क्रिकेट / अंडर 19 वर्ल्ड कप में मैन ऑफ द सीरीज रहे यशस्वी जयसवाल की ट्रॉफी टूटी, बोले- मेरा मुकाबला खुद से है

जयसवाल ने अंडर 19 वर्ल्ड कप में कुल 400 रन बनाए। इनमें चार अर्धशतक और एक नाबाद शतक शामिल है। जयसवाल ने अंडर 19 वर्ल्ड कप में कुल 400 रन बनाए। इनमें चार अर्धशतक और एक नाबाद शतक शामिल है।
X
जयसवाल ने अंडर 19 वर्ल्ड कप में कुल 400 रन बनाए। इनमें चार अर्धशतक और एक नाबाद शतक शामिल है।जयसवाल ने अंडर 19 वर्ल्ड कप में कुल 400 रन बनाए। इनमें चार अर्धशतक और एक नाबाद शतक शामिल है।

  • जयसवाल ने अंडर 19 वर्ल्ड में 400 रन बनाए, वो मैन ऑफ द सीरीज रहे, साउथ अफ्रीका से लौटते वक्त उनकी ट्रॉफी टूट गई
  • यशस्वी के कोच ज्वाला सिंह ने कहा- उसके साथ ये पहली बार नहीं हुआ, वो इसकी परवाह भी नहीं करता

दैनिक भास्कर

Feb 14, 2020, 01:05 PM IST

खेल डेस्क. अंडर 19 वर्ल्ड कप में मैन ऑफ द सीरीज रहे यशस्वी जयसवाल को जो ट्राफी मिली थी, वो देश लौटते वक्त टूट गई। हालांकि, अब इसे जोड़ दिया गया है। जयसवाल को इसकी फिक्र नहीं है। उनके कोच ज्वाला सिंह ने कहा वो सिर्फ रन बनाना चाहता है, इसके अलावा वो किसी चीज की परवाह नहीं करता। खुद यशस्वी को भी ट्रॉफी टूटने का कोई अफसोस नहीं है। बता दें कि जयसवाल ने इस टूर्नामेंट में कुल 400 रन बनाए। इनमें चार अर्धशतक और एक नाबाद शतक शामिल है। फाइनल में भारतीय टीम को बांग्लादेश के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था। 

उसे ट्रॉफियों की कोई फिक्र नहीं..
ट्रॉफी टूटने की घटना के बारे में यशस्वी के कोच ज्वाला सिंह ने कहा, “यह पहली बार नहीं है जब उससे कोई ट्रॉफी टूटी हो। लेकिन, वो इन चीजों के बारे में नहीं सोचता। वो सिर्फ रन बनाना चाहता है। इसलिए, उसे कोई अफसोस नहीं है।” इस उभरते हुए सलामी बल्लेबाज ने अंडर 19 वर्ल्ड कप में 88, 105 (नॉट आउट), 62, 57 (नॉट आउट), 29 (नॉटआउट) और 59 रन बनाए। सिर्फ एक मैच में वो अर्धशतक तक नहीं पहुंच सके। यह मैच जापान के खिलाफ था। इसमें भारतीय टीम को सिर्फ 42 रन का लक्ष्य मिला था।  

कोल्ड ड्रिंक्स भी छोड़ दूंगा
न्यूज एजेंसी से बातचीत में यशस्वी ने कहा, “अंडर 19 वर्ल्ड कप निश्चित आयु वाले खिलाड़ियों के लिए था। अब मैं बड़ा हो गया हूं और जानता हूं कि मुझे दोगुनी मेहनत करनी पड़ेगी। इस दौर में खुद को ज्यादा वक्त देना सबसे जरूरी है। इसलिए, मैं दूसरी बातों को सोचने में समय खराब नहीं करता। अपने खेल के बारे में सोचता हूं क्योंकि यही सबसे ज्यादा जरूरी है। मेरा मुकाबला दुनिया से नहीं बल्कि खुद से है। एक ही खराब आदत है कि मैं कोल्ड ड्रिंक्स पीता हूं। लेकिन, अब यह भी छोड़ रहा हूं। क्योंकि, इसमें काफी शक्कर होती है। मैं ध्यान करता हूं और फिटनेस पर भी काफी मेहनत कर रहा हूं।”  

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना