फुटबॉल वर्ल्ड कप...बेल्जियम की रोमांचक जीत:कनाडा को 1-0 से हराया, बतशुआई ने दागा गोल

12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
36वें मिनट में आया मैच का पहला गोल। यही आखिरी गोल भी साबित हुआ। - Dainik Bhaskar
36वें मिनट में आया मैच का पहला गोल। यही आखिरी गोल भी साबित हुआ।

बेल्जियम ने कतर में चल रहे फुटबॉल वर्ल्ड कप में रोमांचक जीत से शुरुआत की है। उसने ग्रुप एफ के मुकाबले में कनाडा को 1-0 से हराया। बेल्जियम की ओर से विजयी गोल मिची बतशुआई ने दागा। बेल्जियम का अगला मुकाबला रविवार को मोरेक्को के साथ होगा।

इस जीत से टीम ग्रुप एफ के टॉप पर पहुंच गई है। उसके तीन अंक हो गए हैं। इस ग्रुप का एक अन्य मुकाबला मोरेक्को और क्रोएशिया के बीच ड्रॉ हो गया था। ऐसे में दोनों के पास एक-एक अंक हैं। वहीं, कनाडा एक हार के साथ सबसे निचले पायदान पर है। हर ग्रुप से टॉप-2 टीमें नॉकआउट स्टेज के लिए क्वालिफाई करेंगी।

आगे पढ़िए मैच रिपोर्ट...उससे पहले देखते चलिए हैं मुकाबले के कुछ रोमांचक फोटो

कनाडा के गोलकीपर अल्फोंसो देव ने शानदार गोलकीपरिंग की। लेकिन वे एक दफा चूक गए। मैच की शुरुआत में पेनल्टी रोकते हुए।
कनाडा के गोलकीपर अल्फोंसो देव ने शानदार गोलकीपरिंग की। लेकिन वे एक दफा चूक गए। मैच की शुरुआत में पेनल्टी रोकते हुए।
मिची बतशुआई मुकाबले के इकलौते गोल स्कोरर। उन्होंने बेल्जियम को 1-0 की बढ़त दिलाई।
मिची बतशुआई मुकाबले के इकलौते गोल स्कोरर। उन्होंने बेल्जियम को 1-0 की बढ़त दिलाई।
कनाडा के स्टीफन यूस्ताकियो मुकाबले में रेफरी के एक फैसले पर रिएक्ट करते हुए।
कनाडा के स्टीफन यूस्ताकियो मुकाबले में रेफरी के एक फैसले पर रिएक्ट करते हुए।

बेल्जियम ने लगातार तीसरे वर्ल्ड कप में पहला मैच जीता
बेल्जियम ने लगातार तीसरे वर्ल्ड कप में अपना पहला मैच जीता है। वे पिछले आठ वर्ल्ड कप से ग्रुप स्टेज के मैच जीत रहा है। 2014 वर्ल्ड कप के बाद बेल्जियम ने 13 मैचों में 11 जीत दर्ज की है।

कनाडा ज्यादा आक्रामक दिखी
मुकाबले में दोनों टीमों ने आक्रामक खेल दिखा। उनके खिलाड़ी शुरुआत से बढ़त बनाने का प्रयास करते रहे। लेकिन, सफलता बेल्जियम को 36वें मिनट में मिली। उसके बाद कनाडा ने वापसी के कई प्रयास किए। लेकिन वे सफल नहीं हो सके। हॉफ टाइम तक स्कोर लाइन 1-0 थी।

सेंटर से लॉन्ग पास और गोल
बतशुआई ने यह गोल 36वें मिनट में एक लॉन्ग पास की बदौलत किया। दरअसल, बॉल कनाडा के पाले में थी। कनाडाई खिलाड़ी आक्रमण पर थे। जिसे बेल्जियम के गोलकीपर थिबाउट कोर्टियस ने विफल कर दिया। इस आक्रमण के तुरंत बाद बेल्जियम के सेंटर बैक टॉबी एल्डरविरेल्ड ने सेंटर से लॉन्ग पास किया। जिस पर बतशुआई ने शानदार गोल दाग। इस गोल ने बेल्जियम को अजेय बढ़त दिलाई।

बिना गोल किए सबसे ज्यादा मैच खेले
कनाडा ने बिना गोल किए चौथा मुकाबला गंवाया है। उसने वर्ल्ड कप में चार मुकाबले खेले हैं और कोई गोल स्कोर नहीं किया है। ऐसा करने वाला वह पहला देश बना है।