• Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • World Cup 2019 Winner Prize Money: Awards and Prize Money World CUP, Golden Bat Ball Winners Runner Up Team Prize Money

अवॉर्ड्स / वर्ल्ड कप विजेता इंग्लैंड को 28 करोड़ रु. मिले, विलियम्सन प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट



World Cup 2019 Winner Prize Money: Awards and Prize Money World CUP, Golden Bat Ball Winners Runner Up Team Prize Money
ट्रॉफी के साथ इयॉन मॉर्गन। ट्रॉफी के साथ इयॉन मॉर्गन।
केन विलियम्सन। केन विलियम्सन।
X
World Cup 2019 Winner Prize Money: Awards and Prize Money World CUP, Golden Bat Ball Winners Runner Up Team Prize Money
ट्रॉफी के साथ इयॉन मॉर्गन।ट्रॉफी के साथ इयॉन मॉर्गन।
केन विलियम्सन।केन विलियम्सन।

  • सेमीफाइनल में हारे भारत और ऑस्ट्रेलिया में 11 करोड़ की रकम मिली
  • केन विलियम्सन ने 8 पारियों में 548 रन बनाए, उनकी कप्तानी में न्यूजीलैंड फाइनल तक पहुंचा
  • इंग्लैंड के बेन स्टोक्स ने 98 गेंद पर 85 रन बनाए, उन्हें मैच ऑफ द मैच अवॉर्ड दिया गया

Jul 15, 2019, 03:21 AM IST

खेल डेस्क. इंग्लैंड ने वर्ल्ड कप के फाइनल में न्यूजीलैंड को हरा दिया। खिताब जीतने पर ईनाम के तौर पर उसे 28 करोड़ रुपए दिए गए। वहीं, फाइनल मुकाबला हारने वाली न्यूजीलैंड की टीम को 14 करोड़ रुपए ही मिले। चैम्पियन बनने वाली टीम को सोने-चांदी से बनी 11 किलो की ट्रॉफी भी दी गई। न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन को प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट और इंग्लैंड के बेन स्टोक्स को मैन ऑफ द मैच अवॉर्ड दिया गया। विलियम्सन ने 8 पारियोंं में 548 रन बनाए थे। उनकी कप्तानी में न्यूजीलैंड की टीम फाइनल तक पहुंची। वहीं, स्टोक्स ने फाइनल में 98 गेंद पर 85 रन बनाए।

 

केन विलियम्सन।

 

रोहित नंबर एक बल्लेबाज और स्टार्क नंबर एक गेंदबाज
रोहित शर्मा इस वर्ल्ड कप के टॉप स्कोरर रहे। उन्होंने 9 पारियों में 648 रन बनाए। दूसरे स्थान पर ऑस्ट्रेलिया के डेविड वॉर्नर रहे। उन्होंने 10 पारियों में 647 रन बनाए। वहीं, ऑस्ट्रेलिया के मिशेल स्टार्क टॉप गेंदबाज रहे। उन्होंने 27 विकेट लिए। दूसरे स्थान पर काबिज मुस्तफिजुर रहमान के 20 विकेट हैं, लेकिन उनकी टीम टूर्नामेंट से पहले ही बाहर हो चुकी है। तीसरे स्थान पर काबिज आर्चर ने 20 विकेट लिए।

 

वर्ल्ड कप की ट्रॉफी 11 किलो वजनी है
वर्ल्ड कप की ट्रॉफी 11 किलो वजनी है। यह सोने और चांदी से मिलकर बनती है। इसकी उंचाई 60 सेंटीमीटर होती है। इसे बनाने में करीब 2 महीने लगते हैं। इसमें एक ग्लोब होता है जो सोने से बना होता है। यह ग्लोब 3 मुड़े हुए स्तंभों के सहारे टिका होता है। इन 3 स्तंभों का आकार स्टंप्स और बेल्स की तरह होता है। इस ट्रॉफी को पहली बार 1999 में बनाया गया था। इस ट्रॉफी की वास्तविक प्रति आईसीसी अपने पास रखता है, विजेता को रेप्लिका दी जाती है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना