WI vs ENG फैंटेसी-11 गाइड:बटलर को कप्तान बनाकर इंग्लैंड को हो सकता है फायदा, वेस्टइंडीज के लिए रोस्टन चेज हो सकते हैं छुपे रुस्तम

दुबईएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

टी-20 वर्ल्ड कप के सुपर-12 में आज दिन का दूसरा मुकाबला वेस्टइंडीज और इंग्लैंड के बीच दुबई में खेला जाएगा। वार्म अप मैचों में वेस्टइंडीज ने शर्मनाक प्रदर्शन किया था और दोनों मैचों में टीम को हार मिली थी। वहीं, इंग्लैंड ने एक मैच जीता था और हार में टीम को हार मिली थी। चलिए जानने की कोशिश करते हैं कि इस मैच में फैंटेसी-11 के लिहाज से कौन-कौन से खिलाड़ी अहम हो सकते हैं।

पिच रिपोर्ट
दुबई की पिचों में पिछले कुछ सालों में ज्यादा बदलाव नहीं आया है। कुछ पिचें धीमी रही हैं, जबकि कुछ ने तेज गेंदबाजों की मदद की है। IPL के पिछले दो सीजन में यहां औसत स्कोर 150-160 के बीच रहा है। स्पिनरों ने यहां 32 रन देकर एक विकेट निकाला है, तो वहीं तेज गेंदबाजों का प्रति विकेट दर 27 रन का है। तेज गेंदबाज दुबई की पिच पर ज्यादा सफल होते हैं। टीमें दुबई में तीन तेज गेंदबाजों के साथ उतर सकती हैं।

विकेटकीपर
जोस बटलर
- बतौर विकेटकीपर इंग्लैंड के स्टार खिलाड़ी जोस बटलर पर दांव लगाया जा सकता है। वार्म अप मैचों में भी जोस शानदार फॉर्म में नजर आए थे। बटलर शुरुआती ओवर्स में तेजी से रन बनाने के लिए जाने जाते हैं और बड़ी पारियां खेलने में माहिर है। अभी तक खेले 82 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में उन्होंने लगभग 140 के स्ट्राइक रेट और 31.71 के औसत के साथ 1871 रन बनाए हैं। अपने टी20 करियर में 31.71 की औसत से 1871 रन बनाए हैं। जोस बटलर को कप्तान बनाकर फायदा हो सकता है।

टॉप पिक- बैटर
जेसन रॉय
- इंग्लैंड के ओपनर जेसन रॉय पावर प्ले में तेजी से रन बनाकर इंग्लैंड के लिए फायदेमंद हो सकते हैं। साथ ही UAE की परिस्थितियों में उनके हालिया IPL अनुभव से उन्हें काफी मदद मिली होगी।

एविन लेविस- विंडीज के ओपनर एविन लेविस ने राजस्थान रॉयल्स के लिए IPL के दूसरे चरण में काफी अच्छा प्रदर्शन किया था। उनकी मौजूदा फॉर्म भी काफी बढ़िया रही है। लेविस ने अपने 45 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 32.14 की औसत से 1318 रन बनाए हैं।

टॉप- ऑलराउंडर
मोइन अली
- IPL फेज-2 में मोइन ने चेन्नई सुपर किंग्स के साथ शानदार प्रदर्शन किया था। अब इंग्लैंड की टीम को भी उनसे इस टूर्नामेंट में दमदार प्रदर्शन की आस रहेगी। मोइन अली टीम के लिए निचले क्रम में तेज तर्रार पारी खेलने के साथ मिडिल ओवर्स में विकेट भी चटका सकते हैं।

आंद्रे रसेल- टी-20 वर्ल्ड कप में वेस्टइंडीज के लिए आंद्रे रसेल अहम खिलाड़ी होंगे। यह देखना बहुत ही दिलचस्प रहेगा कि चोट से वापसी करते हुए वह कैसा प्रदर्शन करते हैं। इंटरनेशनल टी-20 में उनके नाम पर 716 रन और 36 विकेट दर्ज हैं।

टॉप पिक – बॉलर्स
क्रिस जॉर्डन- जॉर्डन को टी-20 स्पेशलिस्ट माना जाता है। वह अंतिम ओवर्स में अपनी घातक यॉर्कर से बल्लेबाजों को परेशानी में डाल सकते हैं। साथ ही वह कमाल के फील्डर भी हैं। जॉर्डन ने अपने टी-20 करियर के 65 मैचों में 8.7 की इकॉनमी से 73 विकेट हासिल किए हैं।

हेडन वॉल्श जूनियर- 29 वर्षिय लेग स्पिनर ने हाल फिलहाल के समय में अपनी गेंदबाजी से सभी को खासा प्रभावित किया है। हेडन वॉल्श CPL के दौरान भी बढ़िया लय में नजर आए थे। अभी तक खेले 20 इंटरनेशनल टी-20 मैचों में उन्होंने 20.32 के औसत के साथ 19 विकेट चटकाए हैं।

मेगा लीग के लिए फैंटेसी 11
जोस बटलर (कप्तान), एविन लेविस, जेसन रॉय, डेविड मलान, आंद्रे रसेल, लियाम लिविंगस्टोन, मोइन अली, रोस्टन चेज (उपकप्तान), क्रिस जॉर्डन, ओबेद मैकॉय, हेडन वॉल्श जूनियर।

शॉर्ट लीग के लिए फैंटेसी 11
जोस बटलर, जॉनी बेयरस्टो, निकोलस पूरन, लेंडल सिमंस (कप्तान), जेसन रॉय (उपकप्तान), शिमरोन हेटमायर, किरोन पोलार्ड, मोइन अली, आदिल राशिद, मार्क वुड, हेडन वॉल्श जूनियर।