• Hindi News
  • Sports
  • Qatar Open World Number 42 Nicolos Basilashvili Captured The Title By Defeating 2019 Winner Roberto Batista After Defeating Roger Federer

कतर ओपन:वर्ल्ड नंबर-42 निकोलस ने पूर्व चैम्पियन बोतिस्ता को हराकर खिताब जीता, क्वार्टर फाइनल में फेडरर को हराया था

कतर2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
वर्ल्ड नंबर 42 जॉर्जियाई खिलाड़ी निकोलस बासिलाश्विली ने चौथा एटीपी खिताब जीता है। उन्होंने कतर ओपन के फाइनल में स्पेन के वर्ल्ड नंबर-13 रॉबर्तो बोतिस्ता एगुट को हराया। - Dainik Bhaskar
वर्ल्ड नंबर 42 जॉर्जियाई खिलाड़ी निकोलस बासिलाश्विली ने चौथा एटीपी खिताब जीता है। उन्होंने कतर ओपन के फाइनल में स्पेन के वर्ल्ड नंबर-13 रॉबर्तो बोतिस्ता एगुट को हराया।

वर्ल्ड नंबर-42 जॉर्जियाई खिलाड़ी निकोलस बासिलाश्विली ने कतर ओपन का खिताब जीत लिया है। उन्होंने फाइनल में 2019 के विजेता वर्ल्ड नंबर -13 पर काबिज स्पेन के रॉबर्तो बोतिस्ता एगुट 7-6, 6-2 से हराया।

90 मिनट तक चले इस मैच में निकोलस ने दूसरे सेट में 2 ब्रेक पॉइंट मिले। निकोलस का यह चौथा ATP खिताब है। हार के बाद बोतिस्ता ने कहा,'मैं अगले साल एक बार फिर खिताब जीतने का प्रयास करूंगा।'

निकोलस ने क्वार्टर फाइनल में फेडरर को हराया था
निकोलस ने क्वार्टर फाइनल रोजर फेडरर को 3-6, 6-1, 7-5 हराया। वहीं सेमीफाइनल में अमेरिका केटेलर फ्रिट्ज को 7-6 , 6-1 से हराया। फेडरर 13 महीने बाद कोर्ट पर वापसी की थी। उन्होंने अपने पहले मैच में ब्रिटेन के डेनिल एवांस को 7-6, 3-6, 7-5 से शिकस्त दी थी।

39 साल के फेडरर घुटने में दो सर्जरी की वजह से एक साल से टेनिस नहीं खेल रहे थे। उन्होंने आखिरी बार 2020 ऑस्ट्रेलियन ओपन खेला था।

3 बार कतर ओपन टूर्नामेंट जीत चुके हैं फेडरर
फेडरर 3 बार कतर ओपन टूर्नामेंट जीत चुके हैं। इस टूर्नामेंट में उन्होंने अब तक कुल 30 मैच खेले हैं। इसमें से 27 में उन्हें जीत और 3 में हार मिली।

रॉबर्तो ने सेमीफाइनल में रूस के आंद्रे रुबलेव को हराया
रॉबर्तो ने सेमीफाइनल में रूस के आंद्रे रुबलेव को 6-3, 6-3 से हराया था। रुबलेव रोटरडम में हुए एबीएन एमरो विश्व टेनिस टूर्नामेंट के विजेता थे। वे कतर ओपन में लगातार दूसरा खिताब जीतने के लिए उतरे थे।

रुबलेव इस टूर्नामेंट के पुरूष एकल में एक बाई और दो वाकओवर मिला जिससे वह सीधे सेमीफाइनल मुकाबले के लिए मैदान पर उतरे। उन्होंने आठ ऐस लगाये लेकिन एगुट ने चार बार उनकी सर्विस तोड़ कर जीतने में सफल हुए।

खबरें और भी हैं...