज में 2-1 से आगे चल रहा था।

IPL को ध्यान में रखा गया
हैरिसन के मुताबिक, ECB ने कोरोना वायरस को समझने वाले एक्सपर्ट्स से भी भारतीय टीम का सेशन करवाया, लेकिन टीम के कुछ खिलाड़ी पहले से ही मैनचेस्टर टेस्ट न खेलने का मन बना चुके थे। हैरिसन ने कहा- भारतीय खिलाड़ियों को इस बात का डर था कि आखिरी मैच के दौरान किसी खिलाड़ी की रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो उसे आइसोलेशन में रहना पड़ेगा, जिससे शायद उस खिलाड़ी को IPL भी मिस करना पड़े। एक बार जब ड्रेसिंग रूम में टेंशन घुस जाती है तो उसे निकालना बेहद मुश्किल होता है।

क्या अगले साल होगा 5वां टेस्ट?
5वें मैच के रद्द होने के बाद BCCI की ओर से कहा गया कि दोनों बोर्ड किसी और समय मैच को फिर से कराने की दिशा में काम करेंगे। हैरिसन से स्काई स्पोर्ट्स ने जब पूछा कि क्या यह मुकाबला इस सीरीज का निर्णायक टेस्ट होगा तो उन्होंने कहा- नहीं, मुझे लगता है कि यह इकलौता टेस्ट मैच होगा। हमें कुछ और विकल्पों की पेशकश की गई है, शायद उन पर विचार करने की जरूरत है।

उन्होंने कहा कि अभी हमारी कोशिश यह है कि इस मैदान पर भारत के खिलाफ एक टेस्ट मैच खेलने की संभावनाओं को खोजे, उस पर काम करने की कोशिश करें। यह आज की इकलौती अच्छी खबर हो सकती है।

2022 में हो सकता है मुकाबला
इस रद्द टेस्ट मैच को अगले साल जुलाई में खेला जा सकता है जब भारतीय टीम सीमित ओवरों की सीरीज के लिए इंग्लैंड के दौरे पर जाएगी।

खबरें और भी हैं...