• Hindi News
  • Sports
  • Shahid Afridi Update | Coronavirus Infected Shahid Afridi On Imran Khan Pakistan Government Ministers

अफरीदी का इमरान पर तंज / शाहिद अफरीदी ने कहा- इमरान खान की टीम में यूनिटी की कमी; मैं गरीबों की मदद कर रहा था, मंत्री छुट्टियां मना रहे थे

फोटो पिछले साल 13 सितंबर का है। तब शाहिद अफरीदी प्रधानमंत्री इमरान खान के साथ पीओके के मुजफ्फराबाद में एक रैली में शामिल हुए थे। इसके बाद से दोनों साथ नजर नहीं आए।
X

  • शाहिद अफरीदी पीओके और क्वेटा के कुछ हिस्सों में गरीबों को राशन बांटने गए थे, संक्रमित हुए
  • अफरीदी ने कहा- लोगों की मदद के लिए मुझे कुर्सी की जरूरत नहीं, ऊपरवाले को जवाब देना है

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 05:20 PM IST

खेल डेस्क. शाहिद अफरीदी ने इशारों में इमरान खान सरकार पर निशाना साधा। अफरीदी के मुताबिक, इमरान सरकार में एकता की कमी है और ये पूरा मुल्क देख रहा है। अफरीदी पिछले दिनों कोरोना संक्रमित हुए थे। अब ठीक हो चुके हैं। उन्होंने कहा- जब मैं देश के पिछड़े इलाकों में जाकर गरीबों की मदद कर रहा था, तब कुछ मंत्री और सांसद उसी इलाके में जाकर छुट्टियां मना रहे थे। 
पिछले साल तक अफरीदी अकसर इमरान के साथ नजर आते थे। लेकिन, अब यह सिलसिला थम चुका है। शाहिद अपने फाउंडेशन के जरिए गरीबों की मदद करते रहे हैं। 

कोरोना से खौफ खाने की जरूरत नहीं
शाहिद 13 जून को पॉजिटिव पाए गए थे। सोमवार को एक इंटरव्यू में उन्होंने कोरोना समेत कई मुद्दों पर बातचीत की। खुद के संक्रमित होने के सवाल पर कहा, “मैं जानता था कि मैं भी संक्रमित हो सकता हूं। और यही हुआ। अब मैं बिल्कुल ठीक हूं। मैंने क्वारैंटाइन नहीं किया। तीन दिन बाद कमरे से बाहर आ गया। ट्रेनिंग शुरू की। इस बीमारी में सोशल डिस्टेंसिंग बहुत जरूरी है। लेकिन, इसको सिर पर नहीं चढ़ाना चाहिए। ये भी ध्यान रहे कि लापरवाही न करें। रही बात स्मार्ट लॉकडाउन की तो यह मेरी समझ में नहीं आया।”

गरीबी और बेरोजगारी से कैसे निपटेंगे
एक सवाल के जवाब में इस पूर्व ऑलराउंडर ने कहा, “कोविड-19 बहुत छोटी चीज है। यह तो चली जाएगी। हमारे देश में सबसे बड़ी दिक्कत गरीबी और बेरोजगारी है। महामारी से तो हम निपट लेंगे। लेकिन, जरा सोचिए कि गरीबी और बेरोजगारी का क्या करेंगे। पॉश इलाकों में तो समझ दिखी। लेकिन, ज्यादातर लोगों और खासतौर पर गरीब बस्तियों में कोविड-19 को लेकर लोग जागरूक नहीं थे। मुझे लगता है कि हम जैसे लोग बहुत अच्छी जिंदगी गुजार रहे हैं।”

छुट्टियां मना रहे थे मिनिस्टर्स
शाहिद ने सरकार से जुड़े मामलों पर भी बात की। कहा, “सरकार अहसास प्रोग्राम चला रही है। लेकिन, लोगों को राशन पानी नहीं मिला। मैं क्वेटा के आसपास के इलाकों में लोगों की मदद के लिए गया। राशन बांटा। लेकिन, यह कहते हुए अफसोस होता है कि हमारे यहां ऐसे भी मिनिस्टर्स और सांसद हैं जो वहां छुट्टियां मनाने गए। उन्हें रास्तों में मिलने वाले इन गरीबों की तकलीफ का अहसास नहीं था। भूखे बच्चे नंगे पैर घूम रहे थे।”

कुर्सी की जरूरत नहीं
इमरान सरकार पर निशाना साधते हुए अफरीदी ने कहा, “हमारे नेताओं को ऊपर वाले ने कुर्सी और ताकत दी। ये लोग गरीबों की मदद क्यों नहीं करते। मेरे पास तो कुर्सी नहीं है। बस, अच्छी नियत जरूरी है। अब इन लोगों को ऊपर वाले को और यहां भी जवाब देना होगा। एनजीओ सिर्फ मीडिया में नजर आने के लिए शहरों में काम करते हैं। मुझे कुर्सी नहीं चाहिए। मैं फिलहाल सियासत में नहीं आना चाहता। इमरान खान की टीम में यूनिटी की कमी है। ये पूरा मुल्क देख रहा है। प्रधानमंत्री के पास बहुत बड़ा मौका है।”

क्रिकेट से जुड़ी ये खबरें भी आप पढ़ सकते हैं...
1. पीओके का दौरा करने के बाद अफरीदी का टेस्ट पॉजिटिव, कहा- मेरे पूरे शरीर में दर्द, मुझे दुआओं की जरूरत

2. पूर्व ऑफ स्पिनर सईद अजमल ने कहा- पाकिस्तान का इंग्लैंड में जीतना बेहद मुश्किल, बिना दर्शकों के क्रिकेट गूंगी और बहरी

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना