14 साल का इतिहास गवाह है:वर्ल्ड कप में जब-जब भारत से टकराया पाकिस्‍तान, चूर-चूर हो गया, पांचों मैच की कहानी पढ़ लीजिए

दिल्लीएक महीने पहले

टी-20 वर्ल्ड कप में दो कट्टर प्रतिद्वंदी भारत और पाकिस्तान पिछले 9 साल में 5 बार भिड़े हैं और पांचों बार पाकिस्तान को मुंह की खानी पड़ी है। एक बार फिर से 24 अक्टूबर को इस मेगा टूर्नामेंट में दोनों टीमें एक दूसरे के खिलाफ उतरने वाली हैं। इससे पहले आइए हम आपको उन पांच मैचों के बारे में बताते हैं जब भारत और पाकिस्तान टी-20 वर्ल्ड कप में एक दूसरे से टकराए।

पहला मुकाबला- भारत Vs पाकिस्तान 14 सितंबर 2007 डरबन
2007 में टी-20 वर्ल्ड कप का पहला संस्करण खेला गया था। भारत और पाकिस्तान इस वर्ल्ड कप में एक ही ग्रुप में थे। दोनों टीमों के बीच हुआ मुकाबला कांटे की टक्कर का रहा। टीम इंडिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 141 रन बनाए। लक्ष्य का पीछा करते हुए पाकिस्तान ने भी इतने ही रन बनाए और मैच टाई हो गया। इसके बाद मैच का नतीजा बॉल-आउट से निकला।

भारत की तरफ से तीन थ्रो हुए ये तीनों थ्रो वीरेंद्र सहवाग, हरभजन सिंह और रॉबिन उथ्पपा ने किए। भारत के तीनों थ्रो विकेट पर जाकर लगे। पाकिस्तान के तरफ से भी तीन थ्रो किए गए, लेकिन उनका एक भी थ्रो विकेट पर नहीं लगा और टीम इंडिया ये मुकाबला जीत गई।

दूसरा मुकाबला- भारत Vs पाकिस्तान, 24 सितंबर 2007- जोहान्सबर्ग
ग्रुप मैच के बाद दोनों टीमों की भिड़ंत एक बार फिर फाइनल में हुई। मैच में टॉस जीतकर भारत ने पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने 54 गेंदों पर 75 रनों की धमाकेदार पारी खेली। उन्होंने अपनी पारी के दौरान 8 चौके और दो छक्के लगाए। उनके अलावा रोहित शर्मा ने 16 गेंदों में 30 रनों की तूफानी पारी खेली।

भारत ने 20 ओवर में 5 विकेट खोकर 157 रन बनाए। लक्ष्य का पीछा करने उतरी पाकिस्तान की शुरुआत बहुत ही खराब रही। पाकिस्तान ने 77 रन पर अपने 6 विकेट गंवा दिए, लेकिन मिस्बाह उल हक मैच आखिरी ओवर तक ले गए। इस ओवर में पाकिस्तान को जीत के लिए 13 रन चाहिए थे, लेकिन मिस्बाह 43 रन बनाकर आउट हो गए और भारत ने 5 रन से मैच जीत लिया। इसी के साथ टीम इंडिया पहले टी-20 वर्ल्ड कप की विजेता भी बनी।

तीसरा मुकाबला- 30 सितम्बर 2012- कोलंबो
2012 के टी-20 वर्ल्ड कप का आयोजन श्रीलंका में हुआ था। टीम इंडिया के लिए ये मैच एकतरफा साबित हुआ। पहले बल्लेबाजी करते हुए पाकिस्तान की टीम सिर्फ 128 रन पर ऑलआउट हो गई। मैच में लक्ष्मीपती बालाजी ने कमाल की गेंदबाजी की। उन्होंने पाक टीम को 3 झटके दिए। टीम इंडिया की ओर से विराट कोहली ने अपने बल्ले का जौहर दिखाया और 61 गेंदों में 78 रन बनाए। उन्हें मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार दिया गया। भारत ने ये मुकाबला 8 विकेट से अपने नाम किया।

चौथा मुकाबला- भारत Vs पाकिस्तान- ढाका- 21 मार्च 2014
भारत के लिए ये मैच भी एकदम आसान साबित हुआ। पाकिस्तान ने पहले बल्लेबाजी की और 20 ओवर में सिर्फ 130 रन बनाए। अमित मिश्रा ने मैच में शानदार गेंदबाजी करते हुए 22 रन देकर 2 विकेट लिए। उन्होंने 1 मेडन ओवर भी डाला। कोहली एक बार फिर टीम के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज थे। उन्होंने 32 गेंदों में 36 रनों की पारी खेली।

5 वां मुकाबला भारत Vs पाकिस्तान, 19 मार्च 2016 कोलकाता
2016 के विश्व कप में भारत पाकिस्तान का मुकाबला कोलकाता में खेला गया। एक बार फिर पाकिस्तान की टीम ने पहले बल्लेबाजी की और वो फिर फिसड्डी साबित हुए। उन्होंने 20 ओवर में सिर्फ 118 रन बनाए। हालांकि, टीम इंडिया जब बल्लेबाजी करने आई तो भारत को शुरुआती झटके लगे।

मोहम्मद आमिर और मोहम्मद सामी ने भारत के तीन विकेट जल्दी गिरा दिए, लेकिन विराट कोहली ने 37 गेंदों में 55 रन बनाकर एक बार फिर से पाकिस्तान के भारत के खिलाफ वर्ल्ड कप में जीत के सपने को वहीं खत्म कर दिया। उन्होंने अपनी पारी के दौरान 7 चौके और 1 छक्का लगाया। टीम इंडिया ये मैच 6 विकेट से जीत गई। विराट कोहली एक बार फिर पाकिस्तान के खिलाफ मैन ऑफ द मैच बने।