ऑस्ट्रेलियन ओपन फाइनल में सानिया-बोपन्ना की जोड़ी:करियर का आखिरी ग्रैंड स्लैम जीतने उतरेंगी सानिया मिर्जा

मेलबर्न9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

आखिरी ग्रैंड स्लैम खेली रहीं भारतीय स्टार सानिया मिर्जा और रोहन बोपन्ना की जोड़ी ने ऑस्ट्रेलियन ओपन की मिक्स्ड कैटेगरी के फाइनल में प्रवेश कर लिया है।

मेलबर्न में बुधवार को खेले गए सेमीफाइनल मुकाबले के तीसरे सेट से ब्रिटेन के नील स्कूपस्की और अमेरिकी की डेसिरै क्रॉक्जिक की जोड़ी हट गई। ऐसे में भारतीय जोड़ी को विजेता घोषित कर दिया गया। जब तीसरी सीड जाेड़ी हटी तब मुकाबला एक-एक की बराबरी पर था। इस मैच का पहला सेट भारतीय जोड़ी ने 7-6 से जीता। उसके बाद ब्रिटिश-अमेरिकी जोड़ी ने दूसरा सेट 7-6 से अपने नाम कर मुकाबले को रोमांचक बना दिया। भारतीय खिलाड़ी आखिरी सेट के दस गेम जीत चुके थे। कॉम्प्टीटर के हिस्से 6 गेम की जीत आई थी।

इस भारतीय जोड़ी ने 6 साल पहले 2017 में फ्रेंच ओपन का मिक्स्ड डबल्स खिताब जीता था। साल के पहले ग्रैंड स्लैम की बात करें तो ऑस्ट्रेलियन ओपन में मिर्जा महेश भूपति के साथ 2009 में चैंपियन बनी थीं।

क्वार्टर फाइनल मुकाबले में मिला वॉकओवर
सानिया मिर्जा और रोहन बोपन्ना की भारतीय जोड़ी को क्वार्टर फाइनल मुकाबले में स्पेन के वेगा हर्नांडेज और लाटविया के जेनेना ओस्तापेंको ​​​​​ने वॉकओवर दिया था। इस जोड़ी ने प्री क्वार्टरफाइनल मुकाबले में उरुग्वे के एरियल बेहर और माकोटो निनोमिया की जोड़ी 6-4 7-6 से हरा कर टॉप-8 में जगह बनाई थी।

विमेंस डबल्स में गैरवरीय जोड़ी से हारीं
सानिया मिर्जा अपनी जोड़ीदार एना डानिलिना के साथ विमेंस डबल्स के दूसरे दौर में उलटफेर का शिकार हुई। भारत-कजाख की 8वीं सीड जोड़ी को बेल्जियम की एलिसन वान उइतवैंक और यूक्रेन की एनहेलिना कलिनिना की गैरवरीय जोड़ी ने 4-6, 6-4, 2-6 से हराया। यह मुकाबला करीब 2 घंटे तक चला।

रायबकिना विमेंस सिंगल्स के टॉप-4 में
एलिना रायबकिना ने विमेंस सिंगल्स के सेमीफाइनल में जगह पक्की कर ली हैं। वे पहली बार साल के पहले ग्रैंड स्लैम के टॉप-4 में पहुंची हैं। रायबकिना पिछले साल के दूसरे राउंड से हार का बाहर हो गई थीं।

23 साल की रायबकिना ने लातविया की येलेना ओस्टापेंको को लगातार सेट में 6-2, 6-4 से हराया। अब उनका सामना 24वीं सीड विक्टोरिया अजारेंका से होगा। टॉप सीड ईगा स्वातेक और दूसरी सीड ओंस जुबेर पहले ही बाहर हो चुकी हैं।

सितसिपास लगातार तीसरी बार सेमीफाइनल में
स्टीफानोस सितसिपास ने लगातार तीसरी बार ऑस्ट्रेलियन ओपन के सेमीफाइनल में प्रवेश किया है। वे रोजर फेडरर (2004 से 2006 तक) के बाद ऑस्ट्रेलियन ओपन में लगातार तीन बार सेमीफाइनल में पहुंचने वाले सबसे कम उम्र के पुरुष खिलाड़ी बन गए हैं। मेंस सिंगल्स के क्वार्टर फाइनल में तीसरी सीड सितसिपास ने चेक रिपब्लिक के जिरी लेहेका को लगातार तीन सेट में 6-3, 7-6, 6-4 से मात दी। अब उनका सामना कारेन खचानोव से होगा। वहीं, कारेन ने सेबेस्टियन कोर्डा को 7-6, 6-3, 3-0(रिटायर्ड हर्ट) से हराया।