उम्मीद / जिम्बाब्वे में क्रिकेट को बचाए रखने के लिए खिलाड़ी फ्री में भी खेलने को तैयार



जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम। -फाइल जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम। -फाइल
X
जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम। -फाइलजिम्बाब्वे क्रिकेट टीम। -फाइल

  • आईसीसी ने 18 जुलाई को जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड को निलंबित कर दिया था
  • जिम्बाब्वे के सीनियर खिलाड़ी ने कहा- हमारा अगला लक्ष्य आईसीसी टूर्नामेंट क्वालिफायर

Dainik Bhaskar

Jul 31, 2019, 12:53 PM IST

खेल डेस्क. जिम्बाब्वे के खिलाड़ी अपने देश में क्रिकेट को बचाए रखने के लिए फ्री में भी खेलने को तैयार हैं। आईसीसी का अगला इवेंट वर्ल्ड टी20 क्वालिफायर है। महिला क्वालिफायर अगस्त और पुरुष क्वालिफायर अक्टूबर में है। आईसीसी के बैन के फैसले के बाद जिम्बाब्वे इसमें हिस्सा नहीं ले पाएगा। जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम के एक सीनियर खिलाड़ी ने क्रिकइंफो से कहा, 'हमारा अगला लक्ष्य आईसीसी टूर्नामेंट क्वालिफायर है। हम फ्री में भी खेलने को राजी हैं। हमें जब तक उम्मीद की किरण दिखेगी, तब तक हम खेलना जारी रखेंगे।'

 

आईसीसी ने 18 जुलाई को जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड पर प्रतिबंध लगा दिया था। इसके बाद जिम्बाब्वे को आईसीसी से फंडिंग भी नहीं मिलेगी। साथ ही जिम्बाब्वे आईसीसी के किसी टूर्नामेंट में हिस्सा नहीं ले सकेगा। वैसे, आईसीसी का प्रतिबंध द्विपक्षीय सीरीज के लिए नहीं है। लेकिन वह जिम्बाब्वे में होने वाली द्विपक्षीय सीरीज में अपना मैच ऑफिशियल नियुक्त करेगा। जिम्बाब्वे को अगस्त में अफगानिस्तान और अक्टूबर-नवंबर में वेस्टइंडीज की मेजबानी करनी है।

 

जनवरी में भारतीय टीम का जिम्बाब्वे दौरा

इसके बाद जनवरी में टीम इंडिया जिम्बाब्वे का दौरा करेगी। लेकिन आईसीसी की फंडिंग के बिना उसके लिए मेजबानी करना मुश्किल हो जाएगा। जिम्बाब्वे लंबे समय से आर्थिक संकट से भी जूझ रहा है। पुरुष टीम को तो मैच फीस तक नहीं मिली है। देश की पुरुष और महिला टीम के कप्तानों ने खेल मंत्री क्रिस्टी कोवेंट्री को चिट्‌ठी लिखकर देश में जल्द क्रिकेट शुरू करने की बात की थी।

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना