पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Sports
  • Asian Boxing Championship Pooja Rani Wins Gold Medal; Three Boxers Including Mary Kom Won Silver Medals

एशियन बॉक्सिंग चैंपियनशिप:पूजा रानी ने गोल्ड मेडल जीता; मैरीकॉम सहित तीन बॉक्सरों ने सिल्वर मेडल जीते

दुबई24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
दुबई में चल  रही एशियन बॉक्सिंग चैंपियनशिप में 75 किलो वेट में पूजा रानी ने फाइनल में उजबेकिस्तान की मावलुदा मोल्दोनोवा को 5-0 से हराया। - Dainik Bhaskar
दुबई में चल  रही एशियन बॉक्सिंग चैंपियनशिप में 75 किलो वेट में पूजा रानी ने फाइनल में उजबेकिस्तान की मावलुदा मोल्दोनोवा को 5-0 से हराया।

दुबई में चल रही एशियन बॉक्सिंग चैंपियनशिप में 75 किलो वेट में पूजा रानी ने लगातार दूसरा गोल्ड जीता। वहीं 6 बार की वर्ल्ड चैंपियन मैरीकॉम सहित तीन बॉक्सरों ने सिल्वर मेडल जीते। भारतीय महिला टीम को इस टूर्नामेंट में 10 मेडल मिले हैं। जिनमें एक गोल्ड, 3 सिल्वर और 6 ब्रॉन्ज मेडल शामिल है। मैरीकॉम के अलावा लालबुतसाही ने 64 किलो वेट में और अनुपमा ने 81 किलो से ऊपर वेट में सिल्वर मेडल जीते।

पूजा रानी ने टूर्नामेंट में चौथा मेडल जीता
महिलाओं में एक मात्र गोल्ड मेडल जीतने वाली पूजा रानी ने फाइनल में उज्बेकिस्तान की मावलुदा मोल्दोनोवा को 5-0 से हराया। पूजा इस टूर्नामेंट में फाइनल में ही अपना पहला मुकाबला खेला। इससे पहले उन्हें अन्य बाउट में बाई और वॉक ओवर मिला था।

पूजा इससे पहले भी 2019 में इस चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीत चुकी हैं। वहीं इस बार उन्होंने चार मेडल जीता है। 2015 में पूजा ने ब्रॉन्ज और 2012 में सिल्वर मेडल जीते थे।

पूजा रानी ने एशियन चैंपियनशिप में लगातार दूसरा गोल्ड मेडल जीता। इससे पहले 2019 में भी वह गोल्ड जीत चुकी हैं।
पूजा रानी ने एशियन चैंपियनशिप में लगातार दूसरा गोल्ड मेडल जीता। इससे पहले 2019 में भी वह गोल्ड जीत चुकी हैं।

लालबुतसाही ने पहले एशियन चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल जीता
लालबुतसाही को फाइनल में कजाखिस्तान की मिलाना साफरोनोवा ने 3-2 से हराया। लालबुतसाही 2019 वर्ल्ड पुलिस खेलों में गोल्ड मेडल जीत चुकी हैं। वहीं पहली बार एशियन चैंपियनशिप में देश का प्रतिनिधित्व किया। रविवार का अंतिम फाइनल मुकाबला +81 किग्रा कटेगरी में हुआ, जिसमें भारत की अनुपमा को कजाखिस्तान की लाज्जत कुंगाबेयेवा ने 3-2 से हराया।

मैरीकॉम ने टूर्नामेंट में दूसरा सिल्वर मेडल जीता
5 बार एशियन चैंपियनशिप में गोल्ड जीत चुकी मैरीकॉम का छठा गोल्ड जीतने का सपना पूरा नहीं हो सका। उन्हें फाइनल में दो बार की वर्ल्ड चैंपियन नाज़िम काज़ैबे ने 3-2 से हराया। मैरीकॉम ने एशियन चैंपियनशिप में सातवीं बार हिस्सा लेते हुए दूसरी बार सिल्वर मेडल जीता है। उनके नाम गोल्ड और दो सिल्वर मेडल हैं। मैरीकॉम और लैशराम सरिता देवी ने एशियाई चैंपियनशिप में पांच-पांच गोल्ड मेडल जीते हैं। उन्होंने 2003, 2005, 2010, 2012 और 2017 में गोल्ड मेडल जीता था, जबकि 2008 और इस साल सिल्वर मेडल जीता।

पुरस्कार राशि में की गई है बढ़ोतरी
इस साल की खास बात यह है कि चैंपियनशिप की पुरस्कार राशि में भारी इजाफा किया गया है। इंटरनेशनल बॉक्सिंग एसोसिएशन (एआईबीए) ने इस चैंपियनशिप के लिए 4,00,000 अमेरिकी डॉलर की पुरस्कार राशि आवंटित की है। पुरुषों और महिलाओं की श्रेणियों के गोल्ड मेडल विजेताओं को 10,000 अमेरिकी डॉलर से सम्मानित किया जा रहा है जबकि सिल्वर और ब्रॉन्ज मेडल विजेताओं को क्रमशः 5,000 अमेरिकी डॉलर और 2,500 अमेरिकी डॉलर का पुरस्कार दिया जा रहा है।

आठ भारतीय बॉक्सरों ने ब्रॉन्ज मेडल जीते
आठ भारतीय मुक्केबाज सिमरनजीत कौर (60 किग्रा), विकास कृष्ण (69 किग्रा), लवलीना बोरगोहेन (69 किग्रा), जैस्मीन (57 किग्रा), साक्षी चौधरी (64 किग्रा), मोनिका (48 किग्रा), स्वीटी (81 किग्रा) और वरिंदर सिंह (60 किग्रा) को सेमीफाइनल में हार का सामना करना पड़ा था। इन सबने देश के लिए ब्रॉन्ज मेडल हासिल किया।

भारत के अलावा 17 देश ले रहे हैं भाग
दुबई हो रहे एशियन बॉक्सिंग चैंपियनशिप में भारत, उज्बेकिस्तान, मंगोलिया, फिलीपींस और कजाखिस्तान सहित 17 देशों के 150 बॉक्सरों ने हिस्सा लिया।

खबरें और भी हैं...