• Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Women's World Cup 2022, India Vs England: India Aim For Consistency In Clash Against England Know The Possible Playing Of Both The Teams XI

महिला वर्ल्ड कप में भारत Vs इंग्लैंड:टीम इंडिया जीती तो सेमीफाइनल की दावेदारी मजबूत होगी; इंग्लैंड ने अब तक सभी मैच गंवाए

नई दिल्ली3 महीने पहले

महिला क्रिकेट वर्ल्ड कप में भारतीय टीम बुधवार को अपना चौथा मुकाबला इंग्लैंड के खिलाफ खेलेगी। इंग्लैंड का भी यह चौथा मुकाबला है। भारत ने 3 में से 2 मैच जीते जबकि एक हारा। यह मैच इंग्लैंड के लिए काफी अहम है। अगर वो भारत से हार जाता है, तो वर्ल्ड कप में उसके लिए सेमीफाइनल के दरवाजे बंद हो जाएंगे। इंग्लैंड टीम पिछले तीनों मैच हार चुकी है। इसलिए उसके लिए यह मैच फाइनल से कम नहीं है। दूसरी तरफ, अगर भारतीय हार भी जाती है तो उसके लिए सेमीफाइनल के दरवाजे खुले रहेंगे, क्योंकि भारत के पास अभी और मौके होंगे।

यह मुकाबला भारतीय समयानुसार (IST) सुबह साढ़े छह बजे शुरू होगा। टॉस छह बजे होगा। इस मुकाबले को स्टार स्पोर्ट्स नेटवर्क के चैनल्स पर अलग-अलग भाषाओं में कमेंट्री के साथ देख सकते हैं।

आंकड़ों में इंग्लैंड का पलड़ा भारी
भारत और इंग्लैंड के बीच अब तक 72 वनडे खेले गए हैं। इंग्लैंड ने 39 जबकि भारत ने 31 मैच जीते। वर्ल्ड कप में भी इंग्लैंड का पलड़ा भारी रहा है। 11 बार भिड़ंत हुई। 7 बार इंग्लैंड और 4 बार भारत जीता।

टूर्नामेंट में इंग्लैंड की तुलना में भारत भारी

बेशक कुल आंकड़ों के मुताबिक इंग्लैंड भारी है, पर अगर इस वर्ल्ड कप में दोनों देशों के प्रदर्शन की तुलना की जाए, तो भारत का पलड़ा भारी है। दोनों टीमों 3-3 मुकाबले खेल चुकी हैं। भारत को सिर्फ एक में हार मिली है, जबकि इंग्लैंड ने तीनों मैच गंवाए। भारत ने पहले मुकाबले में पाकिस्तान को 107 रनों के बड़े अंतर से हराया। दूसरे मैच में न्यूजीलैंड से 62 रनों से हार का सामना करना पड़ा। तीसरे मैच में वेस्टइंडीज को 155 रन से हराया। इसके उलट इंग्लैंड को वेस्टइंडीज से 7 रन से, साउथ अफ्रीका से 3 विकेट से और ऑस्ट्रेलिया से 12 रन से हार का सामना करना पड़ा है।

प्लेइंग XI में भारतीय टीम में बदलाव के आसार नहीं
इंग्लैंड के खिलाफ मुकाबले में भारत के प्लेइंग इलेवन में बदलाव की संभावना कम ही है। भारत ने पहले मुकाबले के बाद ओपनर शिफाली वर्मा को प्लेइंग इलेवन से हटा दिया था। शिफाली पिछले 5 मुकाबलों की 4 पारियों में खाता तक नहीं खोल सकी थी। वहीं वेस्टइंडीज के खिलाफ तीसरे मुकाबले में भारतीय बल्लेबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया था। दोनों सलामी बल्लेबाजों स्मृति मंधाना और यस्तिका भाटिया ने शुरुआत से ही जज्बा दिखाया। मंधाना 123 रन की पारी खेली। जबकि हरमनप्रीत ने 109 रन बनाए थे। सेमीफाइनल के लिए भारत का दावा मजबूत करने के लिए ये दोनों खिलाड़ी इसी प्रदर्शन को जारी रखना चाहेंगी।

वहीं वर्ल्ड कप से पहले चिंता का विषय रहा गेंदबाजी आक्रमण अब तक टीम के लिए उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन करने में सफल रहा है। अब तक तेज गेंदबाज मेघना सिंह, पूजा वस्त्रकार और झूलन गोस्वामी ने ठीक-ठाक प्रदर्शन किया है। हालांकि अधिकांश विकेट स्पिनरों राजेश्वरी गायकवाड़ (7 विकेट) और स्नेह राणा (5 विकेट) ने चटकाए हैं। मौजूदा टूर्नामेंट की सबसे सफल गेंदबाजों की सूची में राजेश्वरी तीसरे स्थान पर हैं। राजेश्वरी (3.36) और स्नेह (3.44) टूर्नामेंट में सर्वश्रेष्ठ इनोनॉमी रेट वाली गेंदबाजों की सूची में भी क्रमश: तीसरे और चौथे स्थान पर हैं।

खबरें और भी हैं...