• Hindi News
  • Sports
  • Fans Will Be Allowed At The 2020 French Open Despite The Growing Number Of COVID 19 Cases In France

दर्शकों की मौजूदगी में फ्रेंच ओपन:27 सितंबर से फ्रेंच ओपन शुरू होगा, हर पांचवें दिन खिलाड़ियों का टेस्ट होगा; पहले राउंड में हारने वाले खिलाड़ी को भी 52 लाख रु. मिलेंगे

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
स्पेन के राफेल नडाल ने पिछले साल फ्रेंच ओपन का खिताब जीता था। उन्होंने फाइनल में ऑस्ट्रिया के डोमिनिक थिएम को हराकर 12वां खिताब जीता था। -फाइल - Dainik Bhaskar
स्पेन के राफेल नडाल ने पिछले साल फ्रेंच ओपन का खिताब जीता था। उन्होंने फाइनल में ऑस्ट्रिया के डोमिनिक थिएम को हराकर 12वां खिताब जीता था। -फाइल
  • फ्रेंच टेनिस फेडरेशन के प्लान के मुताबिक, स्टेडियम में रोजाना 20 हजार दर्शकों को एंट्री दी जाएगी
  • टूर्नामेंट से जुड़े हर व्यक्ति का बायो सिक्योर बबल में आने से पहले कोरोना टेस्ट होगा, निगेटिव आने के बाद उसे एंट्री मिलेगी

फ्रांस में कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों के बावजूद इस महीने के आखिर में शुरू होने वाले फ्रेंच ओपन में दर्शकों को स्टेडियम में आने की इजाजत रहेगी। टूर्नामेंट के ऑर्गेनाइजर्स ने सोमवार को यह जानकारी दी। ऑर्गेनाइजर्स ने क्ले कोर्ट के इस इकलौते ग्रैंड स्लैम के लिए हेल्थ प्रोटोकॉल भी जारी किए। इसके तहत खिलाड़ियों का हर पांचवें दिन कोरोना टेस्ट होगा।

इस बार फर्स्ट राउंड में हारने वाले प्लेयर्स के लिए पिछले साल के मुकाबले प्राइज मनी 30% बढ़ा दी गई। अब हर खिलाड़ी को 71 हजार डॉलर (52 लाख रुपए) मिलेंगे।

कोरोना के कारण फ्रेंच ओपन को 4 महीने के लिए टाला गया

यह टूर्नामेंट हर साल मई में खेला जाता है, लेकिन कोरोनावायरस के कारण इसे 4 महीने के लिए टाल दिया गया था। अब यह 27 सितंबर से खेला जाएगा।

स्टेडियम में रोज 20 हजार दर्शक आ सकेंगे

फ्रेंच टेनिस फेडरेशन के अध्यक्ष बर्नार्ड जियूडिसेल्ली ने कहा कि यह टेनिस की बहाली के बाद पहला टूर्नामेंट होगा, जिसमें दर्शक मौजूद होंगे। सरकार की नई गाइडलाइन के मुताबिक, पेरिस जैसे शहर में किसी भी तरह के स्पोर्ट्स, कल्चरल इवेंट में 5 हजार दर्शक मौजूद रह सकते हैं। फेडरेशन ने इसी हिसाब से फ्रेंच ओपन के लिए प्लान तैयार किया है।

स्टेडियम को तीन जोन में बांटा जाएगा

फेडरेशन स्टेडियम की कैपेसिटी के 50 से 60 फीसदी यानी रोजाना 20 हजार दर्शकों की अगवानी करना चाहता है। स्टेडियम को तीन जोन में बांटा जाएगा और दर्शक भी उस हिसाब से बटेंगे।

खिलाड़ियों का हर पांचवें दिन कोरोना टेस्ट होगा

ऑर्गेनाइजर्स ने कहा कि सभी खिलाड़ियों की कोरोना जांच कराई जाएगी और रिपोर्ट निगेटिव आने पर ही वे खेल सकेंगे। उनकी 72 घंटे के भीतर दोबारा जांच होगी और हर पांचवें दिन कोरोना टेस्ट होगा। खिलाड़ियों को दो होटलों में ठहराया जाएगा। स्टेडियम में आने वाले व्यक्ति को मास्क पहनना जरूरी होगा। टूर्नामेंट से जुड़े हर व्यक्ति का बायो सिक्योर बबल में आने से पहले कोरोनावायरस टेस्ट होगा, निगेटिव आने के बाद ही उसे एंट्री मिलेगी।

फर्स्ट राउंड की प्राइज मनी में इजाफा

ऑर्गेनाइजर्स ने आर्थिक तंगी झेल रहे खिलाड़ियों के साथ एकजुटता दिखाने के लिए इस बार पहले दौर की प्राइज मनी में 30 फीसदी का इजाफा किया है। इस बार टूर्नामेंट के फर्स्ट राउंड में हारने वाले खिलाड़ी को भी 71 हजार अमेरिकी डॉलर (करीब 52 लाख रुपए) मिलेंगे।

वहीं, क्वालिफाई करने वाले खिलाड़ियों को भी पिछले साल के मुकाबले 27 फीसदी ज्यादा प्राइज मनी मिलेगी। क्वालिफिकेशन के पहले राउंड में हारने वाले प्लेयर्स को 11 हजार 800 अमेरिकी डॉलर (8.67 लाख रुपए) मिलेंगे।

राफेल नडाल डिफेंडिंग चैम्पियन हैं

पिछले साल स्पेन के राफेल नडाल ने मेंस कैटेगरी में फ्रेंच ओपन जीता था। उन्होंने फाइनल में डोमिनिक थिएम को हराया था। यह उनका 12वां खिताब था। महिला कैटेगरी में मौजूदा वर्ल्ड नंबर-1 ऑस्ट्रेलिया की एश्ले बार्टी ने अपना पहला ग्रैंड स्लैम जीता था। उन्होंने फाइनल में चेक गणराज्य की 19 साल की खिलाड़ी मार्केटा वोंद्रोसोवा को शिकस्त दी थी। हालांकि, बार्टी इस साल कोरोना के कारण फ्रेंच ओपन नहीं खेलेंगी।

फ्रांस में 30 हजार कोरोना केस

फ्रांस में कोरोनावायरस से 30 हजार से अधिक मौतें हो चुकी हैं और बीते शुक्रवार को संक्रमण के आठ हजार मामले दर्ज हुए थे।

खबरें और भी हैं...