कोरोना के बीच क्रिकेट की वापसी / विंडीज के मुख्य कोच एक अंतिम संस्कार के बाद इंग्लैंड पहुंचे, सेल्फ आइसोलेशन में रह रहे; 8 जुलाई से होगा पहला टेस्ट

वेस्टइंडीज को इंग्लैंड में 3 टेस्ट की सीरीज खेलना है। इसका पहला मैच 8 जुलाई से खेला जाएगा। सीरीज बगैर दर्शकों के होगी। -फाइल फोटो वेस्टइंडीज को इंग्लैंड में 3 टेस्ट की सीरीज खेलना है। इसका पहला मैच 8 जुलाई से खेला जाएगा। सीरीज बगैर दर्शकों के होगी। -फाइल फोटो
X
वेस्टइंडीज को इंग्लैंड में 3 टेस्ट की सीरीज खेलना है। इसका पहला मैच 8 जुलाई से खेला जाएगा। सीरीज बगैर दर्शकों के होगी। -फाइल फोटोवेस्टइंडीज को इंग्लैंड में 3 टेस्ट की सीरीज खेलना है। इसका पहला मैच 8 जुलाई से खेला जाएगा। सीरीज बगैर दर्शकों के होगी। -फाइल फोटो

  • वेस्टइंडीज के कोच फिल सिमन कोरोना टेस्ट होगा, रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद वे टीम के साथ जुड़ सकेंगे
  • तेज गेंदबाज अल्जारी जोसेफ बोले- इंग्लैंड हमारे पेस अटैक को कमजोर समझ रहा, यह हमारे लिए फायदेमंद

दैनिक भास्कर

Jun 28, 2020, 03:12 PM IST

वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम के मुख्य कोच फिल सिमंस एक अंतिम संस्कार में शामिल होकर इंग्लैंड पहुंचे हैं। वे खुद होटल के कमरे में सेल्फ आइसोलेशन में रह रहे हैं। उनकी गैर मौजूदगी में टीम के सहायक कोच रोडी एस्टविक और रेयान ग्रिफिथ पर टीम की जिम्मेदारी आ गई है। सिमन कोरोना टेस्ट होगा। रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद वे टीम के साथ जुड़ सकेंगे।

वेस्टइंडीज को इंग्लैंड में 3 टेस्ट की सीरीज खेलना है। इसका पहला मैच 8 जुलाई से खेला जाएगा। सीरीज बगैर दर्शकों के होगी। इसके साथ ही कोरोना के बीच करीब 3 महीने बाद इंटरनेशनल क्रिकेट की वापसी हो रही है।

इंग्लैंड हमें कमजोर समझ रहा, यह हमारे लिए ही फायदेमंद: जोसेफ

वहीं, वेस्टइंडीज के तेज गेंदबाज अल्जारी जोसेफ ने कहा कि इंग्लैंड हमारे पेस अटैक को कमजोर समझ रहा है। यह हमारे लिए फायदेमंद है। वेस्टइंडीज टीम में जोसेफ के अलावा कप्तान जेसन होल्डर, शैनन गेब्रियल और केमार रोच शामिल हैं। इनमें सबसे कम अनुभवी जोसेफ हैं। उन्होंने अब तक 9 टेस्ट खेले हैं।

मुझे अपनी कैपेसिटी पता है: जोसेफ

जोसेफ ने कहा, ‘‘यह सभी को पता है कि मेरे अलावा टीम में शामिल तीनों पेसर मेरे से ज्यादा अनुभवी हैं। मैं टीम में नहीं रहूंगा, तब भी टीम कमजोर नहीं होगी। ऐसे में मेरा काम अपने साथी गेंदबाजों की मदद करना और बल्लेबाजों पर दबाव बनाए रखना है। कम उम्र के कारण मुझे कमजोर कड़ी नहीं माना जाएगा, बल्कि मेरे पास अनुभव कम है। विपक्षी टीम की यह सोच मेरे लिए फायदेमंद होगी, क्योंकि मुझे अपनी कैपेसिटी पता है।’’

जोसेफ का दूसरी बार इंग्लैंड दौरा
जोसेफ का यहा दूसरा इंग्लैंड दौरा है। इससे पहले 2017 में एक सीरीज खेल चुके हैं। तब सीरीज में वेस्टइंडीज को 2-1 से हार का सामना करना पड़ा था। जोसेफ ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि जब मैं पहली बार इंग्लैंड आया था, तब मेरे पास ज्यादा अनुभव नहीं था। मुझे अपने पिछले इंग्लैंड टूर से काफी कुछ सीखने को मिला था। अब पिछली बार की तुलना में मेरी बॉलिंग में काफी सुधार है।’’

मां की मौत के कुछ ही घंटों के बाद लौट आए थे जोसेफ
जोसेफ अपनी मां की मौत के कुछ ही घंटों बाद टीम में लौट आए थे। जोसेफ ने कहा, ‘‘सच कहूं तो वह मेरे लिए मुश्किल समय था, लेकिन वही मेरी प्रेरणा थी। वे आज मेरी यादों में जिंदा हैं। उन्हें मेरे फैसले पर गर्व होगा। मैनें वह सब कुछ किया, जो वे कहा करती थीं।’’

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना