रिजवान की नमाज पर बवाल:वकार ने हिंदू खिलाड़ियों के बीच नमाज पर कमेंट किया, तो वेंकटेश प्रसाद बोले- यह जिहादी सोच

दिल्लीएक महीने पहले

24 अक्टूबर को खेले गए भारत-पाकिस्तान मैच का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। वीडियो में मोहम्मद रिजवान नजर आ रहे हैं। वह मैच में हुए ड्रिंक्स ब्रेक के दौरान नमाज पढ़ते दिख रहे थे। इस वीडियो पर पूर्व पाकिस्तानी दिग्गज वकार यूनुस ने एक मीडिया चैनल से बात करते हुए कहा- रिजवान ने भारतीय हिंदू खिलाड़ियों के बीच नमाज पढ़ी, जो वाकई में बहुत स्पेशल है।

उनके इस बयान पर बवाल हो गया है। टीम इंडिया के पूर्व तेज गेंदबाज वेंकटेश प्रसाद ने इसे जिहादी मानसिकता करार दिया है।

क्रिकेट कमेंटेटर हर्षा भोगले ने तो वकार की जमकर खबर ली है और माफी मांगने को कहा है।

हर्षा भोगले ने क्या कहा?
'वकार यूनुस जैसे दिग्गज खिलाड़ी का यह कहना कि हिंदुओं के आगे रिजवान का नमाज पढ़ना उनके लिए बेहद स्पेशल था। मेरे द्वारा सुनी गई सबसे निराशाजनक बातों में से एक है। हम लोग ऐसी चीजों को इग्नोर करते हैं। हम केवल खेल की बात करने की कोशिश करते हैं और ऐसे में यह सुनना बेहद दुखद है। मुझे उम्मीद है कि पाकिस्तान के सच्चे खेल प्रेमी इस बयान की खतरनाक साइड देख पाएंगे और मेरी निराशा में शामिल होंगे।'

'यह मेरे जैसे खेल प्रेमी के लिए चीजें काफी मुश्किल कर देता है। हमारे लिए लोगों को यह बताना मुश्किल हो जाता है कि यह बस एक खेल है, सिर्फ एक क्रिकेट मैच। आप सोचते हैं कि खिलाड़ी थोड़े ज्यादा जिम्मेदार होंगे। मुझे यकीन है कि वकार की ओर से माफीनामा आ रहा होगा। हमें क्रिकेट की दुनिया को एक करना है, धर्म के आधार पर बांटना नहीं।'

वकार ने मांगी माफी
बवाल बढ़ता देख वकार ने माफी मांग ली है। उन्होंने कहा, 'मैंने कुछ ऐसा कह दिया जो मेरा मतलब नहीं था। अगर मेरी कही गई बातों से किसी की भी भावनाओं को ठेस पहुंची है तो मैं इसके लिए माफी मांगता हूं। मेरा यह कहने का इरादा बिल्कुल भी नहीं था। खेल जाति, रंग या धर्म की परवाह किए बिना लोगों को एकजुट करता है।'